--Advertisement--

वायरल अॉडियो मामलाः सीएम ने DG विजिलेंस को सौंपी जांच, महीने में आएगी रिपोर्ट

पूर्व कृषि मंत्री और पिहोवा नगर पालिका प्रधान का अॉडियो हुआ था वायरल।

Dainik Bhaskar

Mar 13, 2018, 12:58 PM IST
विधानसभा में बोलते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर। (फाइल) विधानसभा में बोलते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर। (फाइल)

चंडीगढ़। नगर पालिका चेयरमैन बनवाने के लिए हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (एचएसएससी ) के चेयरमैन भारत भूषण भारती के बेटे सुशांत को 45 लाख रुपए देने के आरोप संबंधी ऑडियो क्लिप की जांच डीजी विजिलेंस को सौंप दी गई है। सीएम मनोहर लाल खट्टर का कहना है कि जांच रिपोर्ट 1 महीने में आएगी। विधानसभा के सत्र में कांग्रेस और इनेलो द्वारा सदन में हंगामा करने के बाद सीएम ने इसकी जांच डीजी विजिलेंस को सौंपी है। इससे पहले सोमवार को सदन में कांग्रेस और इनेलो ने हंगामा किया था, जिसके बाद उन्हें सदन से बाहर निकलवा दिया गया था। बीजेपी ने लगाए सदन में हुड्डा के खिलाफ नारे...

- मंगलवार को प्रश्नकाल के साथ बजट सत्र की कार्यवाही शुरू होते ही सदन में स्कूलों का मुद्दा गूंजा। जिसके बाद भाजपा विधायकों ने सदन में हुड्डा को गिरफ्तार करो के नारे लगाए। बीजेपी विधायकों ने सदन में कांग्रेस के खिलाफ नारेबाजी की।
- मानेसर घोटाले को लेकर आए कल सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद हरियाणा विधानसभा के अंदर भाजपा के विधायकों ने अखबार के कटिंग दिखाई और हुड्डा को बर्खास्त के नारे लगाएं।

क्या था अॉडियो वायरल मामला
- पूर्व कृषि मंत्री बलबीर सैनी और पिहोवा नगर पालिका चेयरमैन अशोक सिंगला की बातचीत का एक अॉडियो बीते रविवार को वायरल हुआ था।
- जिसमें सिंगला कह रहे हैं कि नपा चेयरमैन बनवाने के लिए हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के चेयरमैन भारत भूषण भारती के बेटे को 45 लाख रुपए दिए।
- अॉडियो वायरल होने के बाद देवीलाल सरकार में कृषि मंत्री रहे (अब भाजपा में) बलबीर सैनी ने माना कि करीब एक साल पहले सिंगला ने उनके सामने यह बात कबूली थी। तब शायद किसी ने रिकॉर्डिंग कर ली।
- सितंबर 2016 में सिंगला नपा चेयरमैन बने थे। वहीं, अशोक सिंगला की ओर से एक अॉडियो जारी कर सफाई दी गई। जिसमें कहा-पूर्व मंत्री ने राजनीतिक कारणों से यह ऑडियो जानबूझकर रिकॉर्ड कराया।
- मुझे शराब पिलाकर पूर्व मंत्री ने अपने स्वार्थों के लिए यह बात कहलवाई। चेयरमैन बनने के लिए किसी को कोई पैसा नहीं दिया। पार्षदों ने मतदान करके प्रधान चुना।
- पूर्व मंत्री मेरे साथ फैक्ट्री में हिस्सेदार थे। एक दिन मंत्री ने मुझे बुलाकर शराब पिलाई और कहा कि उनका एमपी का टिकट फाइनल हो गया है और वह विधायक का टिकट मुझको दिलवा देंगे। लेकिन भारती के खिलाफ कुछ बोलना होगा। मैं मंदिर में भी यह बात कहने का तैयार हूं।

एचपीएससी चेयमैन भारत भूषण भारती को मिटाई खिलाते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर। (फाइल) एचपीएससी चेयमैन भारत भूषण भारती को मिटाई खिलाते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर। (फाइल)
पिहोवा नगर पालिका प्रधान अशोक सिंगला। (फाइल) पिहोवा नगर पालिका प्रधान अशोक सिंगला। (फाइल)
पूर्व कृषि मंत्री बलबीर सैनी। (फाइल) पूर्व कृषि मंत्री बलबीर सैनी। (फाइल)
X
विधानसभा में बोलते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर। (फाइल)विधानसभा में बोलते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर। (फाइल)
एचपीएससी चेयमैन भारत भूषण भारती को मिटाई खिलाते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर। (फाइल)एचपीएससी चेयमैन भारत भूषण भारती को मिटाई खिलाते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर। (फाइल)
पिहोवा नगर पालिका प्रधान अशोक सिंगला। (फाइल)पिहोवा नगर पालिका प्रधान अशोक सिंगला। (फाइल)
पूर्व कृषि मंत्री बलबीर सैनी। (फाइल)पूर्व कृषि मंत्री बलबीर सैनी। (फाइल)
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..