Hindi News »Haryana »Naraingarh» Servant Killed The Woman

नौकर ने की सास-बहू की हत्या, आठ महीने से घर में कर रहा था काम

गहनों के लालच में एक नौकर ने गांव हसनपुर स्थित सास-बहू पर हमलाकर हत्या कर दी।

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 05:54 AM IST

  • नौकर ने की सास-बहू की हत्या, आठ महीने से घर में कर रहा था काम
    +1और स्लाइड देखें
    मृतक सुमन और मृतक वृद्वा राजबाला का फाईल फोटो।

    नारायणगढ़(हरियाणा)।गहनों के लालच में एक नौकर ने गांव हसनपुर स्थित सास-बहू पर हमलाकर हत्या कर दी। खास बात यह है कि वारदात के बाद नौकर ने घर से सारे गहने चोरी किए। इसके बाद वह अपना हुलिया बदलकर फरार हो गया। इस दोहरे हत्याकांड का उस समय खुलासा हुआ, गुरुवार को जब मृतका की बेटी ने घर फोन किया, लेकिन वह रिसीव नहीं हुआ। इसके बाद उसने पापा विनोद को फोन करके सूचित किया। तब सूचना मिलते ही पड़ोसी मौके पर पहुंचे तो फर्श पर खून से लथपथ शव मिले। पता चलते ही प्रभावित परिवार के सभी रिश्तेदार अलर्ट हो गए और हत्यारे की तलाश में निकल पड़े। कुछ देर बाद विनोद के मामा के बेटा हेमंत यमुनानगर रेलवे स्टेशन पहुंचा तो उसने नौकर की पहचान कर ली। पुलिस को सूचित करके पकड़वा दिया। अब पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। साथ ही दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी रखवा दिया है। वारदात के समय विनोद का पालतू कुत्ता बंधा था जिस कारण हरीश आसानी से मकसद में कामयाब हो गया।

    आठ माह से काम कर रहा था नौकर
    मूलरूप से गोरखपुर का रहने वाला हरीश करीब आठ माह पहले विनोद के संपर्क में आया था। तभी से वह उनके घर पर काम कर रहा है। खास बात यह है कि विनोद के पास हरीश की पहचान से जुड़ा कोई साक्ष्य नहीं है और न ही उसके बारे कभी पुलिस को सूचित किया गया। इसके अलावा उसका कोई फोटो भी परिवार के पास नहीं था। उसे कामकाज के लिए घर पर रखा गया था।

    फायदा उठाकर कस्सी से किया कत्ल, नहीं सुनी आवाज
    विनोद शर्मा पेशे से अध्यापक हैं और वह अपनी मां 75 वर्षीय राजबाला, पत्नी सुमन, बेटी निधि व बेटे आशीष के साथ घर पर रहते हैं। गुरुवार सुबह विनोद अपने काम पर चले गए। पीछे से बेटी भी अम्बाला कॉलेज में आ गई और बेटा भी निजी काम से बाहर चले गया। लिहाजा पहले से प्लान कर चुके हरीश ने करीब दस बजे के आसपास कस्सी उठाई और पहले राजबाला पर हमला किया। जोरदार हमले के साथ राजबाला लहूलुहान होकर फर्श पर गिर गई। शोर सुनते ही सुमन मौके पर पहुंची तो हरीश ने उस पर भी हमला कर दिया। यही नहीं हरीश ने उसे संभलने तक का मौका नहीं दिया। इसके बाद उसने दोनों पर दोबारा हमला करके मौत के घाट उतार दिया। फिर शवों को कमरे में बंद करके गहने चोरी किए। चूंकि विनोद का घर गांव से दूर खेतों में है, इसलिए किसी ने उनके चीखने-चिल्लाने की आवाज नहीं सुनी।

    कॉलेज के बाद बेटी ने किया फोन
    बेटी निधि ने कॉलेज जाने के बाद अपनी मां सुमन के मोबाइल पर फोन किया, लेकिन कई रिंग जाने के बाद भी फोन रिसीव नहीं हुआ। इस पर उसने अपने पापा विनोद को फोन करके बताया कि मम्मी फोन नहीं उठा रही। तब विनोद के फोन करने पर भी फोन रिसीव नहीं हुआ तो उसने गांव में अपने एक जानकार को फोन करके घर पर मैसेज देने की बात कही। जब वह विनोद के घर पहुंचा तो उसने फर्श पर खून से लथपथ शव देखे। उसी समय विनोद को फोन करके जानकारी दी। लिहाजा सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।

    फिर हुलिया बदलकर हुआ फरार

    हरीश ने वारदात से पहले लंबी दाढ़ी और बड़े-बड़े बाल रखे हुए थे। वारदात को अंजाम देने के बाद हत्यारे ने अपने बाल और दाढ़ी कटवा दी और क्लीन शेव हो गया। यही नहीं उसने अपने खून से लथपथ कपड़े भी मकान के पास फेंक दिए।


    अलर्ट हुआ परिवार और पकड़ लिया हरीश
    सूचना मिलते ही विनोद का पूरा परिवार अलर्ट हो गया। चूंकि नौकर घर पर नहीं था, इसलिए शक की सुई उसकी तरफ घूमी। पता चलते ही रिश्तेदार भी हरीश की तलाश में इधर-उधर निकल पड़े। क्योंकि हरीश वारदात के बाद ट्रेन से फरार हो सकता था, इसलिए उन्होंने बस स्टैंड व रेलवे स्टेशन पर तलाश शुरू की। इसी बीच यमुनानगर में रहने वाले विनोद के मामा के बेटे हेमंत ने उसे रेलवे स्टेशन पर पहचान लिया और पकड़ लिया। अब उसे पुलिस के हवाले कर दिया।




  • नौकर ने की सास-बहू की हत्या, आठ महीने से घर में कर रहा था काम
    +1और स्लाइड देखें
    मर्डर में घटना स्थल का मुआयना करती डॉग स्कॉयड की टीम।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Naraingarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×