Hindi News »Haryana »Panchkula» नौकरियों में अनुसूचित जाति के लोगों के लिए 10% आरक्षण की घोषणा कर सरकार ने किया धोखा: सैलजा

नौकरियों में अनुसूचित जाति के लोगों के लिए 10% आरक्षण की घोषणा कर सरकार ने किया धोखा: सैलजा

पंचकूला|राज्यसभा सांसद कुमारी सैलजा का कहना है कि राज्य सरकार ने आउटसोर्सिंग व डीसी रेट की नौकरियों में अनुसूचित...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:15 AM IST

पंचकूला|राज्यसभा सांसद कुमारी सैलजा का कहना है कि राज्य सरकार ने आउटसोर्सिंग व डीसी रेट की नौकरियों में अनुसूचित जाति के लोगों के साथ दस फीसदी आरक्षण देने की घोषणा कर धोखा किया है। चोर दरवाजे से अनुसूचित जाति के लिए संविधान में व्यवस्थित आरक्षण पर डाका डाला जा रहा है। सोची समझी नीति के तहत भाजपा सरकार यह काम कर रही है। सैलजा ने कहा कि कैथल रैली में सीएम ने इसी साल से आउटसोर्सिंग (भाग-1 व 2) में एससी वर्ग को 10 फीसदी आरक्षण देने का ऐलान किया था। अनुसूचितों के वोट हथियाने के लिए सरकार ने सरकारी नौकरियों में एससी के खाली पड़े बैकलॉग पूरा करने की भी बात कही थी। पिछले करीब चार साल से अनुसूचित जाति के लोग आउटसोर्सिंग व डीसी रेट की नौकरियों में 20 फीसदी आरक्षण की मांग कर रहे हैं। जब संविधान में अनुसूचितों के लिए सरकारी नौकरियों में 20 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था है तो सरकार उनके आरक्षण से छेड़छाड़ क्यों कर रही है? सैलजा का आरोप है क सोची समझी साजिश के तहत सरकार आरक्षण खत्म कर रही है। पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारी सैलजा ने कहा कि सिर्फ प्रस्तावित लोकसभा व विधानसभा चुनावों में अनुसूचित जाति के लोगों के वोट लेने के लिए सरकार थोथी घोषणाएं कर रही हैं। पूरे देश में अत्याचार की घटनाएं हो रही हैं। जातीय दंगों में उन पर जुल्म किया जा रहा है। इंसाफ के अनुसूचित भटक रहे हैं। मगर भाजपा सरकार उनके हितों की अनदेखी कर रही है। उन्होंने सीएम मनोहर लाल के इस दावे को भी कोरा झूठ बताया है कि हरियाणा आउटसोर्सिंग की नौकरी में आरक्षण वाला दूसरा राज्य है। अगले बजट से गुरु रविदास की जन्म स्थली काशी की यात्रा के लिए 5 हजार लोगों को पहले आओ-पहले पाओ के तहत मुफ्त रेलवे यात्रा का लाभ देने की बात भी भाजपा अपने फायदे के लिए कर रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panchkula

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×