--Advertisement--

काम की 3 खबरें : यूएचबीवीएन का सर्कुलर जारी, स्वास्थ्य विभाग निशुल्क लगाएगा टीेके, स्कूलों में बढ़ेगी सुरक्षा

हरियाणा बिजली वितरण निगम ने हर माह लगने वाले 5 पैसे प्रति यूनिट टैक्स को रिवाइज कर दिया है।

Danik Bhaskar | Jan 21, 2018, 08:18 AM IST

सोनीपत. नगर निगम क्षेत्र में रहने वाले बिजली उपभोक्ताओं को अपनी जेब ढीली करनी होगी, क्योंकि उत्तरी हरियाणा बिजली वितरण निगम ने हर माह लगने वाले 5 पैसे प्रति यूनिट टैक्स को रिवाइज कर दिया है। नई दर के तहत अब उपभोक्ताओं को अभी तक आने वाले बिल का दो प्रतिशत चुकाना होगा। जिसका बिल हर माह 500 यूनिट आता था, ऐसे उपभोक्ताओं काे अब हर महीने कम से कम 200 रुपए अतिरिक्त चुकाना होगा। यानि कि हर बिल पर करीब 400 रुपए का बोझ बढ़ जाएगा। सबसे अधिक मार इंडस्ट्रीज उपभोक्ताओं पर पड़ने वाली है। जिससे 10 हजार तक भार बढ़ जाएगा। मुख्यालय ने सर्कुलर जारी कर सभी एसई, एक्सईएन और एसडीओ को अवगत कराया है।

1995 में रिवाइज हुआ था टैक्स
नगर निगम की ओर कुछ माह पूर्व मेंटीनेंस टैक्स में बढ़ोतरी का प्रस्ताव भेजा गया था। सरकार ने अब कुल बिल पर नगर निगम टैक्स दो प्रतिशत लगा दिया है। एम टैक्स नपा या नप का मेंटिनेंस चार्ज है, जिसे शहर में लगी स्ट्रीट लाइट्स की खराबी और उसके मेंटिनेंस संबंधी खर्चे के रूप में उपभोक्ताओं से वसूला जाता है। 23 साल बाद बदलाव हुआ है।

सरकारी अस्पतालों में लगेंगे खसरा व रुबेला के टीके

अप्रैल से 9 माह से 15 साल तक के बच्चों को खसरा व रुबेला के फ्री इंजेक्शन लगाए जाएंगे। खसरा व रुबेला पर नियंत्रण स्वास्थ्य विभाग शिक्षा विभाग व पंचायती राज विभाग के साथ मिलकर काम करेगा। पंचायतें भी खसरा व रुबेला के खिलाफ जागरूकता अभियान चलाएगी। स्वास्थ्य विभाग शिक्षा विभाग के साथ मिलकर हर स्कूल व आंगनबाड़ी में जाकर बच्चों को खसरा के टीके लगाएगा। प्राइवेट अस्पतालों में खसरा का टीका 1 हजार से 1200 रुपए में लगता है। यह 1 हजार का टीका स्वास्थ्य विभाग अप्रैल से फ्री लगाएगा। इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं है। जिसने पहले ये इंजेक्शन लगवा रखा है उसको ये दोबारा लगाया जाएगा। पानीपत के सिविल सर्जन डॉ. संतलाल वर्मा ने बताया कि सरकार ने 2020 तक भारत को खसरा मुक्त करने का निश्चय लिया है।

हरियाणा पुलिस के स्कूलों में तैनात होंगे काउंसलर

पहले गुड़गांव और अब यमुनानगर की घटनाओं से सबक लेते हुए हरियाणा पुलिस अपने सभी 18 स्कूलों में इसी शैक्षणिक सत्र से एक-एक काउंसलर रखेगी। इन स्कूलों में इस समय करीब 13 हजार बच्चे अध्ययनरत हैं। एक करार के तहत डीएवी इन स्कूलों का संचालन कर रही है। प्रदेश के अन्य सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में भी एक-एक काउंसलर रखे जाने के लिए सरकार को सिफारिश भी भेजी जाएगी। यह जानकारी राज्य के पुलिस महानिदेशक बीएस. संधू ने दी। उन्होंने बताया कि राज्य के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर राज्य सरकार कानून भी बनाएगी। इधर, मुख्यमंत्री ने शनिवार शाम को नई दिल्ली स्थित हरियाणा भवन में एक उच्च स्तरीय मीटिंग बुलाकर राज्य में कानून-व्यवस्था के हालात को लेकर चर्चा की। पुलिस अधिकारियों ने यमुनानगर और अन्य जगहों पर हुई क्राइम की घटनाओं से अवगत कराया।