• Home
  • Haryana News
  • Ladwa
  • महिलाओं का संघर्ष हमेशा सराहनीय : डॉ. दहिया
--Advertisement--

महिलाओं का संघर्ष हमेशा सराहनीय : डॉ. दहिया

अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन महिला विंग की ओर से शहर के अठवाडिय़ों वाले मंदिर में आयोजित सात दिवसीय भागवत कथा में...

Danik Bhaskar | Jun 13, 2018, 03:35 AM IST
अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन महिला विंग की ओर से शहर के अठवाडिय़ों वाले मंदिर में आयोजित सात दिवसीय भागवत कथा में मंगलवार को मुख्यातिथि डॉ. संतोष दहिया रही। डॉ. दहिया ने कहा कि महिलाओं का संघर्ष हमेशा सराहनीय रहा है, लेकिन वर्तमान में सामाजिक कुरीतियों ने हर घर और हर इंसान को अपनी चपेट में ले लिया है। उन्होंने कहा कि महिलाओं में वह क्षमता है जिसके कारण वे बड़ी से बड़ी विपत्तियों को दूर करने में भी सक्षम हैं। उन्होंने कहा कि इंसान की उत्पत्ति करने वाली महिला अगर ठान ले तो वह सामाजिक कुरीतियों को दूर करने में भी अहम रोल अदा कर सकती है। डॉ. संतोष दहिया ने कहा कि बच्चे के जीवन में मां का अहम रोल होता है। अगर मां ने अपने बच्चे की परवरिश सही तरीके से की है तो कोई भी उस बच्चे से किसी भी तरह का गलत काम नहीं करवा सकता। रितंबरा ने भागवत कथा का पाठ किया।

इस अवसर पर प्रदेश महासचिव संतोष गुप्ता, कमलेश बंसल, भावना गोयल, रेखा गर्ग, वर्षा गर्ग, स्वीटी गुप्ता, कृष्णा गोयल, शशि बाला, संजय गर्ग, शारदा गर्ग, शोभा बंसल, उर्वशी गुप्ता, बंसल मंजू, रुचि चौधरी, सुदेश, राखी, नेहा, कीर्ति गोयल और अरुणा मौजूद थी।