Hindi News »Haryana »Mewat» अनुदान राशि में घपले पर नूंह के तत्कालीन जिला बागवानी अधिकारी हुए गिरफ्तार

अनुदान राशि में घपले पर नूंह के तत्कालीन जिला बागवानी अधिकारी हुए गिरफ्तार

नूंह| जिले की भ्रष्टाचार निरोधक टीम द्वारा मंगलवार को किसानों के अनुदान राशि के रूप में लाखों रुपए डकारने वाले...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 28, 2018, 02:05 AM IST

अनुदान राशि में घपले पर नूंह के तत्कालीन जिला बागवानी अधिकारी हुए गिरफ्तार
नूंह| जिले की भ्रष्टाचार निरोधक टीम द्वारा मंगलवार को किसानों के अनुदान राशि के रूप में लाखों रुपए डकारने वाले तत्कालीन जिला बागवानी अधिकारी को गिरफ्तार किया है। विजिलेंस टीम पिछले तीन साल से कई करोड़ रुपए के गोलमाल में तत्कालीन डी एच ओ की भूमिका की जांच कर रही थी। विजिलेंस टीम के नूह प्रभारी इंस्पेक्टर ओमप्रकाश भारद्वाज ने बताया कि पकड़े गये डी एच ओ सुभाष कुमार ने वर्ष 2012-13 में मेवात के ढाना गाँव मे 95 किसानों को सरकारी अनुदान राशि पर टपका सिंचाई प्रणाली लगाई थी। विजिलेंस के अधिकारी ने बताया कि जिन किसानों को अनुदान राशि दी गई उनके वहाँ किसी प्रकार की कोई टपका सिंचाई प्रणाली नही लगाई गई थी। जिला बागवानी अधिकारी सुभाष कुमार,एच डी ओ खलील अहमद,कम्पनी एजेंट शमीम अहमद दिहाना एक अन्य ने मिल कर 95 किसानों की फर्जी आईडी व फर्जी जमीन फर्द लगा कर सरकारी 3 करोड़ रुपए की अनुदान राशि हड़प ली। वर्ष 2015 में किसानों को पता चलने के बाद शिकायत की गई। काफी संघर्ष के बाद विजिलेंस टीम ने डीएचओ सुभाष, खलील,शमीम व एक अन्य के खिलाफ भ्रष्टाचार का मुकदमा दर्ज किया। इस मामले में खलील,शमीम आदि ने हाईकोर्ट से जमानत करा ली। डीएचओ सुभाष कुमार मुकदमे से बाहर हो गए थे। इंस्पेक्टर ओमप्रकाश ने बताया कि इस मुकदमे की पुन:जांच में तत्कालीन मेवात व वर्तमान डीएचओ सुभाष को दुबारा आरोपी बनाया गया है। सुभाष को डयूटी मजिस्ट्रेट के समक्ष बुधवार को पेश किया जाएगा।

भ्रष्टाचार निरोधक टीम ने कार्रवाई

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mewat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×