--Advertisement--

रोटी बैंक... जरूरतमंदोंका सुबह-शाम भर रहा पेट, मदद के लिए आप भी आएं आगे

पानीपत बस स्टैंड के सामने खुला रोटी बैंक जरूरतमंदों को मुफ्त खाना खिलाता है।

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 07:28 AM IST
पानीपत। बैंकों में पैसों के लेनदेन होने के बारे में तो आप अवगत हैं, लेकिन पानीपत बस स्टैंड के सामने खुला रोटी बैंक जरूरतमंदों को मुफ्त खाना खिलाता है। यहां पर आने वाले लोगों काे अपना नाम बताने के बाद खाने की थाली मिलती है। सुबह-शाम यहां पर रोजाना 250 के करीब पेट भरते हैं।
शहर में दानवीर और समाजसेवी दो रोटी या अपनी इच्छानुसार कोई भी राशि जमा करवाकर इस बैंक में अपना खाता खुलवा सकते हैं। बैंक में जमा रोटियां (गर्म सब्जी के साथ) जरूरतमंदों को मुफ्त में दी जाती हैं। शहर के बस स्टैंड के सामने शुरू हुए इस बैंक की शुरुआत हिसार की समाजसेवी संस्था श्री बालाजी चैरिटेबल ट्रस्ट ने की है। इसकी संभाल देखरेख की जिम्मेदारी जींद जिले के गांव ढाणी के सरपंच मुकेश को दी गई है। रोटी बैंंक की देखरेख जींद के मुकेश कर रहे हैं।
रोजाना सुबह 9 से रात्रि 10 बजे तक रहती है सेवा यहांरोज सुबह 9 बजे से रात 10 बजे तक सेवाएं दी जाती हैं। इसमें रोटी, सब्जी, चावल मिलते हैं। लंगर भंडारे के पास रसोई में खाना तैयार करते हैं। सप्ताह में 3 दिन खीर लड्डू भी दिए जाते हैं। कढ़ी, आलू, गोभी, गाजर, मटर, दाल अन्य सब्जियां बनाते हैं।
सरपंच मुकेश बताते हैं कि रोटी बैंक का सिलसिला हिसार में रेलवे रोड पर हुआ है। इसे शुरू करने वाली बालाजी ट्रस्ट के संचालक एवं सेवक बलविंद्र नैन ने इसी तरह का रोटी बैंक जींद के सरकारी अस्पताल रोड, फतेहाबाद में बस स्टैंड के सामने और पानीपत में बस स्टैंड के सामने शुरू किया है। इसके बाद अब कैथल में शुरू करने की योजना है। सरपंच मुकेश ने बताया कि वह अपनी पत्नी को दवाई दिलवाने के लिए हिसार गए थे। उन्होंने रोटी बैंक में खाना खाया। वहीं से इस सेवा में जुड़ गए और पानीपत रोटी बैंक की जिम्मेदारी ली।