--Advertisement--

छेड़छाड़ के आरोपी डीपीई पर कार्रवाई न होने से छात्रा नहर में कूदी, लोगों ने बचाया

छात्रा बोली - डीपीई के साथ-साथ प्रधानाचार्य के खिलाफ भी होनी चाहिए कार्रवाई

Dainik Bhaskar

Jun 06, 2018, 03:38 AM IST
सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।

निसिंग. कई दिनों पर एक स्कूल की छात्रा से छेड़छाड़ के मामले में आरोपी डीपीई मनोज के खिलाफ कार्रवाई न होने से पीड़ित छात्रा ने नहर में छलांग लगा आत्महत्या करने का प्रयास किया। वहां मौजूद लोगों ने समय रहते छात्रा को डूबने से बचा लिया। छात्रा का पीएचसी में इलाज चल रहा है। मंगलवार करीब दोपहर दो बजे लड़की ने नर्दक नहर में आत्महत्या करने के लिए छलांग लगा दी। वहां पर मौजूद कुछ लोगों ने लड़की को डूबते देख नहर में कूद उसे बचा लिया। उसे उपचार के लिए निसिंग सीएचसी में लाया। छात्रा की हालात ठीक है।

पीड़िता के भाई का आरोप- प्रधानाचार्य ने मामले को यहीं दबाने के लिए कहा था

- पीड़ित छात्रा के भाई ने बताया कि मेरी बहन 12वीं कक्षा में पढ़ती थी। डीपीई ने उसके साथ छेड़छाड़ की थी। उन्होंने आरोप लगाया कि इस मामले में मेरी बहन स्कूल प्रधानाचार्य के पास डीपीई की छेड़छाड़ की शिकायत लेकर गई, प्रधानाचार्य ने इस मामले को यही दबाने के लिए कहा।

- उन्होंने बताया कि इससे स्कूल और कमेटी की बदनामी होगी। लड़की ने लिखित रूप में सीएचसी में उपचार के दौरान स्कूल प्रधानाचार्य पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रधानाचार्य इस मामले को दबाने में लगे हैं। डीपीई का बचाव कर रहे हैं। डीपीई के साथ-साथ प्रधानाचार्य के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए।

X
सिम्बॉलिक इमेज।सिम्बॉलिक इमेज।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..