पानीपत

--Advertisement--

हड़ताली एनएचएम कर्मचारियों की बर्खास्तगी शुरू कुछ कर्मचारी काम पर लौटे, कुछ अभी भी अड़े

नेशनल हेल्थ मिशन कर्मचारियों की शनिवार को भी प्रदेभर में हड़ताल जारी रही।

Danik Bhaskar

Dec 10, 2017, 05:14 AM IST

पानीपत. नेशनल हेल्थ मिशन कर्मचारियों की शनिवार को भी प्रदेभर में हड़ताल जारी रही। मुख्यालय से बातचीत का निमंत्रण मिलने पर शाम को कुछ कर्मचारी चंडीगढ़ रवाना हुए। देर शाम तक कर्मचारियों की अधिकारियों या सरकार से बातचीत नहीं हुई थी। रोहतक जिला प्रधान ओमपाल का कहना है कि प्रिंसिपल सेक्रेट्री से बातचीत आज रात ही होगी या कल, यह अभी स्पष्ट नहीं है।


सिरसा में स्वास्थ्य विभाग के नोटिस की अनदेखी कर काम पर नहीं लौटने वाले एनएचएम के 481 हड़ताली कर्मचारियों को विभाग ने शनिवार सुबह बर्खास्त कर दिया है। हालांकि चार कर्मचारियों ने इससे पहले ड्यूटी ज्वाइन कर ली। वहीं बर्खास्त कर्मचारियों में 19 आयुर्वेदिक व होम्योपैथी डॉक्टरों सहित एएनएम, स्टाफ नर्स, एंबुलेंस व कंप्यूटर ऑपरेटर सहित सभी एनएचएम कर्मचारी शामिल हैं। पानीपत में 218 व फतेहाबाद में 355 कर्मियों और करनाल में 6 कर्मचारियों को बर्खास्त करने का लेटर जारी किया है।
इधर, झज्जर में एनएचएम कर्मचारी शनिवार को जहां आरा बाग स्टेडियम में कृषि मंत्री से बात करने पहुंचे। लेिकन पुलिस ने उन्हें समारोह स्थल पर जाने से रोक दिया। कर्मचारियों ने 11 दिसंबर तक हड़ताल जारी रहने की चेतावनी दी है।
कुरुक्षेत्र में हड़ताल करने वाले 291 कर्मियों को बर्खास्त किया है। इधर, कैथल में बर्खास्तगी के डर से एनएचएम कर्मचारी दोफाड़ हो गए। प्रधान ने दोपहर बाद हड़ताल खत्म कर लिया जॉइन, जबिक अन्या कर्मचारियों ने रविवार को भी धरना देने की बात बात कही।

इधर, नहीं सुधरे हालात, प्रदेशभर में प्रभावित रहीं स्वास्थ्य सेवाएं

गोहाना में स्वास्थ्य विभाग का दावा था कि एनएचएम कर्मचारियों की हड़ताल से स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित नहीं होने दी जाएंगी। विभाग के दावों की शनिवार को जब पोल खुली जब जज्जा-बच्चा को एम्बुलेंस तक नहीं मिली। परिजनों को निजी वाहन से दोनों को घर ले जाना पड़ा।

Click to listen..