• Home
  • Haryana
  • Panipat
  • 7 साल बाद गेहूं के रिकाॅर्ड उत्पादन की उम्मीद
--Advertisement--

7 साल बाद गेहूं के रिकाॅर्ड उत्पादन की उम्मीद

पानीपत | 7 साल बाद प्रदेश की जमीन फिर रिकाॅर्ड गेहूं उत्पादन कर सकती है। 25.58 लाख हेक्टेयर में गेहूं की फसल है। इससे...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:20 AM IST
पानीपत | 7 साल बाद प्रदेश की जमीन फिर रिकाॅर्ड गेहूं उत्पादन कर सकती है। 25.58 लाख हेक्टेयर में गेहूं की फसल है। इससे प्रदेश में कृषि विभाग ने 117.80 लाख टन गेहूं उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया है। गेहूं वैज्ञानिकों की मानें तो वर्ष 2011-12 का 131 लाख टन का रिकाॅर्ड टूट सकता है।

117.80 लाख टन उत्पादन का लक्ष्य, 110 रु. बढ़ा एमएसपी

यूपी के गेहूं की खरीद नहीं





7 साल में यूं हुआ गेहूं उत्पादन

वर्ष कुल उत्पादन अौसत प्रति हेक्टेयर

2011-12 131 लाख टन 5183

2012-13 111 लाख टन 4452

2013-14 118 लाख टन 4722

2014-15 103 लाख टन 3979

2015-16 113 लाख टन 4407

2016-17 123 लाख टन 4841

नोट : कुल उत्पादन लाख टन में, प्रति हे. औसत उत्पादन िकग्रा. में।

टूट सकते हैं

पिछले रिकाॅर्ड

गेहूं एवं जौ अनुसंधान निदेशालय करनाल के निदेशक डॉ. जीपी सिंह का कहना है कि अबकी बार गेहूं उत्पादन बंपर होगा। पिछले रिकाॅर्ड टूट सकते हैं, क्योंकि मौसम ने पूरा साथ दिया है।

1625 रुपए प्रति क्विंटल भाव मिला था पिछले साल किसानों को। अबकी बार 1735 रुपए प्रति क्विंटल।

40 प्रतिशत हैफेड द्वारा, खाद्य व पूर्ति विभाग द्वारा 33 प्रतिशत, हरियाणा वेयरहाउसिंग कारपोरेशन द्वारा 15 प्रतिशत, भारतीय खाद्य निगम द्वारा 12 प्रतिशत गेहूं की खरीद होगी।

16.17 लाख किसान परिवार प्रदेश में गेहूं उगाते हैं।

80 लाख टन गेहूं

सेंट्रल पूल में जाएगा

अबकी बार प्रदेश से करीब 80 लाख टन गेहूं केंद्रीय पूल में जाने की संभावना बनी है। हरियाणा की ओर से केंद्रीय पूल में करीब 15 फीसदी खाद्यान्न का योगदान रहता है।

4900 करोड़ रुपए का रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से प्रबंध किया है।

25 मार्च तक 266370 गांठें राज्य जिलों में पहुंच चुकी हैं।