• Home
  • Haryana News
  • Ladwa
  • फर्जी डॉक्टर बने बैंड मास्टर को कोर्ट ने भेज दिया जेल
--Advertisement--

फर्जी डॉक्टर बने बैंड मास्टर को कोर्ट ने भेज दिया जेल

गांव घड़ौला में फर्जी डॉक्टर बन कर पहुंचे बैंड मास्टर को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत...

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 02:45 AM IST
गांव घड़ौला में फर्जी डॉक्टर बन कर पहुंचे बैंड मास्टर को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

पुलिस ने प्रारंभिक तौर पर पूछताछ की थी। इसमें ऐसा कोई और मामला सामने नहीं आया। पुलिस को उक्त आरोपी ने यही बताया कि वह पहली बार ही घड़ौला में आया था। बता दें कि फर्जी डॉक्टर बनकर पहुंचे मखाला वासी राम फल को गत मंगलवार को ग्रामीणों ने पकड़ा था। ग्रामीणों का आरोप है कि रामफल (50) क्षेत्र के गांवों में कभी बिजली मैकेनिक तो कभी ग्राम सचिव व कभी डॉक्टर बनकर घूम रहा है। शक है कि वह लोगों से ठगी करता है। इसी बीच घड़ौला की एक गर्भवती ने बताया कि एक जुलाई को रामफल उसके घर बाइक से पहुंचा। उनसे कहा कि वह बड़ा डॉक्टर है और कुरुक्षेत्र से आया है। उसके स्वास्थ्य की जांच करनी है। विश्वास कर वे जांच को तैयार हो गई। उसकी जेठानी के सामने ही उसका फिंगर टेस्ट किया। बाद में जब उसने आशा वर्कर को बताया तो पता चला कि ऐसा कोई प्रावधान नहीं है कि कोई डॉक्टर खुद चेकअप करने पहुंचता हो। इसके बाद आशा वर्करों व एएनएम ने भी मीटिंग कर चर्चा की। बताया जाता है कि तभी से घड़ौला के युवा उसकी तलाश में थे। गत दस जुलाई को जब वह बाइक पर गांव पहुंचा तो युवकों ने उसे पकड़ लिया। पुलिस ने उसके खिलाफ दुष्कर्म के आरोप में केस दर्ज किया है। एसएचओ सुरेंद्र कुमार के मुताबिक उससे कोई रिकवरी नहीं करनी थी। लिहाजा कोर्ट से रिमांड की डिमांड नहीं की। जिस पर अदालत ने उसे न्यायिक हिरासत में भेजा है। हालांकि पुलिस जांच कर रही है। यदि कोई और मामला सामने आता है तो उक्त केस में उसे शामिल किया जाएगा।