Hindi News »Haryana »Ladwa» सोशल साइट पर टिप्पणी, नाराज विधायक ने किया था बीएलए-2 को फोन, ऑडियो वायरल

सोशल साइट पर टिप्पणी, नाराज विधायक ने किया था बीएलए-2 को फोन, ऑडियो वायरल

विधायक डॉ. पवन सैनी से संबंधित एक और ऑडियो वायरल हो गया। इस बार विधायक व पार्टी के कार्यकर्ता के बीच फोन पर बहस का...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 04, 2018, 03:15 AM IST

विधायक डॉ. पवन सैनी से संबंधित एक और ऑडियो वायरल हो गया। इस बार विधायक व पार्टी के कार्यकर्ता के बीच फोन पर बहस का ऑडियो क्षेत्र में चर्चित है। ऑडियो में जहां कार्यकर्ता अनदेखी का आरोप लगा रहा है। वहीं विधायक जानबूझ कर सोशल मीडिया पर गलत प्रचार करने का आरोप लगा रहे हैं। बताया जाता है कि दूसरी तरफ सुनारियो वासी बीएलए टू कार्यकर्ता परीक्षित मांजू है।

सोशल साइट पर टिप्पणी से खफा : परीक्षित ने सोशल साइट पर विधायक को लेकर कई टिप्पणी की थी। इनमें विधायक पर पार्टी के पुराने कार्यकर्ताओं की अनदेखी करने का आरोप लगाया, साथ में एक पार्टी कार्यकर्ता पार्टी के लिए बदहाल हो गया।

उसकी सुध लेने की बजाए विधायक व साथी मजाक उड़ा रहे हैं। इसका पता चलने पर विधायक भी खफा होकर परीक्षित से पूछने के लिए विधायक ने फोन किया था। बातचीत जल्द ही बहस में भी बदल गई। ऑडियो में शुरू में तो विधायक व परीक्षित के बीच मान-सम्मान को लेकर बात चलती है। विधायक सफाई देते हुए पूछते कि कब किसका नहीं उन्होंने मान सम्मान किया। इसे लेकर नोक झोंक बढ़ती गई। गुस्से में विधायक ने यह कहा कि यदि दोबारा अनाप शनाप लिख कर दिखाना। हालांकि बाद में संभल भी गए।

आवाज उठाने पर धमकाया : सुनारियो के बूथ नंबर 18 बीएलए-2 व भाजपा युवा मोर्चा के पूर्व उपाध्यक्ष परीक्षित ने माना कि बातचीत उन दोनों के बीच की है। उन्होंने कहा कि फेसबुक पर हलके में विकास कार्यों को लेकर पोस्ट डाली थी। इससे ही विधायक नाराज हो गए। सुनारियो में विकास कार्य विधायक ने नहीं कराया। आरोप लगाया कि फोन पर फेसबुक को लेकर विधायक ने धमकाया। दोबारा लिखकर देखना जैसी धमकी दी।

पहले भी तीन ऑडियो चर्चा में

बता दें कि विधायक से संबंधित तीन ऑडियो इससे पहले भी चर्चा में आ चुके हैं। अब यह चौथा है। इसमें खुद विधायक व कार्यकर्ता के बीच बहस हो रही है। पहले विधायक के एक नजदीकी कार्यकर्ता व ब्लॉक समिति महिला सदस्य के पति के बीच नौकरी को लेकर बातचीत चर्चा में रही थी। दूसरे में विधायक के नजदीकी कार्यकर्ता व उनके पीए द्वारा नौकरियां लगवाने संबंधित मामला चर्चा में रहा। वहीं लाडवा नपा में कार्यरत रहे एक कंप्यूटर आपरेटर का विधायक पर नौकरी से हटवाने के आरोप लगाते हुए ऑडियो वायरल हुआ था।

गलत आरोप: विकास के मामले में कोई अंगुली नहीं उठा सकता

वहीं विधायक डॉ. पवन सैनी का कहना है कि फोन पर परीक्षित को धमकाने जैसे आरोप गलत हैं। कुछ लोग सोशल मीडिया पर अनाप शनाप लिख कर गलत प्रचार करते हैं। जबकि हकीकत अलग है। यह मात्र उनकी छवि खराब करने की साजिश है। परीक्षित से उन्होंने इसी बाबत बातचीत की थी। विकास कार्यों में कोई उन पर अंगुली नहीं उठा सकता। वे पार्टी के हर छोटे बड़े कार्यकर्ता को साथ लेकर चलते हैं। पहले भी उनसे संबंधित बेवजह ऑडियो जानबूझ कर वायरल किए गए। वह भी उन्हें बदनाम करने की शरारत थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ladwa

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×