--Advertisement--

2 साल पुराने बदले के लिए किया लड़के का मर्डर, सालभर पहले हुई थी शादी

दो साल पुरानी रंजिश के चलते मंगलवार रात को कुछ युवकों ने एक 26 साल के युवक की चाकू घोंपकर हत्या कर दी।

Dainik Bhaskar

Dec 14, 2017, 12:06 AM IST
मृतक अमित के चचेरे भाई राजेश ने बताया कि विकास अमित उर्फ नोनी मंडी में फ्रूट की रेहड़ी लगाता था। अब उसकी मौत के बाद परिवार पर गहरा आर्थिक संकट पड़ा है। मृतक अमित के चचेरे भाई राजेश ने बताया कि विकास अमित उर्फ नोनी मंडी में फ्रूट की रेहड़ी लगाता था। अब उसकी मौत के बाद परिवार पर गहरा आर्थिक संकट पड़ा है।

करनाल. दो साल पुरानी रंजिश के चलते मंगलवार रात को कुछ युवकों ने एक 26 साल के युवक की चाकू घोंपकर हत्या कर दी और एक युवक को गंभीर रूप से घायल कर दिया। घायल युवक को कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कॉलेज में दाखिल कराया। हालत गंभीर होने पर उसे रेफर कर दिया गया। बताया जा रहा है कि पिछले साल ही अमित की शादी हुई थी। उसकी पत्नी पांच माह से प्रेग्नेंट है। वह अपनी एक बहन की शादी के लिए दिन रात कमा रहा था।

ऐसे की युवक की हत्या

- मृतक अमित के चचेरे भाई राजेश ने बताया कि विकास अमित उर्फ नोनी मंडी में फ्रूट की रेहड़ी लगाता था।

- मंगलवार रात को अमित उसके साथ ही बाइक पर आया और रांवर रोड पर एक चप्पल की फैक्ट्री के समीप उतर गया। उसने कहा कि वह घर के लिए नारियल का तेल लेकर जाएगा। जैसे ही अमित वहां उतरा तो उसे उसका दोस्त संजय वहां मिल गया। इस बीच रांवर गांव के रहने वाले पर्व अन्य पांच-छह युवकों के साथ वहां पहुंचा और चाकू से संजय व अमित पर हमला कर दिया।

- उन्होंने अमित के पेट में चाकू घोंप दिया, जिससे उसकी मौत हो गई, जबकि संजय को भी चाकू से वार कर घायल कर दिया।

- अमित के चचेरे भाई राजेश ने बताया कि अक्टूबर 2015 में दशहरे के आसपास एक मामले में रांवर गांव के एक समाज के लोगों ने उनके घरों में आगजनी व तोड़फोड़ की थी।

- उन्होंने उनके परिवार के ही एक सदस्य की भी हत्या कर दी थी। इसी रंजिश के चलते अमित की हत्या की गई है।

अमित परिवार में था अकेला कमाने वाला

- अमित परिवार में अकेला ही कमाने वाला था। वह फ्रूट की रेहड़ी लगाकर परिवार का गुजारा कर रहा था।

-युवक की मौत पर परिजनों का गुस्सा फुट पड़ा और उन्होंने जमकर पोस्टमार्टम के दौरान हंगामा किया।

- डीएसपी करनाल राजीव कुमार व एसडीएम नरेंद्र पाल मौके पर लोगों को आश्वासन देकर शांत कराया।

5 गन लाइसेंस बनवाने का मिला आश्वासन

- अमित के चचेरे भाई राजेश ने कहा कि उन्हें अपनी जान का खतरा है, क्योंकि रंजिश के चलते उनके परिवार से ही एक युवक की पहले ही हत्या कर दी गई।

- ऐसे में एक और युवक की हत्या कर दी गई है। ऐसे में उन्हें भी अपनी जान का खतरा है। इस लिए पुलिस से गन लाइसेंस की मांग की।

- एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने उन्हें पांच गन लाइसेंस बनवाने का आश्वासन दिया।

अमित की हत्या के बाद परिवार के लोगों ने हंगामा किया। अमित की हत्या के बाद परिवार के लोगों ने हंगामा किया।
डीएसपी रंधावा ने अमित के परिवार वालों को आश्वासन देकर मनाया तब जाकर उसका अंतिम संस्कार किया गया। डीएसपी रंधावा ने अमित के परिवार वालों को आश्वासन देकर मनाया तब जाकर उसका अंतिम संस्कार किया गया।
अमित के परिवारवालों का कहना है कि उन्हें भी अपनी जान का खतरा है। इस लिए पुलिस से गन लाइसेंस की मांग की। अमित के परिवारवालों का कहना है कि उन्हें भी अपनी जान का खतरा है। इस लिए पुलिस से गन लाइसेंस की मांग की।
अमित परिवार में अकेला ही कमाने वाला था। अमित परिवार में अकेला ही कमाने वाला था।
X
मृतक अमित के चचेरे भाई राजेश ने बताया कि विकास अमित उर्फ नोनी मंडी में फ्रूट की रेहड़ी लगाता था। अब उसकी मौत के बाद परिवार पर गहरा आर्थिक संकट पड़ा है।मृतक अमित के चचेरे भाई राजेश ने बताया कि विकास अमित उर्फ नोनी मंडी में फ्रूट की रेहड़ी लगाता था। अब उसकी मौत के बाद परिवार पर गहरा आर्थिक संकट पड़ा है।
अमित की हत्या के बाद परिवार के लोगों ने हंगामा किया।अमित की हत्या के बाद परिवार के लोगों ने हंगामा किया।
डीएसपी रंधावा ने अमित के परिवार वालों को आश्वासन देकर मनाया तब जाकर उसका अंतिम संस्कार किया गया।डीएसपी रंधावा ने अमित के परिवार वालों को आश्वासन देकर मनाया तब जाकर उसका अंतिम संस्कार किया गया।
अमित के परिवारवालों का कहना है कि उन्हें भी अपनी जान का खतरा है। इस लिए पुलिस से गन लाइसेंस की मांग की।अमित के परिवारवालों का कहना है कि उन्हें भी अपनी जान का खतरा है। इस लिए पुलिस से गन लाइसेंस की मांग की।
अमित परिवार में अकेला ही कमाने वाला था।अमित परिवार में अकेला ही कमाने वाला था।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..