--Advertisement--

​वायरल अॉडियो मामले पर फिर हंगामा, इनेलो MLA पूरे विधानसभा सत्र के लिए निलंबित

दो दिन और चलेगा विधानसभा का सत्र।

Danik Bhaskar | Mar 13, 2018, 04:05 PM IST
हरियाणा विधानसभा से बाहर निकलते हुए इनेलो विधायक। हरियाणा विधानसभा से बाहर निकलते हुए इनेलो विधायक।

चंडीगढ़। हरियाणा विधानसभा में मंगलवार को वायरल अॉडियो मामले पर फिर से हंगामा हुआ। इसके चलते स्पीकर ने पहले सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी। इसके बाद दोबारा जब कार्यवाही शुरू हुई तो फिर से इनेलो विधायकों ने हंगामा किया। इसके बाद स्पीकर ने मॉर्शल बुलाकर इनेलो विधायकों को सदन से बाहर कर दिया और इनेलो के 4 विधायकों को छोड़कर बाकि सभी को पूरे सत्र के लिए निलंबित कर दिया। बता दें कि अभी आने वाले दो दिन और विधानसभा सत्र चलेगा।

- पूर्व कृषि मंत्री बलबीर सैनी और पिहोवा नगर पालिका चेयरमैन अशोक सिंगला की बातचीत के वायरल अॉडियो पर मंगलवार को भी इनेलो ने सदन में हंगामा किया।
- इस पर सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि दुर्भावना से निर्णय नहीं लिया जाता। निर्णय करना इनेलो का काम नहीं है। चार्जशीट इनेलो ने दी थी तो जांच करवा कर रहे हैं।
- सीएम ने इनेलो पर वार करते हुए कहा कि आईएएस संजीव कुमार की शिकायत पर ओम प्रकाश चौटाला के खिलाफ जांच हुई फिर मुकद्दमा दर्ज हुआ। इस बात पर इनेलो विधायकों ने सदन में हंगामा कर दिया और वेल पर पहुंच गए।
- सदन में शोर शराबे के चलते कार्यवाही 15 मिनट के लिए स्थगित कर दी गई है।
- सदन में स्थगन के बाद कार्यवाही के शुरू होते ही विपक्ष ने हंगामा कर दिया। जिसके बाद स्पीकर ने अभय चौटाला, जसविंदर सन्धु को नेम किया और सदन में मार्शल बुलाए गए। जिस पर सदन में विपक्ष द्वारा जोरदार हंगामा किया गया। स्पीकर ने इनेलो के सभी विधायकों को वार्निंग दी।
- इसके बाद स्पीकर कंवरपाल गुर्जर ने हंगामा कर रहे सभी इनेलो विधायकों को मार्शलों के सहयोग से सदन से बाहर निकालवा दिया। कुल करीब दो घंटा 16 मिनट तक सदन की कार्यवाही स्थगित रही।
- कांग्रेस के विधायकों ने भी इस मुद्दे पर सदन से वॉकआउट किया। बाद में स्पीकर ने इनेलो विधायकों को विधानसभा के शेष सत्र की अवधि के लिए निलंबित कर दिया।

ये 4 विधायक नहीं हुए निलंबित
- इनेलो के विधायक परमिंद्र सिंह ढुल, नैना चौटाला, मक्खन लाल सिंगला और हरिचंद मिढ्डा को निलंबित नहीं किया गया है।

मानेसर घोटाले पर हुआ हंगामा
- मानेसर जमीन घोटाले को लेकर सदन में कांग्रेस और भाजपा विधायकों के बीच जमकर हंगामा हुआ।
- सदन में भी कांग्रेस की गुटबाजी नजर आई। मानेसर जमीन घोटाले पर मुख्यमंत्री के कांग्रेस पर निशाना साधने पर भी किरण चौधरी ने हुड्डा का बचाव नहीं किया। वे सदन में सारे मुद्दे पर मूक दर्शक बनी सदन में मौजूद रही।
- जबकि कर्ण दलाल, कुलदीप शर्मा, गीता भुक्कल, शकुंतला खट्टक ने इसका विरोध किया। इससे सदन में कांग्रेस की गुटबाजी भी नजर आई।

एसएससी चेयरमैन भारतभूषण भारती को मिठाई खिलाते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर। (फाइल) एसएससी चेयरमैन भारतभूषण भारती को मिठाई खिलाते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर। (फाइल)