• Hindi News
  • Haryana
  • Mandi Dabwali
  • होर्डिंग नया लगाया पर स्वच्छता सर्वेक्षण टीम काम बीच में छोड़कर लौटी
--Advertisement--

होर्डिंग नया लगाया पर स्वच्छता सर्वेक्षण टीम काम बीच में छोड़कर लौटी

Mandi Dabwali News - स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 स्वच्छतासर्वेक्षण 2018 के तहत शहर के विभिन्न जगहों पर नगर परिषद की ओर से लगाए गए होर्डिंग्स में...

Dainik Bhaskar

Jan 09, 2018, 02:30 AM IST
होर्डिंग नया लगाया पर स्वच्छता सर्वेक्षण टीम काम बीच में छोड़कर लौटी
स्वच्छ सर्वेक्षण 2018

स्वच्छतासर्वेक्षण 2018 के तहत शहर के विभिन्न जगहों पर नगर परिषद की ओर से लगाए गए होर्डिंग्स में अंबेडकर चौक में अग्रसेन पार्क के पास जिस होर्डिंग को कुछ शरारती तत्वों ने फाड़ दिया था, उसकी जगह नया होर्डिंग लगा दिया गया है। लेकिन इस बीच शहर में किया जा रहा स्वच्छता सर्वेक्षण फिलहाल ठिठक गया है। सर्वेक्षण करने वाली टीम यकायक एकबारगी वापस चली गई है। हैरत की बात तो यह है कि टीम सदस्यों ने वापस जाने की बात नप प्रशासन के किसी भी अधिकारी को बताने की भी जरूरत नहीं समझी।

सोमवार को नगर परिषद के संबंधित अधिकारी कर्मचारी स्वच्छता सर्वेक्षण टीम के आने का इंतजार करते रहे। लेकिन जब टीम का कोई भी सदस्य नहीं आया तो अधिकारी और कर्मचारी भी परेशान हो गए। बाद में नोडल अधिकारी सफाई निरीक्षक अनिल नैन ने टीम की सीनियर सर्वेयर मंजू से बात की तो मंजू ने जवाब दिया कि ‘स्वच्छता सर्वेक्षण से संबंधित डाक्यूमेंटेशन का जो काम था उसे पूरा कर लिया गया है। मेरी ड्यूटी सर्वे करने वाली कंपनी के प्रभारी ने मंडी डबवाली में लगाई है और वहां 10 जनवरी से सर्व शुरू किया जाएगा। सिरसा में सर्वे करने का जिम्मा कंपनी ने टीम की सदस्या पूनम को दिया था। अब उसकी ड्यूटी दादरी लगाई गई है। उसकी जगह पर किसी अन्य की नियुक्त सिरसा की जाएगी। नियुक्ति के बाद सर्वे पूरा किया जाएगा।’

टीमसदस्यों की योग्यता पर भी उठे सवाल

स्वच्छतासर्वेक्षण टीम जो सिरसा शहर में डोर-टू-डोर जाकर नागरिक फीडबैक ले रही थी वह टीम भी फीडबैक लेने में सक्षम साबित नहीं हो रही थी। इसलिए टीम सदस्यों पर सवालिया निशान भी लगने शुरू हो गए। दरअसल, टीम का नेतृत्व कर रही पूनम और उसके साथ दो अन्य महिला सदस्याओं को स्वच्छता सर्वेक्षण के मानदंडों नियमों के बारे में पूरी तरह से तो ट्रेनिंग दी हुई थी और ही उनको एंड्रायड मोबाइल के जरिए ऑनलाइन फीडबैक देने की पर्याप्त जानकारी थी। उनका मोबाइल भी सही तरह से काम नहीं कर पा रहा था। इन कमियों को नगर परिषद के संबंधित अधिकारियों ने भी महसूस किया। हालांकि टीम ने स्वच्छता सर्वेक्षण से संबंधित 200 नागरिकों का फीडबैक लेने का काम दो दिनों में पूरा तो कर लिया लेकिन सवाल यह है कि क्या वह फीडबैक सही तरीके से लिया गया या नहीं ? अगर सही तरीके से फीडबैक नहीं लिया गया तो यह सर्वेक्षण की महज औपचारिकता ही साबित होगी।

रिपोर्ट तैयार कर पुलिस में शिकायत देंगे

^स्वच्छतासंबंधी फाड़े गए और चुराए गए होर्डिंग्स के बारे में रिपोर्ट तैयार करा रहे हैं। जल्द ही पुलिस में इस बारे में शिकायत दर्ज कराई जाएगी।''} अनिलनैन, नोडल अधिकारी, नगर परिषद, सिरसा

स्वच्छता संबंधी होर्डिंग को कौन शरारती तत्व फाड़ गया और कौन उनको उठा कर ले गया, इस बारे में भी नगर परिषद प्रशासन मालूम नहीं कर सका है। हालांकि, इस बारे में नगर परिषद के ईओ विरेंद्र सहारण और नोडल अधिकारी अनिल नैन ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराने की बात भी कही थी और सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी खंगालने की बात कही थी। लेकिन यह काम भी नप प्रशासन अभी तक नहीं करा सका है।

सिरसा। अग्रसेन पार्क के पासे फाड़े गए होर्डिंग की जगह लगाया गया नया होर्डिंग।

X
होर्डिंग नया लगाया पर स्वच्छता सर्वेक्षण टीम काम बीच में छोड़कर लौटी
Astrology

Recommended

Click to listen..