--Advertisement--

बच्ची के शव को सूंघ दरिंदो के घर पहुंचा डॉग, हैवानियत वाली जगह से खुले ये राज

6वीं क्लास की 12 साल की लड़की की हत्या कर रेप के मामले की गुत्थी डॉग स्क्वायड टीम के आने के बाद पुलिस ने सुलझा दी।

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 12:12 AM IST
शनिवार शाम को कूड़ा फेंकने गई बच्ची की लाश आरोपी के घर के नजदीक नाले के पास मिली। छात्रा के शरीर पर कपड़े नहीं थे। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। शनिवार शाम को कूड़ा फेंकने गई बच्ची की लाश आरोपी के घर के नजदीक नाले के पास मिली। छात्रा के शरीर पर कपड़े नहीं थे। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

मतलौडा / पानीपत. पुलिस ने उरलाना कलां गांव में 6वीं क्लास की 12 साल की बच्ची से दरिंदगी के बाद हत्याकर के मामले को डॉग स्क्वायड टीम की मदद से सुलझाने का दावा किया है। डॉग स्क्वायड टीम रविवार को मौके पर पहुंची। टीम नाले के पास से बरामद शव के पास खोजी कुत्ते को लेकर पहुंची। डॉग शव को सूंघने के बाद आरोपी प्रदीप के घर के आगे जा पहुंचा। घर का ताला बंद था। पुलिस ने ताला खोलकर जांच की तो अंदर से लड़की से की गई हैवानियत के सबूत मिले। घटना वाली जगह से पुलिस को जले हुए कपड़े...

- मौके से छात्रा के जले हुए कपड़े, खून के निशान मिले। जिस कूड़ादान में बच्ची कचरा फेंकने जा रही थी, वो भी मौके से बरामद कर लिया गया है। प्रदीप पर पुलिस को शक हुआ तो भीड़ से उसे पकड़कर थाने ले गई।

- पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने गांव के ही सागर के साथ मिलकर वारदात करना कबूल लिया। इसके बाद पुलिस सागर को भी मौके से पकड़कर ले गई।

- पूछताछ में दोनों ने कबूला कि दुष्कर्म के बाद नाबालिग की हत्या कर पराली में आग लगाकर छात्रा के कपड़े जलाए थे, ताकि कोई सबूत न मिले।

- कूड़ादान भी दोनों ने पड़ोसी के खाली मकान में कपड़ों के नीचे छुपा दिया था। पुलिस को घटनास्थल से शराब की बोतल के ढक्कन, नशीली बीड़ियां करामद की हैं।

आरोपियों ने कबूला- रेप के बाद हत्याकर सबूत मिटाने को पराली में आग लगा जलाए थे बच्ची के कपड़े

पूछताछ में पहले आरोपी कहता रहा कि आप कैसी बात कर रहे हो वह मेरी दोहती लगती है, लेकिन हर बार अलग-अलग बयान देने पर वह खुद ही फंस गया।


रात को पुलिस ने शिकायत तक नहीं ली
- छात्रा की नानी का कहना है कि कूड़ा फेंकने गई उनकी दोहती लौटकर घर नहीं आई। इसके बाद वे अपने स्तर पर उसकी तलाश करते रहे। नहीं मिली तो परिवारवाले रात करीब 12 गांव की पुलिस चौकी में गए। वहां पर उनकी सुनवाई नहीं हुई।

- नानी ने कहा कि पुलिसकर्मी बोले कि स्टूडेंट कहीं पड़ोसी के घर में सो गई होगी। सुबह तक आ जाएगी। आप इंतजार कर लो।

- पुलिसकर्मियों ने रात को बच्ची को तलाशने के लिए कोई प्रयास तक नहीं किए। यहां तक कि वे घटनास्थल पर भी नहीं गए।

- अगर पुलिस रात को ही तस्दीक करती तो छात्रा रात को ही मिल जाती। चौकी इंचार्ज एसआई रामेश्वर दत्त ने परिजनों को झूठा ठहराया। कहा कि परिवार वाले रात को उनके पास चौकी में नहीं आए।

- उन्हें तो शव मिलने के बाद परिवारवालों ने इत्तला दी। इसके बाद वे पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंच गए।

यह है पूरा मामला...

- डीएसपी संदीप ने बताया कि गांव के 24 साल के सागर और 25 साल की प्रदीप को गिरफ्तार कर लिया है। रिश्ते में प्रदीप विक्टिम का नाना और सागर मामा लगता है। प्रदीप के एक लड़की से संबंध हैं, जिसका बच्ची को पता था।

- उसने कुछ दिन पहले प्रदीप द्वारा प्रेमिका को लेटर देते हुए देख लिया था। प्रदीप को डर था कि छात्रा गांव में बता न दें। छात्रा ने एक बार 20 रुपए मांगे थे, नहीं देने पर सबको बताने की धमकी दी थी। इसके बाद उसने हत्या की साजिश बनाई थी।

- करीब 7 दिन पहले प्रदीप की पत्नी अपने एक बच्चे के साथ मायके गई थी। शुक्रवार को वह सागर के साथ अपने घर पर शराब पी रहा था।

- शाम करीब 5 बजे बच्ची घर के आगे से जाते हुए दिखाई दी तो उन्होंने टॉफी देने का लालच देकर उसे घर के अंदर खींच लिया। दोनों उसके जिस्म को नोचते रहे। उसी की चुनरी से आरोपियों ने बच्ची का गला घोंट दिया। इसके बाद भी उसके साथ रेप किया।

एसएचओ ने महिला का हाथ अपने सिर पर रख आरोपियों को फांसी लगवाने की कसम खाई। एसएचओ ने महिला का हाथ अपने सिर पर रख आरोपियों को फांसी लगवाने की कसम खाई।
आरोपियों ने करीब 5 बजे बच्ची को घर के अंदर खींचा था। करीब 7 बजे उन्होंने हत्या कर दी। अंधेरा होने और गांव में सबके सो जाने के बाद रात करीब 11 बजे दोनों शव को फेंककर आए। आरोपियों ने करीब 5 बजे बच्ची को घर के अंदर खींचा था। करीब 7 बजे उन्होंने हत्या कर दी। अंधेरा होने और गांव में सबके सो जाने के बाद रात करीब 11 बजे दोनों शव को फेंककर आए।
एसपी राहुल ने महिलाओं के सामने हाथ जोड़ कहा-चिंता न करें आरोपी बख्शे नहीं जाएंगे। एसपी राहुल ने महिलाओं के सामने हाथ जोड़ कहा-चिंता न करें आरोपी बख्शे नहीं जाएंगे।
बच्ची के परिवारवालों ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। बच्ची के परिवारवालों ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।