Hindi News »Haryana »Nijampur» आंधी ‌और ‌‌‌‌‌बारिश में स्टेशन अधीक्षक कार्यालय की छत उड़ी तिरपाल से ढककर इलेक्ट्रिक पैनल बोर्ड बचाया, हादसा टला

आंधी ‌और ‌‌‌‌‌बारिश में स्टेशन अधीक्षक कार्यालय की छत उड़ी तिरपाल से ढककर इलेक्ट्रिक पैनल बोर्ड बचाया, हादसा टला

पिछले करीब एक पखवाड़े से पड़ रही गर्मी से मंगलवार रात को आमजन को थोड़ी राहत मिली। वहीं आंधी के साथ आई बरसात...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 07, 2018, 02:55 AM IST

पिछले करीब एक पखवाड़े से पड़ रही गर्मी से मंगलवार रात को आमजन को थोड़ी राहत मिली। वहीं आंधी के साथ आई बरसात निजामपुर रेलवे स्टेशन के अधिकारियों के लिए आफत भरी रही। आंधी व बरसात के दौरान स्टेशन अधीक्षक कार्यालय की छत की टीन उड़ गई। इसमें कोई जानी नुकसान तो नहीं हुआ, लेकिन कंप्यूटर बंद हो जाने के कारण टिकट वितरण का कार्य नहीं हो पाया। स्टेशन अधीक्षक ने कार्यालय में लगे इलेक्ट्रॉनिक बोर्ड को तिरपाल से ढंककर बचा लिया। अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था, क्योंकि रेलवे लाइन व सिग्नल बदलने का कार्य इसी पैनल से होता है। गनीमत यह रही कि उस समय कोई सवारी या मालगाड़ी भी नहीं आ रही थी। इस कारण बड़ा हादसा होने से टल गया।

स्टेशन अधीक्षक जीवन सिंह मीणा ने बताया कि इससे पिछले 3 दिन से निजामपुर रेलवे स्टेशन पर नवीनीकरण कार्य चल रहा था। इसके तहत आजादी से पहले की सीमेंटेड टीनशेड बदलकर लोहे की टीन लगाई जा रही हैं। यह कार्य यात्री विश्रामगृह व स्टेशन मास्टर कक्ष के छत पर किया जा रहा है। मंगलवार रात करीब 3.15 बजे आंधी के साथ आई बारिश के दौरान स्टेशन मास्टर कार्यालय पर लगी 7 टीन हवा में उड़ गई तथा बरसात का पानी सीधा स्टेशन अधीक्षक कार्यालय में आने लगा। इस पर उन्होंने तुरंत प्लास्टिक का त्रिपाल मंगवाकर इलेक्ट्रॉनिक पैनल बोर्ड व सिग्नल बोर्ड को ढंककर पानी से बचाया गया तथा इसकी सूचना तत्काल उच्चाधिकारियों को दी।

सूचना देने के बाद वे कार्यालय के अंदर गिर रहे पानी को निकालने के काम में लग गए। फिर भी नमी की वजह से रेल टिकट बनाने वाला कंप्यूटर बंद हो गया। इस कारण सुबह गाड़ी नंबर 59715 व गाड़ी नंबर 59716 फुलेरा-रेवाड़ी तथा रेवाड़ी-फुलेरा की टिकट बिक्री प्रभावित रही। दोनों ट्रेनों के टिकट हाथ से बनाने पड़े। इस कारण आधी ही टिकट बन पाई। बाद में उच्चाधिकारियों व टेक्निकल विंग ने कंप्यूटर को ठीक किया। हालांकि टिकट वितरण का कार्य पूरी तरह तो ठीक नहीं हो पाया, लेकिन काम चालू हो गया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Nijampur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: आंधी ‌और ‌‌‌‌‌बारिश में स्टेशन अधीक्षक कार्यालय की छत उड़ी तिरपाल से ढककर इलेक्ट्रिक पैनल बोर्ड बचाया, हादसा टला
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Nijampur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×