• Home
  • Haryana News
  • Mewat
  • 10 वी में खराब रिजल्ट पर 3 स्कूलों के टीचरों को नोटिस जारी
--Advertisement--

10 वी में खराब रिजल्ट पर 3 स्कूलों के टीचरों को नोटिस जारी

नूंह| जिले के 92 सीनियर सेकंडरी व हाई स्कूलों में से तीन स्कूलों के अध्यापकों को 10वीं में खराब परिणाम आने के लिए...

Danik Bhaskar | May 25, 2018, 02:00 AM IST
नूंह| जिले के 92 सीनियर सेकंडरी व हाई स्कूलों में से तीन स्कूलों के अध्यापकों को 10वीं में खराब परिणाम आने के लिए नोटिस जारी किए गए हैं। इन तीनों स्कूलों के अध्यापक पूरे होने के बावजूद भी 10 का रिजल्ट खराब आया है। जिला शिक्षा अधिकारी डॉ. दिनेश शास्त्री ने बताया कि जिले की दसवीं कक्षा के बोर्ड का परिणाम प्रदेश में 21वें नंबर पर आने पर चारों ओर जिला शिक्षा विभाग हो रही आलोचना के बाद जिला शिक्षा अधिकारी डॉ. दिनेश शास्त्री ने कहा कि जिस जिले में 1041 लेक्चरर के पद स्वीकृति हो और उनके स्थान पर 424 लेक्चरर काम करे और 617 लेक्चरर के पद पूरे साल खाली रहे, बिना लेक्चरर के स्कूल खाली पड़े हो, ऐसे में बच्चों व शिक्षा विभाग से बेहतर परिणाम की आशा कैसे की जा सकती है। शिक्षा अधिकारी ने कहा कि जिले में 6372 बच्चों ने दसवीं कक्षा की परीक्षा दी थी, जिसमें से 1974 बच्चे बोर्ड की दसवीं कक्षा में पास हुए हैं। जिसमें से 81 बच्चे मैरिट, 1007 बच्चों ने प्रथम, 775 ने द्वितीय, 111 बच्चों ने थर्ड डिवीजन स्थान प्राप्त किया है। उन्होंने कहा कि लेक्चरर न होने के कारण इन बच्चों को जेबीटी अध्यापकों से आधा-अधूरा पढ़वाया गया था। कई विषय ऐसे थे जिन्हें खोल कर ही नहीं देखा गया। सारी कमी होने के बाद भी प्रदेश के अन्य जिलों के मुकाबले मेवात का दसवीं बोर्ड का परिणाम बेहतर रहा है।

डा. दिनेश शास्त्री ने कहा कि खोड़, बसई, नूंह सीनियर सेकेंडरी, राठीवास स्कूलों में पर्याप्त स्टाफ था, उसके बाद भी 10वीं बोर्ड का परिणाम बेहतर नहीं आया है। तीनों स्कूलों के अध्यापकों को नोटिस जारी किया गया है। तीनों स्कूलों के अध्यापकों के खिलाफ कार्यवाही निश्चित है।