• Home
  • Haryana News
  • Mewat
  • गुड़गांव में 47.04% रहा रिजल्ट, लड़कियों ने फिर बाजी मारी, 50.34% हुईं पास, रैंक बढ़कर 15 हुई
--Advertisement--

गुड़गांव में 47.04% रहा रिजल्ट, लड़कियों ने फिर बाजी मारी, 50.34% हुईं पास, रैंक बढ़कर 15 हुई

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने सोमवार दोपहर 2 बजे 10वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम घोषित किया। गुड़गांव जिले का...

Danik Bhaskar | May 22, 2018, 02:10 AM IST
हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने सोमवार दोपहर 2 बजे 10वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम घोषित किया। गुड़गांव जिले का रिजल्ट 3.36 फीसदी सुधार के साथ 47.04 फीसदी रहा, जो पिछले साल 43.68 फीसदी था। रैंक में भी जिला एक पायदान ऊपर आया है। रैंक 15 रही। इस बार भी जिले में लड़कियों ने बाजी मारी। जिले में 50.34% लड़कियां, जबकि 44.22% लड़के पास हुए। रिजल्ट देखने के बाद लड़कियों की खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा। गुड़गांव जिले से परीक्षा में 15,909 स्टूडेंट्स (8579 लड़के व 7330 लड़कियां) शामिल हुए थे। इनमें से 7,484 स्टूडेंट्स ही परीक्षा पास कर पाए। पिछले साल जिले से 13,632 स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी थी, जिसमें से 5955 स्टूडेंट्स ने परीक्षा पास कर पाए थे। इधर, मेवात जिले की प्रदेश में 21वीं रैंक रही। मेवात में 39.80% छात्र पास हुए, जो प्रदेश में सबसे कम हैं। मेवात से 10,388 स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी, जिसमें से 4,134 स्टूडेंट्स ही पास हुए।

बोर्ड की दिखी लापरवाही

रिजल्ट में बोर्ड की लापरवाही देखने को मिली। पहले ई-मेल में बोर्ड ने प्रदेश की पास प्रतिशतता 49.73 दिखाई। इसके बाद ठीक 4.45 मिनट पर बोर्ड से आए रिवाइज्ड मेल में इसे बढ़ाकर 51.15 फीसदी बताया गया। रिवाइज्ड मेल में गुड़गांव की पास प्रतिशतता में 1.37 फीसदी अधिक रही। पहली मेल में गुड़गांव में पास छात्रों का प्रतिशत 45.67 था।

रिजल्ट देखने के बाद लड़कियों की खुशी का नहीं रहा ठिकाना

कुछ इस तरह किया खुशी का इजहार... हरियाणा बोर्ड की दसवीं कक्षा का परीक्षा परिणाम देखने के बाद छात्राओं की खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा, अव्वल आने पर साथी छात्रा को गोद में उठाकर खुशी जाहिर करतीं जैकबपुरा स्कूल की छात्राएं।

प्रदेश की तुलना में गुड़गांव में 4.11 फीसदी छात्र कम पास हुए

प्रदेश में 10वीं का रिजल्ट 51.15 फीसदी रहा, जो गुड़गांव के पास प्रतिशत से 4.11 फीसदी ज्यादा है। प्रदेश से परीक्षा में 3,64,800 स्टूडेंट्स शामिल हुए जिसमें से 94,202 (47.61 फीसदी) लड़के व 92,384 (55.34 फीसदी) लड़कियों ने परीक्षा पास की। ग्रामीण क्षेत्र में स्टूडेंट का पास प्रतिशत शहरी के मुकाबले बेहतर रहा। ग्रामीण क्षेत्र जहां पासिंग पर्सेंटेज 51.72 रहा, वहीं शहरी क्षेत्र का 49.65 फीसदी। प्रदेश में राजकीय विद्यालयों का प्रतिशत 44.38, जबकि निजी विद्यालयों की 59.87 फीसदी रहा।

मेवात का रिजल्ट सबसे खराब, पर लड़कियां यहां भी आगे

पूरे प्रदेश में मेवात जिले का रिजल्ट सबसे निराशाजनक रहा। मेवात का प्रदेश में 21वां स्थान रहा। मेवात जिले से कुल 10,388 स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी इनमें से 4,134 स्टूडेंट्स ही पास हो सके। इसमें से लड़कियों का रिजल्ट काफी बेहतर रहा। जिले में 43.06 फीसदी लड़कियां पास हुईं, जबकि लड़कों का प्रतिशत 38.41 रहा।

डीईओ बोले, शिक्षकों की कमी से बिगड़ा रिजल्ट

नूंह | मेवात जिले का कक्षा दसवीं का परीक्षा परिणाम 39.80 प्रतिशत रहा है। बीते साल यहां का परीक्षा परिणाम 43.63 प्रतिशत रहा था। इस संबंध में जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी अनूप जाखड़ ने कहा कि 10वीं का परीक्षा परिणाम उम्मीद के अनुसार नहीं आया। खराब प्रदर्शन की वजह 60 फीसदी शिक्षकों की कमी है। इसके अलावा जो भी कारण होंगे उन्हें खोजा जाएगा।

96.2 अंक लाकर दिव्या ने अपने स्कूल में लहराया परचम

पंचगांव स्थित पंडित दौलतराम पब्लिक स्कूल की दिव्या ने 482 (96.2) अंक लाकर स्कूल में पहला स्थान पाया। जिले में उसकी रैंक का पता नहीं चला है। प्रदेश में टॉप 10 में अधिकतम अंक 498 रहे हैं, जबकि दसवां स्थान पाने वाले छात्र के 487 अंक हैं। दिव्या ने बताया कि वो लॉ में अपना फ्यूचर देख रही हैं। मेवात जिले पाढ़ा गांव की दिव्या ने गणित में 99 अंक हासिल किए हैं।

ये है जिले वार रैंक

रैंक जिला प्रतिशतता

1 चरखी दादरी 69.76

2 महेंद्रगढ़ 65.3

3 रेवाड़ी 64.25

4 झज्जर 61.42

5 सोनीपत 56.45

6 हिसार 56.03

7 रोहतक 54.85

8 भिवानी 53.88

9 पानीपत 53.01

10 सिरसा 52.46

11 जींद 52.08

12 कैथल 49.37

13 फतेहाबाद 48.99

14 कुरुक्षेत्र 48.69

15 गुरुग्राम 47.04

16 पंचकूला 45.49

17 करनाल 44.99

18 अंबाला 44.18

19 फरीदाबाद 42.63

20 यमुना नगर 41.99

21 मेवात 39.80

22 पलवल 39.35