Hindi News »Haryana »Panipat» Women Seeks Her Brother Dead Body To Admistraion

3 दिन से मलबे में है भाई, बहन बोली- कम से कम लाश तो निकाल दो

अधिकारी नए साल के जश्न में मस्त रहे और फैक्ट्री के बाहर दो परिवार अपनों की तलाश में आंसू बहाते रह गए।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 02, 2018, 12:54 AM IST

  • 3 दिन से मलबे में है भाई, बहन  बोली-   कम से कम लाश तो निकाल दो
    +5और स्लाइड देखें

    पानीपत. यहां के भगवती एक्सपोर्ट फैक्ट्री के मलबे दबे दो लोगों को खोजने में प्रशासन ने लापरवाही की हदें पार कर दीं। 3 दिन बाद भी न तो रेस्क्यू शुरू किया, न ही कोई बड़ा अधिकारी मौके पर पहुंचा। जिम्मेदार अधिकारी नए साल के जश्न में मस्त रहे और फैक्ट्री के बाहर दो परिवार अपनों की तलाश में आंसू बहाते रह गए। एक महिला ने कहा कि भाई को निकालने के लिए 3 दिन से प्रशासन ने एक ईंट तक नहीं हिलाई। अब कम से कम लाश तो दिला दो। बता दें कि बाथमेट फैक्ट्री में 30 दिसंबर को आग लगी थी।

    धुंए में कुछ नजर नहीं आ रहा था, अंदाजे से बाहर आए लोग
    - सोनू के भाई रिंकू ने बताया कि पहली मंजिल पर फोरनिडिल मशीन चला रहे यूपी के बदायूं के रायपुर के रहने वाले 22 साल के सोनू और शामली का रहने वाला 25 साल का नंदू फैक्ट्री में दबे हैं। दोनों यहां कुटानी रोड पर रहते थे।

    - हादसे वाले दिन वह सोनू के साथ पहली मंजिल पर हाल में मशीन चला रहा था। तभी खड्डी मशीन का मास्टर नीचे से भागते हुए आया और बोला कि आग लग गई।

    - हाल में करीब 15 मजदूर थे, सभी पीछे वाली सीढ़ियों पर गए। इन सीढ़ियों में धागा भरा हुआ था और धुएं में कुछ नहीं दिखाई दिया। इसलिए मैन गेट वाली सीढ़ियों के पास आए। यहां पर भी धुआं-धुआं था।

    - सीढ़ियों पर गिरते-पड़ते अंदाजे से बाहर निकल गए। लेकिन सोनू और नंदू अंदर ही रह गए। फोन किया तो स्चिच ऑफ आया। दोनों पीछे वाले सीढ़ियों के पास ही फंसे होंगे। फैक्ट्री से बाहर निकलने के लिए सिर्फ एक ही गेट था।

    फैमिलीवाले पहुंचे विधायक के घर

    - सोमवार को दोनों परिवारों के लोग विधायक के घर पहुंचे। नंदू के भाई विपिन, मौसी ओमवती, अरविंद्र ने बताया कि रेवड़ी ने आधा घंटे में क्रेन मौके पर पहुंचकर बिल्डिंग गिराने का काम शुरू करने की बात कही।

    - शाम करीब 4 बजे क्रेन से बिल्डिंग गिराने का काम शुरू हुआ। करीब आधा घंटे में फैक्ट्री का छोटा-मोटा क्षतिग्रस्त हिस्सा गिरा ही था कि क्रेन कर्मचारियों ने भी खतरा होने की बात कहकर काम बंद कर दिया।

    बहन बोली- भाई फैक्ट्री में दबा, प्रशासन कम से कम लाश को निकाल दें

    - नंदू की बहन कविता ने कहा कि भाई तीन दिन से मलबे में है। प्रशासन ने कोई प्रयास नहीं किया। तुरंत बचाव कार्य शुरू होता तो भाई जिंदा भी बच सकता था।

    - अब तो हम भी उम्मीद छोड़ चुके हैं, लेकिन कम से कम उसकी लाश को तो निकाला जाए।

    - हमारा परिवार गरीब है और दूसरे राज्य का है, इसलिए प्रशासन ध्यान नहीं दे रहा है।

    फैक्ट्री मालिक को तो इंश्योरेंस का मुआवजा मिल जाएगा, इसलिए उसने भी कोई प्रयास नहीं किए।

    - वहीं सोनू की बहन की सास कुसुम वशिष्ठ ने कहा कि अधिकारी कुछ नहीं कर रहे हैं। सोमवार सुबह 7 बजे पहुंच गए थे, कोई पूछने तक नहीं आया।


    सारा सामान अंदर से फंसा
    - फैक्ट्री के बगल में किराए पर रहने वाली सुमन ने बताया कि हादसे के दिन वह दूसरी फैक्ट्री में काम करने गई थी, शाम करीब 6:30 बजे घर पहुंची तो आग लगी थी।

    - फैक्ट्री की बिल्डिंग उनके किराए के मकान पर गिर गई थी। इसलिए किसी ने अंदर तक नहीं जाने दिया। सारा सामान कमरे में ही रखा हुआ है। तीन दिन से वह एक ही कपड़े पहने हुए हैं।


    अपहरण का केस दर्ज- इंचार्ज
    किशनपुरा चौकी इंचार्ज वीरेंद्र सिंह ने बताया कि भाइयों के बयान पर नंदू और साेनू के का केस दर्ज किया गया है। बिल्डिंग क्षतिग्रस्त थी, जो कभी भी गली में गिर सकती थी, उसको गिरा दिया गया। अब रास्ता खोल दिया है। बिजली विभाग की टीम ने भी सप्लाई शुरू करने के लिए केबिल डाली है। जल्द ही सर्च अभियान शुरू किया जाएगा।



    रेस्क्यू में एरिया सबसे बड़ी बाधा, मंगलवार को गिराई जाएगी बिल्डिंग : डीसी
    - डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि रेस्क्यू में फैक्ट्री वाला एरिया सबसे बड़ी बाधा है। एकदम से आग बुझाने में परेशानी हो रही है। आप देखते होंगे कि लगातार प्रयास ये है कि पहले आग बुझाई जाए। ऐसा न हो कि दो को निकालने में बचाव दल भी मुश्किल में आ जाए। ऐसा हुआ तो और सवाल खड़े हो जाएंगे। पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन की रिपोर्ट आ गई है। मंगलवार को फैक्ट्री गिराई जाएगी।



  • 3 दिन से मलबे में है भाई, बहन  बोली-   कम से कम लाश तो निकाल दो
    +5और स्लाइड देखें
  • 3 दिन से मलबे में है भाई, बहन  बोली-   कम से कम लाश तो निकाल दो
    +5और स्लाइड देखें
  • 3 दिन से मलबे में है भाई, बहन  बोली-   कम से कम लाश तो निकाल दो
    +5और स्लाइड देखें
  • 3 दिन से मलबे में है भाई, बहन  बोली-   कम से कम लाश तो निकाल दो
    +5और स्लाइड देखें
  • 3 दिन से मलबे में है भाई, बहन  बोली-   कम से कम लाश तो निकाल दो
    +5और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×