--Advertisement--

नलवाटी में ग्वार बाजरे की बिजाई शुरू

नलवाटी क्षेत्र में 6 मई को हुई प्री मानसून की पहली बरसात से कुछ गांवों में खरीफ फसलों की बिजाई शुरू हो गई है। इसके...

Danik Bhaskar | Jun 10, 2018, 02:45 AM IST
नलवाटी क्षेत्र में 6 मई को हुई प्री मानसून की पहली बरसात से कुछ गांवों में खरीफ फसलों की बिजाई शुरू हो गई है। इसके चलते खाद बीज की दुकानों पर भीड़ बढ़ने लगी है। ज्ञात रहे कि पिछले 2 वर्ष से नलवाटी क्षेत्र में सूखा पड़ रहा है।

इसके चलते किसानों की माली हालत खराब हो गई है। किसान सतबीर, अमीलाल, सूबेसिंह, महेंद्र, धर्मपाल, होशियार सिंह, विक्रम, मुकेश, मोहर सिंह आदि ने बताया कि इस वर्ष मौसम विभाग ने मानसून अच्छी रहने की संभावना जताई है। इससे किसानों में कुछ आस बंधी है। इसके आसार भी नजर आने लगे हैं। 6 जून को सुबह निजामपुर के आस पास के 8-10 गांवों धानोता, कारोली, मारोली, बसीरपुर, तलोट, छिलरो, घाटाशेर, पवेरा, गावडी, बिगोपुर आदि गांव में अच्छी बारिश हुई है। बारिश अच्छी होने से इन गांवों में ग्वार बाजरे की बिजाई शुरू हो गई है। इसके चलते बीज विक्रेताओं के यहां किसानों की भीड़ भी लगने लगी है। किसानों का कहना है कि ऐसे समय में कृषि विभाग की ओर से किसानों को बीज आदि के बारे में जानकारी उपलब्ध कराई जानी चाहिए। क्योंकि अधिकतर किसान बीज विक्रेता की सलाह पर ही बीजों की खरीददारी करते हैं। ऐसे में बीज की गुणवत्ता आदि की कोई गारंटी नहीं होती।

निजामपुर में एडीओ की पोस्ट भी स्वीकृत है, लेकिन यहां कोई एडीओ नहीं है। इसके चलते किसान विभागीय सलाह से वंचित हैं। किसान बिजाई तो कर रहे हैं, लेकिन वे नुकसान की संभावना से भी आशंकित हैं। अगर बिजाई रपट हो गई या फिर बिजाई के बाद बारिश नहीं हुई तो किसानों का नुकसान भी उठाना पड़ सकता है।

निजामपुर. दुकान से बीज खरीदते किसान ।