Hindi News »Haryana »Panipat» Thief Flew Away With 7 Million Gazettes

सालभर में ही 10 किलो सोने की चेन, ढाई करोड़ की भैंस-गाय, 7 करोड़ के गैजेट्स उड़ा ले गए चोर

प्रदेश में सालभर में ही गले से 3 करोड़ रु. कीमत की 10 किलो सोने की चेन छीन ली गईं।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 19, 2017, 07:08 AM IST

सालभर में ही 10 किलो सोने की चेन, ढाई करोड़ की भैंस-गाय, 7 करोड़ के गैजेट्स उड़ा ले गए चोर

चंडीगढ़/ पानीपत।प्रदेश में सालभर में ही गले से 3 करोड़ रु. कीमत की 10 किलो सोने की चेन छीन ली गईं। 7 करोड़ के मोबाइल, लैपटॉप और आईपैड जैसे गैजेट्स चोरी हो गए। घर के बाहर बंधी ढाई करोड़ की गाय-भैंस खोल लीं। 88 लाख रु. कीमत के करंट दौड़ते बिजली के तार कई किलोमीटर तक काट लिए गए। बेचैन करने वाले ये आंकड़े साल 2016 के हैं। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो (एनसीआरबी) की रिपोर्ट के मुताबिक सात प्रदेशों से घिरे हरियाणा में हर माह औसतन 4.56 करोड़ रु. की चोरी, लूट, डकैती, छीना-झपटी हो रही है। 261 करोड़ की चल संपत्ति चोर-लुटेरे उड़ा ले गए। 54 हजार से ज्यादा कर्मचारियों वाला पुलिस महकमा महज 30% से भी कम वस्तुओं की रिकवरी कर पाता है।

सबसे ज्यादा हाथ साफ वाहनों पर करते हैं, हर माह 4.5 करोड़ के ले गए

हर दिन 15 लाख 20 हजार कीमत के वाहन चोरी हो रहे हैं। यानी साल में 54 करोड़ 75 लाख के वाहन चोर उड़ा ले गए। चोरों ने 13158 बाइक चुराई, जिनकी कीमत 1 करोड़ 56 लाख से ज्यादा है। 13 करोड़ कीमत की 1246 कार आदि चुराई। मल्टी यूज वाहन भी 188 चुराए। जिनकी कीमत 24 लाख से ज्यादा है। 2 करोड़ 80 लाख की टैक्सी, जीप, वैन आदि चोरी की गई। 365 ट्रक, 7 बसें, 233 थ्री-व्हीलर और 244 अन्य वाहनों की भी चोरी हुई।

मोबाइल-लैपटॉप तक नहीं छोड़ते

चोरों ने 1732 मामलों में 3 करोड़ 45 लाख के मोबाइल चुराए। जबकि 627 जगह से एक करोड़ 70 लाख रुपए के लैपटॉप उड़ा ले गए। पुलिस करीब 98 लाख के मोबाइल और 31 लाख के लैपटॉप ही बरामद कर पाई। 2 करोड़ 43 लाख के आईपैड जैसे गैजेट्स चोरी हुए। बरामदगी महज 59 लाख के गैजेट्स की हो पाई है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×