पानीपत

--Advertisement--

सरपंच के बेटे समेत दो की हत्या में 11 को उम्रकैद

चुनावीरंजिश में सरपंच के बेटे समेत दो लोगों की हत्या में गुरुवार को 11 दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है।

Danik Bhaskar

Dec 22, 2017, 06:17 AM IST

सोनीपत. चुनावी रंजिश में सरपंच के बेटे समेत दो लोगों की हत्या में गुरुवार को 11 दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डीएन भारद्वाज की अदालत ने सभी पर 50-50 हजार रु. जुर्माना लगाया है। जुर्माना अदा करने पर एक-एक साल की अतिरिक्त सजा भुगतनी पड़ेगी। सोनीपत के गांव बजाना कलां निवासी ईश्वर ने 26 मई 2013 को गन्नौर थाने में शिकायत दी कि वे 6 भाई हैं। उनकी मां शकुंतला ने सरपंच का चुनाव लड़ा था। बिजेंद्र पुत्र माइधन का परिवार दूसरे उम्मीदवार का समर्थन कर रहा था।

चुनाव में शकुंतला की जीत हुई तो बिजेंद्र का परिवार उनसे रंजिश रखने लगा। मर्डर की घटना से करीब 3 माह पहले बिजेंद्र उसके एक साथी ने उनके आगे गाड़ी अड़ा दी थी। बाद में राजीनामा हो गया था। इसके बाद भी आरोपियों ने ईश्वर के भाई सुरेंद्र से हाथापाई की। 25 मई 2013 को रात 11 बजे उनके घर पर फायरिंग की गई। वे बाल-बाल बचे। अगले दिन शाम को ईश्वर का भाई जगमेंद्र खेत में चला गया। वहां बिजेंद्र ने मोहित, सुरेंद्र, संदीप, सुरेश, राजेश, नरेश, पंजाब, राजबीर, सुरेंद्र, अनूप के साथ मिलकर जगमेंद्र से मारपीट की। जगमेंद्र ने इसके बारे में भाई सुरेंद्र को बताया। दोनों मौके पर पहुंचे तो आरोपियों ने सुरेंद्र को भी पीटा और अपहरण कर गांव के पास फेंक दिया। ताऊ के लड़के सत्यवान ने रोकना चाहा तो आरोपियों ने सत्यवान सुरेंद्र की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपियों पर अपहरण कर हत्या का केस दर्ज किया था।

Click to listen..