Hindi News »Haryana »Panchkula» मोरनी का मास्टर प्लान: 147 एकड़ में बनेंगे 9 सेक्टर, 100 गज के प्लॉट होंगे

मोरनी का मास्टर प्लान: 147 एकड़ में बनेंगे 9 सेक्टर, 100 गज के प्लॉट होंगे

टाउन एंड कंट्री प्लानिंग डिपार्टमेंट ने मोरनी का मास्टर प्लान तैयार कर डायरेक्टर से अप्रूवल के लिए भेज दिया है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 02, 2018, 02:05 AM IST

मोरनी का मास्टर प्लान: 147 एकड़ में बनेंगे 9 सेक्टर, 100 गज के प्लॉट होंगे
टाउन एंड कंट्री प्लानिंग डिपार्टमेंट ने मोरनी का मास्टर प्लान तैयार कर डायरेक्टर से अप्रूवल के लिए भेज दिया है। पंचकूला से 30 किलोमीटर दूर बसे हरियाणा के एकमात्र पहाड़ी एरिया मोरनी का 45 साल बाद मास्टर प्लान तैयार किया गया है। मोरनी में कुल 9 सेक्टर बनाए जाएंगे, जिनमें दो इंस्टीट्यूशनल, दो कमर्शियल, एक इंडस्ट्रियल और एक पब्लिक यूटिलिटी डिपार्टमेंट के दफ्तरों के लिए होगा। टाउन एंड कंट्री प्लानिंग डिपार्टमेंट के डायरेक्टर से मंजूरी मिलते ही काम शुरू हो जाएगा। यह मास्टर प्लान 2031 तक मोरनी में बढ़ने वाली जनसंख्या के मुताबिक बनाया गया है।

621 एकड़ है कुल कंट्रोल्ड एरिया

डिस्ट्रिक्ट टाउन प्लानर सुरेंद्र सहरावत ने बताया कि मोरनी का कुल एरिया (टोपोग्राफिकली) 3069 एकड़ है। इसमें से 621 एकड़ कंट्रोल्ड एरिया है। मास्टर प्लान के अनुसार कंट्रोल्ड एरिया में से 147 एकड़ जमीन को डेवलप कर सेक्टर बसाए जाएंगे। बाकी एरिया में जंगल व कुछ गांव व मोरनी शहर भी बसा हुआ है। मोरनी के करीब 12 गांव की जमीन भी सेक्टरों में आएगी।

45 एकड़ में बसेंगे 2 रेजिडेंशियल सेक्टर

सेक्टर-2 और 5 को रेजिडेंशियल होंगे।

22.5-22.5 एकड़ एरिया होगा दोनों सेक्टरों का एरिया

40 गज से लेकर 100 गज के प्लॉट्स होंगे।

स्कूल व पार्क के लिए भी जगह छोड़ी जाएगी।

ग्रीन बेल्ट भी छोड़ी जाएगी।

16 एकड़ में बसेंगे 2 कमर्शियल सेक्टर्स

सेक्टर-1 और 4 कमर्शियल होंगे।

दोनों सेक्टर्स का एरिया 8-8 एकड़ होगा।

कमर्शियल बूथ, शोरूम्स, वंेडिंग शॉप्स बनेंगी।

दुकानें भी छोटी होंगी, लेकिन बाकी जगहों से महंगी होंगी।

10 एकड़ में बनेंगे 2 इंडस्ट्रियल सेक्टर

सेक्टर-8 और 9 इंडस्ट्रियल होंगे।

दोनों सेक्टर्स का 5-5 एकड़ एरिया होगा।

सरकार की ओर से आयुर्वेदिक, फार्मेसी सहित कुछ बड़े कंपनियों के साथ बात कर उन्हें अपना सेटअप लगाने को कहा जाएगा।

14 एकड़ में बनेंगे ऑफिस, इंस्टीट्यूट्स

सेक्टर-3 और 6 में एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिस अौर इंस्टीट्स बनेंगे।

दोनों सेक्टर्स का एरिया 7-7 एकड़ एरिया होगा।

आसपास के गांवों की जमीन आएगी सेक्टरों में।

सेक्टर-7 में होंगे पब्लिक यूटिलिटी से संबंधित दफ्तर

11 एकड़ में सेक्टर-7 बसेगा। इसमें पब्लिक यूटिलिटी से संबंधित सरकारी विभागों के दफ्तर होंगे। बिजली सबस्टेशन बनाया जाएगा, वाॅटर सप्लाई व वाॅटर ट्रीटमेंट का सेटअप भी लगाया जाएगा। 50 एकड़ ओपन स्पेस व ग्रीन बेल्ट और पार्क होंगे।

सड़कें होंगी चौड़ी... मोरनी के मास्टर प्लान में खास बात ये है कि इस बार सड़कों को दोगुना चौड़ा किया जाएगा। सेक्टरों की डिवाइडिंग रोड्स 18 मीटर चौड़ी की जाएंगी। मोरनी से पंचकूला की ओर आने वाली सड़क 15 मीटर से बढ़ाकर 30 मीटर तक चौड़ी की जाएगी। मोरनी से रायपुररानी की ओर जाने वाली सड़क को 12 मीटर से बढ़ाकर 24 मीटर तक चौड़ा किया जाएगा। इसके अलावा मोरनी से बद्दी की ओर जाने वाली सड़क भी 30 मीटर चौड़ी की जाएगी।

बरवाला में बनेंगे 8 सेक्टर... हाल ही में बरवाला का मास्टर प्लान तैयार किया गया है और उसकी फाइल अप्रूवल के लिए डायरेक्टर के पास भेजी गई है। प्लानिंग के मुताबिक 606 एकड़ में कुल 8 सेक्टर बनाए जाएंगे। इसमें एक कमर्शियल सेक्टर भी शामिल किया गया है। बरवाला का कुल कंट्रोल्ड एरिया 7707 एकड़ है।

रायपुररानी में बनेंगे 9 सेक्टर... रायपुररानी का भी मास्टर प्लान भी तैयार किया गया था। बरवाला में 635 एकड़ में कुल 9 सेक्टर्स बनाए जाने की प्लानिंग की गई है। इसमें एक कमर्शियल सेक्टर भी शामिल किया गया है। रायपुररानी का कुल कंट्रोल्ड एरिया 2663 एकड़ है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panchkula

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×