विज्ञापन

अफसर न्याय के देवता शनिदेव के दरबार में बैठकर सुनेंगे जनसमस्याएं ताकि विवाद के निपटारे में लोग झूठ न बोल सकें

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2018, 05:22 AM IST

जमीन-जायदाद, पुरानी रंजिश व आपसी विवादों के मामले में लोग अक्सर झूठी शिकायतें लेकर आते हैं।

officers will listen pepole problem in Shani Dev temple
  • comment

मुरैना. जमीन-जायदाद, पुरानी रंजिश व आपसी विवादों के मामले में लोग अक्सर झूठी शिकायतें लेकर आते हैं। इस समस्या के समाधान के लिए अब जिला प्रशासन ने नई युक्ति निकाली है। 24 फरवरी को जिलेभर के पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी न्याय के देवता शनिदेव के ऐंती स्थित मंदिर में जनसमस्या निवारण शिविर लगाएंगे। इसके पीछे अफसरों का मकसद है कि भगवान शनिदेव न्याय के देवता हैं और लोग उनके मंदिर में जाकर झूठ नहीं बोलेंगे, इसलिए यहां अधिकांश सही शिकायतें आएंगी, जिनका आसानी से निकाल किया जा सकेगा।

कलेक्टर ने चुना शनि मंदिर
समस्या निवारण शिविर के लिए कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार ने शनि मंदिर का चयन किया है। शिविर में राजस्व व पुलिस संबंधी सभी तरह की शिकायतें सुनी जाएंगी। कलेक्टर खुद एसपी व अधीनस्थों के साथ मौजूद रहेंगे। यह प्रयास इसलिए भी हो रहा है क्योंकि जमीनी विवाद के निपटारे में अक्सर रंजिश के चलते अनहोनी होने का खतरा रहता है।

शनि दरबार में झूठ नहीं बोलेगा फरियादी
यहां बना त्रेतायुगीन शनि मंदिर आस्था का केन्द्र हैं। शनिदेव को धरती का सबसे बड़ा न्यायाधीश कहा जाता है इसलिए यहां आने वाला कोई भी व्यक्ति झूठ नहीं बोलता। यहां ग्रामीण हकीकत बयां करेगा, इसलिए समस्याओं का निराकरण करने में परेशानी नहीं आएगी। शसफलता मिली तो इस तरह के शिविर मंदिर पर आयोजित किए जाते रहेंगे।

X
officers will listen pepole problem in Shani Dev temple
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें