• Home
  • Haryana News
  • Nising
  • मंडी में बढ़ रही गेहूं की आवक, मापदंडों पर खरा नहीं उतरने से नहीं हुई खरीद
--Advertisement--

मंडी में बढ़ रही गेहूं की आवक, मापदंडों पर खरा नहीं उतरने से नहीं हुई खरीद

शहर की अनाज मंडी में कंबाइन से कटा गया गेहूं बिक्री के लिए पहुंचा है। जिसमें नमी की आशंका को लेकर गेहूं को सुखाने के...

Danik Bhaskar | Apr 09, 2018, 03:00 AM IST
शहर की अनाज मंडी में कंबाइन से कटा गया गेहूं बिक्री के लिए पहुंचा है। जिसमें नमी की आशंका को लेकर गेहूं को सुखाने के लिए मंडी में फैला दिया गया है, ताकि गुणवत्ता में निखार आ सके। यदि मौसम नेे साथ दिया तो दो चार दिनों में मंडी अनाज से अटी दिखाई देगी। वहीं क्षेत्र में गेहूं की हाथ से कटाई का काम जोरों से चल रहा है। मंडी में एक-दो दिनों बाद हाथ से काटा गया गेहूं भी पहुंचने की उम्मीद है। फिलहाल किसान फसल में नमी को लेकर बिक्री में आने वाली परेशानी के मद्देनजर कंबाइन से फसल की कटाई में जल्दबाजी नहीं दिखा रहे। उन्हें नमी युक्त गेहूं की खरीद नहीं हो पाने का डर है। रविवार को मंडी में पहुंची गेहूं की खरीद नहीं हो पाई थी।

मार्केट कमेटी सचिव बलवान सिंह व मंडी प्रधान सुभाष सिंगला ने बताया कि किसान अनाज मंडी में साफ व सूखी फसल ही बिक्री के लिए लेकर आएं, ताकि फसल की तुरंत खरीद की जा सके। उन्होंने बताया कि फसल की खरीद को लेकर लगभग सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। मंडी में चार खरीद एजेंसी इस बार गेहूं की खरीद करेंगी।

उन्होंने बताया कि मंगलवार व गुरुवार को मंडी में हैफेड की खरीद होगी, जबकि फूड एंड सप्लाई सोमवार व बुधवार को गेहूं खरीद करेगी। हरियाणा वेयर हाउस शनिवार व एफसीआई शुक्रवार के दिन गेहूं की खरीद करेगी। उन्होंने बताया कि अनाज मंडी में दिन प्रतिदिन गेहूं की आवक में इजाफा हो रहा है, लेकिन खरीद मापदंडों पर खरा नहीं उतरने से एजेंसियों ने मंडी में अभी तक गेहूं की खरीद शुरू नहीं की। एक अनुमान के अनुसार मंडी में 20 हजार क्विंटल से अधिक गेहूं की आवक हो चुकी है। जिसमें अब प्रति घंटे के हिसाब से आवक बढ़ रही है, लेकिन फसल में अधिक नमी के कारण खरीद नहीं की जा रही। सोमवार को गेहूं की खरीद शुरू करवा दी जाएगी। इस मौके पर पूर्व मंडी प्रधान धर्मपाल सिंगला, बलवीर राणा, वेदप्रकाश त्यागी गोंदर, वेदप्रकाश बंसल, राकेश, रणवीर सिंह, नरेंद्र कुंडू, नरेश चौधरी, शीशपाल बस्तली, रमेश चंद गोंदर, सुरेश गर्ग, प्रेमचंद सिंगला सहित अन्य मौजूद थे।