Home | Haryana | Nising | पावर हाउस का गेट बंद कर किसानों ने किया प्रदर्शन

पावर हाउस का गेट बंद कर किसानों ने किया प्रदर्शन

शहर के 220 केवीए हाऊस पर धान के सीजन में किसानों को पर्याप्त बिजली नहीं दिए जाने को लेकर शनिवार 12 बजे गेट को बंद कर...

Bhaskar News Network| Last Modified - Jun 24, 2018, 03:30 AM IST

पावर हाउस का गेट बंद कर किसानों ने किया प्रदर्शन
पावर हाउस का गेट बंद कर किसानों ने किया प्रदर्शन
शहर के 220 केवीए हाऊस पर धान के सीजन में किसानों को पर्याप्त बिजली नहीं दिए जाने को लेकर शनिवार 12 बजे गेट को बंद कर दिया। गेट के सामने किसान धरने पर बैठकर बिजली निगम के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष सेवा सिंह आर्य, प्रदेशाध्यक्ष रतनमान, जिला प्रधान सुखा सिंह, यशपाल राणा, खंड प्रधान कुलदीप सिंह बब्बर व निसिंग प्रधान मलूक सिंह ने पहुंच किसानों की समस्या सुनी। किसानों ने बताया कि बिजली निगम की ओर से प्रतिदिन छह घंटे के करीब बिजली दी जाती है। उसमें भी बार बार कट लगाए जाते है। जिससे किसानों का काम नहीं चल सकता, जिस कारण किसान बिजली किल्लत से परेशान है। इस समस्या को लेकर किसानों ने बिजली निगम के गेट को बंद कर धरने पर बैठ गए है। उनका यह भी कहना था कि जब तक विभाग का कोई बड़ा अधिकारी यहां नहीं पहुंचता तब तक किसान धरने पर बैठे रहेंगे। इसकी सूचना पाकर विभाग के एसडीओ युवराज सिंह, नायब तहसीलदार इंद्र सिंह, पटवारी राजबीर, निसिंग थाना प्रभारी जयबीर सिंह पुलिस टीम के साथ पहुंच किसानों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन किसानों की एक ही मांग थी कि धान के सीजन में किसानों को कम से कम आठ घंटे बिजली दी जाए।

इस मौके पर कुविंद्र सिंह, अमरत वडैच, गुलजार सिंह, लखा सिंह, प्रेम शाहपुर, गुरदायाल सिंह, गुरदेव सिंह, कुलविंद्र सिंह, साधा सिंह, सुखा सिंह, शेरसिंह, अमर सिंह सहित अन्य किसान मौजूद रहे।

एसएससी के आश्वासन के बाद धरने से उठे किसान : बिजली निगम के कार्यकारी एसएससी अजय ने पहुंच किसानों को आश्वासन दिया कि धान के सीजन में किसानों को आठ घंटे बिजली दी जाएगी। इसके लिए विभाग ने पावर हाऊस में लगाए जाने वाले ट्रांसफार्मर एक दो दिन में आ जाऐगा। उसके बाद बिजली की किसी प्रकार की कोई भी किल्लत नहीं रहेगी। उनके आश्वासन के बाद किसानों दो बजे गेट खोल दिया।

निसिंग. नारेबाजी करने वाले किसानों को समझाते एसएससी अजय व अन्य अधिकारी। फोटो | भास्कर

ग्रामीणों ने शेडयूल के अनुसार बिजली देने के आश्वासन के बाद खोला जाम

बल्ला | भीषण गर्मी के चलते बिजली कट लगने के कारण परेशान ग्रामीणों ने एकत्रित होकर 33 केवी सब स्टेशन में पहुंचकर सरकार के खिलाफ जमकर नारे बाजी की। सूचना मिलते ही एसडीओ धर्मपाल जागलान व जेई ने मौके पर पहुंच ग्रामीणों को शेड्यूल के अनुसार विद्युत सप्लाई दिए जाने का आश्वासन देकर ग्रामीणों को शांत किया। युवा कांग्रेस के पूर्व हल्का प्रधान कृष्ण मान, आम आदमी पार्टी के जिला संयोजक रामपाल ने बताया कि कई दिनों से गांव में बिजली सप्लाई बार-बार बाधित होने व कम वोल्टेज आने के कारण भीषण गर्मी के चलते उन्हें भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि भीषण गर्मी में बिजली और पेयजल की वजह से लोगों को परेशानी आ रही है। ग्रामीण राज सिंह, कर्मबीर, कुलदीप, संजय पंच, पीला, सुरेश, बजिंद्र ने रोष जताते हुए कहा कि एक ओर तो सरकार लोगों को उचित सुविधाएं देने का दावा करती है तो दूसरी ओर अब तक बिजली समस्या का समाधान नहीं हो पाया। ग्रामीणों ने बताया कि अघोषित कटों से परेशान ग्रामीणों की जब बिजली विभाग द्वारा सुनवाई नहीं की गई तो उन्हे मजबूरन धरना प्रदर्शन करना पड़ा।

बल्ला. धरने पर बैठे ग्रामीणों की समस्याएं सुनते निगम एसडीओ डीपी जागलान।

निसिंग. 220 केवी पावर हाउस का गेट बंद कर नारेबाजी करते किसान।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now