• Home
  • Haryana News
  • Mewat
  • बोर्ड एग्जाम में नंबर आए कम तो छात्रा ने कराई री-चेकिंग और मिली सफलता
--Advertisement--

बोर्ड एग्जाम में नंबर आए कम तो छात्रा ने कराई री-चेकिंग और मिली सफलता

भास्कर न्यूज । फिरोजपुर झिरका भले ही महिला साक्षरता दर में हमारा जिला पीछे है, लेकिन जब मेवात की बेटियां पढ़ने पर...

Danik Bhaskar | Jun 27, 2018, 02:05 AM IST
भास्कर न्यूज । फिरोजपुर झिरका

भले ही महिला साक्षरता दर में हमारा जिला पीछे है, लेकिन जब मेवात की बेटियां पढ़ने पर आती हैं तो वो बेहतर भी करके दिखा सकती हैं। ऐसा किया है पाड़ला गांव की सुमैया ने। हाल ही में हरियाणा बोर्ड की 12वीं की परीक्षा देने वाली सुमैया ने 500 में से 436 अंक लेकर पास हो गई। सुमैया ने जिले में बेहतर नंबर लेकर नाम भी कमाया, लेकिन छात्रा के मन में ये सवाल लगातार उसे कोश रहा था कि उसे मिले अंकों में कहीं न कहीं कोई गलती जरूर है। सुमैया ने यह बात अपने पिता को बताई। पिता को भी अपनी बेटी की काबिलियत पर पूरा भरोसा था। पिता ने पुन: मूल्यांकन की अर्जी लगाई और सुमैया के आत्मविश्वास ने उसे सफलता की सीढ़ियों पर आगे बढ़ा दिया। सुमैया का कहना है कि बोर्ड की एक गलती ने उसे आगे पढ़ने से वंचित कर दिया। बोर्ड सही नंबर देता तो वो डीयू में दाखिला ले सकती थी। शिक्षा बोर्ड की गलती पर बात करें तो उन्होंने छात्रा के विषयों के पेपर में यह गलती की है जिसे बोर्ड ने स्वीकार लिया है।