--Advertisement--

नए कपड़े दिला बस से यूपी ले जाने लगा तो बच्चा रोने लगा, यात्रियों ने आरोपी पुलिस को सौंपा

बेटे की चाहत पूरी करने के लिए एक युवक ने शुकवार शाम को जाटल रोड से 9 वर्षीय दूसरी कक्षा के छात्र का अपहरण कर लिया।

Danik Bhaskar | Dec 17, 2017, 07:38 AM IST

पानीपत . बेटे की चाहत पूरी करने के लिए एक युवक ने शुकवार शाम को जाटल रोड से 9 वर्षीय दूसरी कक्षा के छात्र का अपहरण कर लिया। बच्चे को खुश करने के लिए उसने बच्चे को नए कपड़े दिलाए। 5 घंटे तक बच्चे को ऑटो में घुमाता रहा। रात को बच्चे को निजी बस में यूपी ले जा रहा था। सनौली रोड पर बच्चा रोने लगा तो यात्रियों ने बच्चे से बात की तो मामला खुल गया। बस को बबैल नाका पर रुकवाया गया। यात्रियों ने आरोपी और बच्चे को पुलिस के हवाले कर दिया। बच्चे के माता-पिता को चौकी में बुलाया गया। असंध चौकी के जांच अधिकारी एएसआई रणवीर सिंह ने बताया कि आरोपी बिहार के अररिया जिला निवासी 32 वर्षीय रामचंद्र बिंझौल में फैक्ट्री में कार्यरत है। आरोपी का कोई बच्चा नहीं है। इसलिए उसने अपहरण किया था।

पिता की दुकान से घर जाते समय किया अपहरण
जाटल रोड पर शनि मंदिर के पास रहने वाले याकूब पुत्र रसीद अहमद ने बताया कि उसकी सौंदापुर चौक पर गद्दे-रजाई की दुकान है। बेटा समीर दूसरी कक्षा में पढ़ता है। शुक्रवार को स्कूल की छुट्टी के बाद बेटा दुकान पर आया था। दोपहर 3 बजे वह घर के लिए निकला। पर पहुंचा नहीं। घर के पास से खेलते समय एक युवक टॉफी दिलाने की बात कह उसे ले गया। शाम 7 बजे तक समीर नहीं आया तो उन्हें परिजनों ने सूचना दी। रात 9 बजे पुलिस वाले घर पहुंचे और मामले की जानकारी दी।


5 घंटे तक ऑटो में घुमाता रहा आरोपी : समीर को आरोपी ऑटो से संजय चौक पर ले गया। यहां लोअर और जैकेट दिलाई। फिर ऑटो से बस स्टैंड ले गया। वहां से बस में संजय चौक आया और कैराना जाने वाली निजी बस में बच्चे को लेकर चढ़ गया। तभी समीर रोने लगा। यात्रियों ने आरोपी से पूछा तो वह हड़बड़ा गया। बच्चे ने उसको पहचानने से मना कर दिया। यात्रियों ने दोनों को पुलिस के हवाले कर दिया।