--Advertisement--

कभी सिर पर गिलास रख लगाता था निशाना, अब दोस्त को दी दर्दनाक मौत

दोनों खास दोस्त थे। रविवार होने के कारण दोपहर दो बजे फैक्ट्री में काम बंद हो गया था।

Danik Bhaskar | Jan 29, 2018, 04:43 AM IST
संदीप ने कमलपुरी की कनपटी पर गोलीमारकर हत्या कर दी। संदीप ने कमलपुरी की कनपटी पर गोलीमारकर हत्या कर दी।

पानीपत. यहां के ओम टेक्सटाइल फैक्ट्री में रविवार रात करीब 8:45 बजे एक्सपोर्ट व्यापारी ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से गोली मारकर सुपरवाइजर की हत्या कर दी। दोनों खास दोस्त थे। रविवार होने के कारण दोपहर दो बजे फैक्ट्री में काम बंद हो गया था। ढाई बजे से फैक्ट्री की छत पर दोनों शराब पी रहे थे। रात को लेनदेन पर दोनों का विवाद हुआ, इस पर आरोपी ने वारदात को अंजाम दे दिया।इसके बाद आरोपी मौके पर पिस्टल फेंककर छोटा भाई के साथ फरार हो गया। घरवालों के फैक्ट्री की छत पर मिली लाश...


- 24 साल के कमलपुरी ओम टेक्सटाइल में करीब एक साल से सुपरवाइजर की नौकरी कर रहा था।
- संदीप और उसका छोटा भाई कमल उससे फैक्ट्री के माल लेने, माल पहुंचाने और बैंक आदि के काम करवाते थे। संदीप और कमलपुरी खास दोस्त थे।
- घरवालों ने बताया कि कमलपुरी सुबह फैक्ट्री में काम पर गया था। इसके बाद शाम को लौटकर नहीं आया।
- परिवारवाले रात करीब 8:45 बजे फैक्ट्री में पहुंचे तो आरोपी कमल बड़े भाई संदीप को भगाकर ले जा रहा था। घरवालों ने छत पर जाकर देखा तो कमलपुरी मृत पड़ा था।
- फैमिलीवालों ने पुलिस को सूचना दी। जानकारी मिलने पर डीएसपी संदीप मलिक, एसएचओ नरेंद्र कुमार और चौकी इंचार्ज सुरेंद्र मौके पर पहुंच गए।
- कमलपुरी के ताऊ के बेटे कुश के बयान पर पुलिस ने संदीप और कमल के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है।

लोडेड गन को हमेशा साथ रखता है आरोपी
- आरोपी संदीप अपनी लाइसेंसी पिस्टर हमेशा साथ लेकर चलता था।

- वह शादीशुदा है और उसके दो बच्चे हैं। छोटा भाई कमल किराए के मकान में रहता है। संदीप नशे का आदी था।

- कमलपुरी की कनपटी पर गोली का एक निशान मिला है। पुलिस सोमवार को शव का पोस्टमार्टम कराएगी। इसके बाद कितनी गोली लगी यह स्पष्ट हो पाएगा।

- पुलिस ने आरोपी की लाइसेंसी पिस्टल बरामद कर ली है।

पिता की मौत के बाद कमलपुरी चला रहा था घर
- फैमिलीवालों ने बताया कि कमलपुरी के पिता केवल कृष्णपुरी बिजली निगम से रिटायर्ड हुए थे। उनकी करीब पांच साल पहले मौत हो गई थी।
- कमलपुरी इकलौता बेटा था। बड़ी बहन कृति की शादी हो गई और छोटी बहन कोमल पढ़ाई करती है। पिता की मौत के बाद कमलपुरी पर ही घर की पूरी जिम्मेदारी थी।

सिर में एक ही गोली लगी
- आरोपी संदीप हमेशा अपनी लाइसेंसी पिस्टल साथ लेकर चलता था। वह शादीशुदा है और उसके दो बच्चे हैं। छोटा भाई कमल किराए के मकान में रहता है।
- संदीप नशे का आदी था। उससे पहले भी कई केस सामने आए थे। कमलपुरी की कनपटी पर गोली का एक निशान मिला।
- पुलिस सोमवार को शव का पोस्टमार्टम करवाएगी। इससे बाद कितनी गोली लगी, यह स्पष्ट हो पाएगा। पुलिस ने आरोपी की लाइसेंसी पिस्टल बरामद कर ली है।

रात 12:30 बजे तक तैनात थी पुलिस
आरोपियों ने रेलवे लाइन के बगल में रिहायशी एरिया में एक घर में फैक्ट्री बना रखी थी। जहां पर लेबरों के लिए क्वार्टर भी थे। गोली चलने के बाद आसपास के लोग दहशत में आ गए। लोग डर गए, पुलिस पहुंची तो सभी घरों में चले गए। पुलिस ने एहतियात तौर पर दो पुलिसकर्मियों को फैक्ट्री के बाहर तैनात किए हैं। रात 12:30 बजे भास्कर टीम फैक्ट्री के बाहर पहुंची तो दो पुलिसकर्मी तैनात थे।

सिर पर गिलास रखकर पिस्टल से मारा था निशाना
- आरोपी संदीप पहले भी विवादों में रहा है। करीब पांच माह पहले उसने एक युवक के सिर के ऊपर कांच का गिलास रखवाकर पिस्टल से निशाना साधा था।
- इसके बाद युवक फैक्ट्री में काम छोड़कर चला गया था। इसके बाद उसने नशे में भाजपा नेता की कार को टक्कर मार दी थी।
- भाजपा नेता ने पुलिस को शिकायत दी थी। इसके बाद आरोपी ने माफी मांगकर समझौता किया था।

शराब पीते समय हुआ झगड़ा- इंचार्ज
- आठ मरला चौकी इंचार्ज सुरेंद्र ने बताया कि संदीप और कमलपुरी अच्छे मित्र थे। फैक्ट्री में छुट्टी होने के बाद दोनों शराब पी रहे थे।
- लेनदेन के विवाद के बाद संदीप ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से कमलपुरी की गोली मारकर हत्या कर दी।
- संदीप और उसके छोटे भाई कमल के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। दोनों आरोपी फरार हैं, जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

सुपरवाइजर कमलपुरी अपने पिता की मौत के बाद घर चला रहा था। सुपरवाइजर कमलपुरी अपने पिता की मौत के बाद घर चला रहा था।
कमलपुरी के घरवालों को उसकी लाश फैक्ट्री की छत पर मिली। कमलपुरी के घरवालों को उसकी लाश फैक्ट्री की छत पर मिली।
पुलिस देर रात 12 तक घटना स्थल पर तैनात थी। पुलिस देर रात 12 तक घटना स्थल पर तैनात थी।
वारदात के बाद से दोनों आरोपी और उसका भाई फरार है। वारदात के बाद से दोनों आरोपी और उसका भाई फरार है।