--Advertisement--

पत्नी के फोन पर मेयर के भाई को छोड़ कर भागा पति, कर रहा था ये डिमांड

पड़ोसी ने साथियों के साथ मिलकर मेयर सुरेश वर्मा के छोटे भाई नरेश वर्मा का गन प्वाइंट पर किडनैप कर लिया।

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 01:20 AM IST
पड़ोसी ने साथियों के साथ मिलकर मेयर सुरेश वर्मा के छोटे भाई नरेश वर्मा का गन प्वाइंट पर किडनैप कर लिया। पड़ोसी ने साथियों के साथ मिलकर मेयर सुरेश वर्मा के छोटे भाई नरेश वर्मा का गन प्वाइंट पर किडनैप कर लिया।

पानीपत. 30 हजार रुपए के लेन-देन के विवाद में पड़ोसी ने साथियों के साथ मिलकर मेयर सुरेश वर्मा के छोटे भाई नरेश वर्मा का गन प्वाइंट पर किडनैप कर लिया। दो कारों में आए 5 बदमाश नरेश को तामशाबाद में गन्ने के खेत में ले गए। इधर, पुलिस आरोपी के घर पहुंच गई। पत्नी से फोन कराया तो रात 8 बजे आरोपी नरेश को बबैल गांव में छोड़कर भाग गए। बबैल में मौजूद पुलिस ने एक आरोपी को पकड़ लिया। देर रात मेयर समर्थकों के साथ किला थाने में पहुंचे। पुलिस ने केस दर्ज जांच शुरू कर दी है।

30 हजार की जगह मांग रहा तीन लाख रु.

- वारदात शुक्रवार शाम करीब 7 बजे कुटानी रोड स्थित पहलवान चौक पर हुई।

- यहां रहने वाले नरेश ने बताया कि उन्होंने पड़ोसी भूपेंद्र के 30 हजार रुपए देने थे, अब वह 30 हजार की जगह तीन लाख रुपए मांग रहा है।
- शाम को उसने फोन करके पहलवान चौक पर बुलाया। यहां नरेश एक इलेक्ट्रिशियन की दुकान पर आकर बैठ गया। इस दौरान दो कारों में पांच लोग आए। भूपेंद्र व एक अन्य ने नरेश के सिर पर पिस्तौल तानी और कार में डालकर ले गए।

10 लाख रुपए की डिमांड की
- नरेश ने कहा कि आरोपी उन्हें तामशाबाद में गन्ने के एक खेत में ले गए। यहां पहले उन्हें पीटा और फिर 10 लाख की डिमांड की।
- वह भूपेंद्र के साथ आए सोनीपत के गंगाना गांव के विजय चहल को पहचानता था। डर के मारे वह बैठा रहा। इसके बाद उसने अपने जानकार को फोन करके 10 लाख रुपए दिलाने की गारंटी दिलाई। - आरोपियों ने धमकी दी कि पुलिस में शिकायत दी तो तुझे अपने बच्चों की जान से हाथ धोना पड़ेगा। आरोपियों ने फोन कर अपने दो साथियों को बुलाया, जो स्कूटी पर मोहाली गांव पहुंचे।
- नरेश को भूपेंद्र और विजय कार में मोहाली लेकर पहुंचे। इसके बाद दोनों ने एक अन्य युवक के साथ स्कूटी पर तामशाबाद की ओर चले गए। भूपेंद्र का भांजा अमित कार में नरेश को घर की तरफ लेकर चल दिए। तभी बबैल गांव के पास मौजूद पुलिस ने उनको रोक लिया।
- पुलिस ने आरोपी अमित को पकड़कर कार जब्त कर ली। कार में टेम्परेरी नंबर था।

पुलिस की तत्परता के कारण बच गया भाई : मेयर
- मेयर सुरेश वर्मा ने कहा कि भाई नरेश को कार में डालते हुए लोगों ने देख लिया था। लोगों ने उन्हें जानकारी दी। इस पर 100 नंबर पर फोन करके पुलिस कंट्रोल में वीटी कराई। तुरंत पुलिस मौके पर पहुंची।
- पुलिस की एक टीम आरोपी भूपेंद्र के घर पर पहुंची और उसके परिवार पर नरेश को छोड़ने के लिए दबाव बनाया। पुलिस की सख्ती के बाद पत्नी ने भूपेंद्र को फोन करके पुलिस के घर पर आने की सूचना दी।
- पुलिस की तत्परता के कारण आरोपियों ने भाई को छोड़ दिया। वार्ड 7 से पार्षद मेयर सुरेश वर्मा चार भाई हैं। नरेश दूसरे नंबर का है।

थाने में पहुंच कई लोग
- बबैल गांव में भाई को बरामद करने के बाद पुलिस टीम ने अपने अधिकारियों को सूचना दी। इसके बाद पुलिस उनको लेकर किला थाने पर पहुंच गई। सूचना पर रात को डीएसपी राजेश लोहान किला थाने पहुंचे।
- उन्होंने पीड़ित नरेश और पकड़े गए आरोपी से बातचीत की। इस दौरान मेयर अपने समर्थकों के साथ थाने में पहुंचे। डीएसपी केस दर्ज करने की बात कहकर चले गए।

केस दर्ज कर लिया है- डीएसपी
डीएसपी ने बताया कि नरेश की शिकायत पर भूपेंद्र, विजय चहल, अमित के खिलाफ किडनैप का केस दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है। जो भी दोषी होगा, उन सभी को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

दो कारों में आए 5 बदमाश नरेश को तामशाबाद  में गन्ने के खेत में ले गए। दो कारों में आए 5 बदमाश नरेश को तामशाबाद में गन्ने के खेत में ले गए।
पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।