• Home
  • Haryana News
  • Mewat
  • मेवात विकास बोर्ड ने साल 2017-18 में शिक्षा पर खर्च किए 22 करोड़ रुपए
--Advertisement--

मेवात विकास बोर्ड ने साल 2017-18 में शिक्षा पर खर्च किए 22 करोड़ रुपए

जिले में मेवात विकास बोर्ड द्वारा सबसे ज्यादा वर्ष 2017-18 में 22 करोड़ रुपए शिक्षा पर खर्च किया गया है। सरकार द्वारा...

Danik Bhaskar | Mar 20, 2018, 02:05 AM IST
जिले में मेवात विकास बोर्ड द्वारा सबसे ज्यादा वर्ष 2017-18 में 22 करोड़ रुपए शिक्षा पर खर्च किया गया है। सरकार द्वारा एमडीबी को दिए गए बजट को मेवात के विकास पर पूरी तरह खर्च किया गया है। जिले के विकास को पंख लगाने के लिए मेवात विकास बोर्ड लगभग पिछले 4 दशक से काम कर रहा है। इस बोर्ड को सरकार हर साल अलग से बजट एलॉट करती है। इस वर्ष प्रदेश सरकार ने कुल 34 करोड़ रुपए की राशि बोर्ड को एलॉट की थी हालांकि पूर्व के वर्षों के मुकाबले इस वर्ष सरकार द्वारा एलॉट की गई राशि कम थी। एमडीबी को मिली राशि अनुसार सबसे ज्यादा क़्वालिटी एजुकेशन पर 2200 लाख, स्वास्थ्य पर 100, कम्युनिटी वर्क पर 230 लाख, पशुपालन पर 20 लाख, औद्योगिक प्रशिक्षण पर 180 लाख, संस्कृति विकास पर 7 लाख, सामाजिक विकास पर 93.25 लाख, खेल पर 20 लाख, योजना मैनेजमेंट पर 223 लाख रुपये की राशि खर्च की गई है।

जिले के विकास में मेवात विकास बोर्ड का अहम भूमिका है। इसलिए सरकार द्वारा एलॉट किये जाने वाले एमडीबी के बजट पर पूरी मेवात के लोगों की नजर रहती है। एमडीबी के बजट से लोग सरकार के मेवात के विकास का आंकलन करते है। कम बजट मिलने से कहा जाता है कि प्रदेश सरकार मेवात के विकास को लेकर गम्भीर नहीं है। एमडीए के परियोजना अधिकारी डॉ. शमीम अहमद ने कहा कि शिक्षा पर इसलिए सबसे ज्यादा बजट खर्च किया गया है क्योंकि मेवात शिक्षा का स्तर बेहतर बन जाये मेवात का विकास अपने आप हो जाएगा। शिक्षा बहुत जरूरी है।