• Hindi News
  • Haryana
  • Mewat
  • दो नए कॉलेज शुरू होने से पहले बंद, अब सिर्फ सात कॉलेजों में कर सकेंगे आवेदन
--Advertisement--

दो नए कॉलेज शुरू होने से पहले बंद, अब सिर्फ सात कॉलेजों में कर सकेंगे आवेदन

गुड़गांव जिले में चार नए कॉलेज खुलने की स्टूडेंट्स की खुशी अधूरी रह गई। सीएम ने इसकी घोषणा की थी। अब इस सेशन में दो...

Dainik Bhaskar

Jun 11, 2018, 02:10 AM IST
दो नए कॉलेज शुरू होने से पहले बंद, अब सिर्फ सात कॉलेजों में कर सकेंगे आवेदन
गुड़गांव जिले में चार नए कॉलेज खुलने की स्टूडेंट्स की खुशी अधूरी रह गई। सीएम ने इसकी घोषणा की थी। अब इस सेशन में दो ही नए कॉलेज खुल सकेंगे। दरअसल एक कॉलेज में गुरुग्राम यूनिवर्सिटी का कार्यालय खोल दिया गया, जबकि दूसरे कॉलेज में जगह की कमी के चलते इस सेशन में एडमिशन नहीं हो सकेंगे। हायर एजुकेशन डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने वेबसाइट से भी दोनों कॉलेजों का नाम हटा दिया है। ऐसे में गुड़गांव के स्टूडेंट्स इस बार केवल सात गवर्नमेंट कॉलेजों के लिए ही आवेदन कर सकेंगे। खुलने वाले चार नए कॉलेजों में से तीन उधार की बिल्डिंगों में शुरू किए जा रहे थे। अब इन तीन में से भी सिर्फ दो कॉलेज ही इस सत्र में शुरू होंगे।

तुलाराम कॉलेज में खुला यूनिवर्सिटी कार्यालय

सीएम मनोहर लाल ने साल 2017-18 से हरियाणा में 31 गवर्नमेंट गर्ल्स कॉलेजों की शुरुआत करने की घोषणा की थी। इनमें से गुड़गांव में सेक्टर-52 गर्ल्स कॉलेज, मानेसर व रिठौज और राव तुलाराम साइंस एंड कॉमर्स कॉलेज शामिल थे। 6 जून को हायर एजुकेशन डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने सेक्टर-52 कॉलेज और राव तुलाराम को शुरू करने इनकार कर दिया है। जबकि पिछले तीन साल से राव तुलाराम कॉमर्स कॉलेज का भवन बनकर भी तैयार है। इस कॉलेज में गुरुग्राम यूनिवर्सिटी का कार्यालय बनने और सेक्टर-52 गर्ल्स कॉलेज में जगह की कमी के कारण इनके नाम शनिवार रात विभाग की वेबसाइट से हटा दिए गए। अब सिर्फ रिठौज और मानेसर गवर्नमेंट गर्ल्स कॉलेज की करीब 660 सीटों पर ही एडमिशन हो सकेंगे। दोनों कॉलेजों में करीब 100 सीटें बढ़ाई गई हैं, जिनमें रिठौज गर्ल्स कॉलेज में आर्ट की 80 सीटों से बढ़ाकर 160 की गई हैं, वहीं बी कॉम में 80 सीटें रखी गई हैं। मानेसर कॉलेज में 20 सीटें बीएससी इलेक्ट्रॉनिक्स, बीए की 160, बीकॉम की 80, बीएससी मेडिकल व नॉन मेडिकल की 80-80 सीटें तय की गई हैं। बता दें कि दोनों नए कॉलेज भी उधार की बिल्डिंगों में संचालित हो रहे हैं। रिठौज कॉलेज जहां मिडिल स्कूल के 9 कमरों में खोला गया है, वहीं मानेसर कॉलेज पॉलीटेक्निक कॉलेज के 8 कमरों में शुरू किया गया है।

रिठौज और मानेसर गर्ल्स कॉलेज में होंगे एडमिशन

दोनों नए कॉलेजों में 660 सीटें स्टूडेंट्स के लिए हैं

गुड़गांव. कॉलेज में दाखिले के लिए ऑनलाइन फॉर्म भरती छात्राएं । (फाइल फोटो)

शिक्षा मंत्री के गृह जिले में 7 गर्ल्स कॉलेज

करीब 20 लाख की आबादी वाले जिला गुड़गांव में जहां सात गवर्नमेंट कॉलेज हैं, वहीं शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा के गृह जिले महेंद्रगढ़ (आबादी 9 लाख करीब) में 14 गवर्नमेंट कॉलेज हैं। इनमें 7 गर्ल्स कॉलेज हैं, जिनमें से 3 इसी सेशन से शुरू हुए हैं। इन 7 गर्ल्स कॉलेजों में कुल 4200 सीटें हैं, वहीं गुड़गांव के अकेले गवर्नमेंट गर्ल्स कॉलेज सेक्टर-14 में ग्रेजुएशन प्रथम वर्ष में 2800 सीटें हैं। मानेसर गर्ल्स कॉलेज में 420 सीटें, गवर्नमेंट गर्ल्स कॉलेज में 240 सीटें हैं। जबकि अकेले सेक्टर-14 स्थित गवर्नमेंट गर्ल्स कॉलेज में 7400 सीटें हैं।

इधर, सात जिलों में गर्ल्स के लिए सिर्फ एक-एक कॉलेज

प्रदेश के महेंद्रगढ़ जिले में जहां सात गवर्नमेंट गर्ल्स कॉलेज हैं, वहीं 7 जिले ऐसे हैं जहां गर्ल्स के लिए केवल एक-एक ही कॉलेज हैं। इनमें यमुनानगर, मेवात, अंबाला, कैथल, चरखीदादरी, पानीपत व कुरुक्षेत्र शामिल हैं। इन जिलों में सबसे कम जनसंख्या चरखीदादरी की है, जहां लगभग 4.75 लाख जनसंख्या है। जबकि अन्य जिलों की जनसंख्या लगभग महेंद्रगढ़ के बराबर या इससे अधिक है।

जिला कुल कॉलेज गर्ल्स कॉलेज

महेन्द्रगढ़ 14 7

अंबाला 5 1

फतेहाबाद 6 2

झज्जर 12 2

करनाल 8 4

मेवात 4 1

पानीपत 1 1

सिरसा 6 3

चरखीदादरी 3 1

भिवानी 9 4

गुड़गांव 7 3

जींद 7 2

कुरुक्षेत्र 3 1

पलवल 5 2

रेवाड़ी 9 3

सोनीपत 5 3

फरीदाबाद 7 4

हिसार 11 5

कैथल 2 1

पंचकूला 5 2

रोहतक 8 4

यमुनानगर 3 1

X
दो नए कॉलेज शुरू होने से पहले बंद, अब सिर्फ सात कॉलेजों में कर सकेंगे आवेदन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..