Home | Haryana | Nising | बरसात से पूर्व ड्रेन की सफाई को नहीं जागा विभाग, बीमारियों को निमंत्रण दे रही घास

बरसात से पूर्व ड्रेन की सफाई को नहीं जागा विभाग, बीमारियों को निमंत्रण दे रही घास

बरसात का मौसम शुरू होने वाला है। कभी कभी मौसम में होने वाली अधिक बरसात बाढ़ का रूप भी धारण कर लेती है। जिससे जानमाल...

Bhaskar News Network| Last Modified - Jun 15, 2018, 03:35 AM IST

बरसात से पूर्व ड्रेन की सफाई को नहीं जागा विभाग, बीमारियों को निमंत्रण दे रही घास
बरसात से पूर्व ड्रेन की सफाई को नहीं जागा विभाग, बीमारियों को निमंत्रण दे रही घास
बरसात का मौसम शुरू होने वाला है। कभी कभी मौसम में होने वाली अधिक बरसात बाढ़ का रूप भी धारण कर लेती है। जिससे जानमाल व फसलों में नुकसान हो जाता है। जिनसे बचाव के लिए बनाई गई ड्रेन समुचित देखरेख के अभाव में महज नाम की बनकर रह गई है। सफाई के अभाव में ड्रेन अनावश्यक घास से अटी पड़ी है। जिसमें से पानी की निकासी हो पाना सफेद हाथी के समान बना हुआ है, लेकिन संबंधित विभाग की ओर से समय पर ड्रेन की सफाई नहीं करवाई गई, तो सफाई के अभाव में ड्रेन के किनारे बसने वाले विभिन्न गांवों के क्षेत्र वासियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

अधिकारी नहींं दे रहे ध्यान

समस्या किसी विशेष गांव की नहीं है अपितु क्षेत्र में ड्रेन के आसपास बसने वाले सभी गांवों में समान बनी हुई है। जिनकी सफाई की ओर नहरी एवं सिचाई विभाग के अधिकारियों का कोई ध्यान नही दे रहे, ध्यान दे भी रहे है तो नाममात्र दिखावा किया जा रहा है। क्षेत्र वासी ग्रामीण शमशेर सिंह, सुभाष, सुरेश, ईश्वर, महाबीर, रोशन लाल, दुलाराम, रामपाल,रवि व रामपाल सहित अन्य का कहना है कि शहर के तीन छोर से गुजरती ड्रेन में गंदे नालों व राइस मिलों का बिना ट्रीट किया गया गंदा बदबूदार पानी डाला जा रहा है। ड्रेन में अनावश्यक घास फूस का साम्राज्य होने के कारण जमा गंदे पानी की निकासी नहीं हो पाती। जिस कारण ड्रेन के किनारे बनी बस्ती व आसपास में गंदे पानी की बदबू का आलम है। जिससे लोगों में बीमारियां फैलने का अंदेशा बना हुआ है।

निसिंग . सफाई के अभाव में ड्रेन अनावश्यक घास से अटी पड़ी है जिसके कारण उसके नजदीक बसे लोगों को हो रही परेशानी।

ड्रेन में जमा गंदे पानी में बारह माह मच्छर पनपते

बदबू के कारण बस्ती के लोग नारकीय जीवन जीने को मजबूर बने हुए है। इतना ही नहीं ड्रेन में जमा घास व गंदे पानी में बारह महीने मच्छर पनपते है। गर्मी के मौसम में बस्ती के लोगों को ड्रेन में पनपने वाले सांप जैसे विषैले कीटों के घर में घुसने व काटने का भी भय बना रहता है। जिस कारण ड्रेन के आसपास बसने वाले लोग डर के साये में जीने पर विवश है। ड्रेन के आसपास की बस्तियों में समस्या बारह महीने बनी रहती है। बस्ती के लोगों ने प्रशासनिक व संबंधित विभाग के अधिकारियों से ड्रेन की जल्द सफाई करने की मांग की है। ताकि उन्हें गंदे पानी की निकासी के अभाव में होने वाली परेशानियों से निजात मिल सके।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now