--Advertisement--

हरियाणा पुलिस: 16 हजार पद खाली, नहीं मिल रहे वीकली ऑफ, लगातार ड्यूटी से तनाव

अधिकारी ये दावा करते हैं कि वीकली ऑफ लागू किया गया है, लेकिन कई बार लॉ एंड आर्डर के चलते इसे रद्द कर दिया जाता है।

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:29 AM IST
पुलिस कर्मचारियों का तनाव कम करने के लिए योग का सहारा लेने की भी योजना चल रही है। पुलिस कर्मचारियों का तनाव कम करने के लिए योग का सहारा लेने की भी योजना चल रही है।

हरियाणा. राज्य के पुलिस कर्मचारियों को वीकली ऑफ देने के लिए अब तक दो बार घोषणाएं हो चुकी हैं, लेकिन इन्हें अमल में लाने का आदेश एक बार भी सरकार की तरफ से नहीं आया। इसकी दो वजह हैं, पहली राज्य में लॉ आर्डर का ढांचा रह-रहकर चरमरा रहा है। दूसरी वजह प्रदेश में पुलिस मुलाजिमों के 16 हजार पद खाली पड़े हैं। ऐसे में पुलिस पर वर्क का प्रेशर अलग से है। पिछले बजट सत्र के दौरान हरियाणा विधानसभा में सीएम मनोहर लाल खट्‌टर पुलिस के वीकली ऑफ के संदर्भ में कुछ एलान करने ही जा रहे थे कि इसी बीच वे किसी और मुद्दे पर उलझ कर रह गए।

ट्रेनिंग ले रहे जवानों की तैनाती के बाद कम हो सकती है समस्या

वहीं, पुलिस के आला अधिकारी ये दावा करते हैं कि वीकली ऑफ लागू किया गया है, लेकिन कई बार लॉ एंड आर्डर के चलते इसे रद्द कर दिया जाता है। हरियाणा में अब भी 16 हजार पुलिस कर्मियों के पद खाली चल रहे हैं। वहीं, प्रदेश के पुलिस प्रशिक्षण केंद्रों में 4500 पुलिस कर्मचारी प्रशिक्षण हासिल कर रहे हैं, जो जल्द ही ड्यूटी जॉइन करेंगे। इससे ये माना जा रहा है कि पुलिस कर्मियों को सुचारू रूप से वीकली ऑफ मिलने चालू हो जाएंंगे। उधर, पुलिस कर्मचारियों का तनाव कम करने के लिए योग का सहारा लेने की भी योजना चल रही है। अभी यह योजना फाइनल नहीं है।

कुछ भी हो जाए, जिम्मेदार पुलिस को ही ठहराते हैं

कहीं पर कोई घटना हो जाए तो सबसे पहले पुलिस को ही दोषी मानते हैं। एक्सीडेंट होने पर ट्रैफिक पुलिस को दोषी ठहराया जाता है। कोई केस न सुलझे तो भी पुलिस वाला दोषी। ऐसे मामलों के चलते भी पुलिस कर्मचारी ज्यादा तनाव में रहने लगेे हैं।

लॉ एंड आर्डर भी एक अहम वजह

रिटायरमेंट ज्यादा, भर्ती कम

एक साल में करीब 1200 कर्मचारी सेवानिवृत्त हो जाते हैं। सरकार तीन से चार साल में भर्ती करती है। पुलिस में सेवानिवृत्त ज्यादा हो रहे हैं और भर्ती कम हो रही है।

तनाव से बढ़े सुसाइड केस

- कैथल महिला थाने में काम के तनाव में एक हेड कांस्टेबल ने सुसाइड की कोशिश की थी। उसका आरोप था कि एसएचओ-मुंशी उस पर काम का दबाव डालते हैं। इसलिए तनाव में रहती है और सुसाइड का प्रयास किया।

- महिला थाना जींद में भी एक महिला कांस्टेबल ने एसएचओ के खिलाफ पत्र लिखकर सुसाइड करने की धमकी दी थी। आरोप था कि एसएचओ उसे परेशान करती है।

- जींद में जेल गार्ड ने तनाव के चलते सुसाइड कर लिया। सुसाइड नोट में एक जेलर व अधिकारी पर आरोप भी लगाए थे।

6000 पुलिस कर्मियों की जल्द होगी भर्ती

हरियाणा डीजीपी बीएस संधू के मुताबिक, जल्द ही प्रदेश में 6000 पुलिस कर्मचारियों की भर्ती की जाएगी। इनमें कांस्टेबल , सब इंस्पेक्टर शामिल किए गए हैं। इसके अलावा 1500 नए एसपीओ भी भर्ती किए जाने हैं।