--Advertisement--

भट्ट ने कहा- कौन कितनी बाइक लाएगा, सूची देना जरूरी, पदाधिकारी बोले- महिलाएं काली चुनरी ओढ़ सकती हैं,

भाजपा 15 फरवरी की बाइक रैली में ज्यादा से ज्यादा युवाओं की भागेदारी के प्रयास में है।

Danik Bhaskar | Feb 14, 2018, 03:20 AM IST

जींद. भाजपा 15 फरवरी की बाइक रैली में ज्यादा से ज्यादा युवाओं की भागेदारी के प्रयास में है। इसके लिए पार्टी ने पूरी ताकत लगा दी है। छोटे पदाधिकारियों से लेकर बड़े नेताओं तक पार्टी ने पूछा है कि रैली में वे कितनी बाइक लेकर आएंगे। पार्टी ने इसके लिए पदाधिकारियों व नेताओं से बाइक नंबर से लेकर आने वाले कार्यकर्ता की सूची मांगी है। इसे लेकर उन्होंने मंगलवार को रैली स्थल पर ही पार्टी नेताओं व पदाधिकारियों के साथ बैठक की।

इस दौरान उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं को हलवा-पूरी खिलाएं या समोसे। कार्यकर्ता रैली में अधिक से अधिक संख्या में पहुंचने चाहिए। उन्होंने कहा कि रैली को सफल बनाने की सबसे ज्यादा जिम्मेदारी जींद जिले के कार्यकर्ताओं की है।


संगठन महामंत्री ने इस दौरान एक-एक पार्टी पदाधिकारियों से पूछा कि बताओ रैली के लिए कितनी बाइक का रजिस्ट्रेशन हुआ है और कितनी लेकर आओगे। उन्होंने कई पदाधिकारियों द्वारा बताई गई बाइक संख्या को बताते हुए और ज्यादा संख्या में बाइक लाने के लिए भी कहा। महामंत्री ने पार्टी पदाधिकारियों से कहा कि उनके द्वारा रैली में कितनी बाइक लाई गई। इसकी सूची तैयार कर वे संगठन को सौंपें, ताकि पता लग सके रैली में कौन कितनी बाइक लेकर आया है।


बैठक में जिला महिला मोर्चा की सचिव नीरज गोस्वामी ने संगठन मंत्री सुरेश भट्ट से पूछा कि सर, ये बताएं रैली में आने वाली महिलाएं क्या काले रंग की चुनरी ओढ़कर आ सकती हैं या नहीं। इस पर संगठन मंत्री ने कहा कि काले रंग से बचा जाए। क्योंकि इससे प्रशासन की ओर से परेशानी हो सकती है। महिलाओं को भी इस बारे में बताया जाए कि वे काले रंग की चुनरी न ओढ़कर आएं।

3 आईपीएस, 2 डीएसपी के चक्रव्यूह में होगा वीवीआईपी स्टेज, हेलिपैड पर 3 आईपीएस व 5 डीएसपी होंगे तैनात

वीवीआईपी स्टेज व हेलिपैड के लिए सुरक्षा चक्रव्यूह तैयार किया है। इसके लिए आईपीएस अधिकारियों को ड्यूटियां सौंपी हैं। आलओवर इंचार्ज आईपीएस राकेश कुमार आर्य डीजीपी पंचकूला को बनाया है।

वीवीआईपी स्टेज
आईपीएस वसीम अकरम एसपी सीआईडी हरियाणा, आईपीएस नरेंद्र बिजानियां के निर्देश पर डीएसपी रवींद्र तोमर व अजय राणा के नेतृत्व में 1 इंस्पेक्टर, चार एएसआई, दो महिला ईएएसआई समेत 15 पुलिस जवान सुरक्षा घेरा बनाएंगे।

वीवीआईपी हेलिपैड
डीआईजी समेत तीन आईपीएस के निर्देशन में डीएसपी कमांडो कृष्ण कुमार, पंचकूला डीएसपी आदर्शदीप, मधुबन से पहुंचे अमरजीत सिंह कटारिया, वीरेंद्र सिंह व यादराम डीएसपी पुलिस फोर्स के इंचार्ज के रूप में कमान संभालेंगे।


15 पार्टी कार्यालयों का करेंगे शिलान्यास, एक का उद्‌घाटन : संगठन महामंत्री सुरेश भट्ट ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह रैली स्थल पर ही रिमोट कंट्रोल से प्रदेश के 15 पार्टी जिला कार्यालयों का शिलान्यास करेंगे। जबकि एक पार्टी कार्यालय का उद्‌घाटन करेंगे। उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों से कहा कि वे कार्यकर्ताओं को अवगत कराएं कि रैली में आते व जाते समय बाइक की स्पीड 30 से 45 की होनी चाहिए। उन्होंने सभी नेताओं और पार्टी पदाधिकारियों से कहा कि रैली में वे फोर-व्हीलर से न आएं।

टिंडी घी और शक्कर का स्वाद लेंगे रैली में आने वाले वीवीआईपी

भाजपा की हुंकार रैली में आने वाले वीवीआईपी लोगों को हरियाणवी टिंडी घी और शक्कर का स्वाद चखने को मिलेगा। यही नहीं इस मौके पर अन्य हरियाणवी व्यंजन भी मेहमानों को खाने को मिलेंगे। भाजपा के पदाधिकारियों ने रैली में आने वाले वीवीआईपी मेहमानों के लिए रैली स्थल पर ही मुख्य स्टेज के पास खाने की व्यवस्था की है। खाने के इस पंडाल में मुख्य रूप से पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारी, बोर्ड व निगमों के चेयरमैन, प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य व सभी जिला अध्यक्ष शामिल होंगे। पार्टी ने पहले केवल 100 मेहमानों के लिए खाने की व्यवस्था की थी, बाद में इसे 400 कर दिया गया है।


जीरा लस्सी, खांड और हरा साग : मेहमानों के लिए न केवल शक्कर और टिंडी घी खाने को मिलेगा बल्कि साथ में जीरा लस्सी, खांड व हरा सांग भी खाने के मैन्यू में शामिल है। इसके अलावा गरम हलवा भी मेहमानों को खिलाया जा सकता है। बूरा, खांड भिगाने के लिए देसी घी का प्रबंध भी किया गया है। खाना बनाने के लिए दिल्ली से विशेष रूप से कुक बुलाए गए हैं। बुधवार को सभी कुक जींद में पहुंच कर अपना काम संभाल लेंगे।

रैली का विरोध करना शर्मनाम : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में किसी दल रैली का विरोध करना अनुचित है। यह घटिया व शर्मनाक कार्य है। वे खुद रैली स्थल का दौरा कर रहे हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष की रैली बिना व्यवधान के होगी।