• Hindi News
  • Haryana
  • Panipat
  • पब्लिक स्कूलों में संस्कृत को पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए : जस्टिस अत्री
--Advertisement--

पब्लिक स्कूलों में संस्कृत को पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए : जस्टिस अत्री

Panipat News - पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के जस्टिस राजशेखर अत्री ने प्रयाग इंटरनेशनल स्कूल के वार्षिकोत्सव में कहा कि...

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2018, 03:35 AM IST
पब्लिक स्कूलों में संस्कृत को पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए : जस्टिस अत्री
पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के जस्टिस राजशेखर अत्री ने प्रयाग इंटरनेशनल स्कूल के वार्षिकोत्सव में कहा कि अंग्रेजों और पूर्व शासकों ने हमारी संस्कृति और शिक्षा पद्धति नष्ट कर दी। अब वे हमारी संस्कृति अपना रहे हैं और हम इसे पीछे छोड़ते जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी परंपरागत संस्कृति बची रहे, इसलिए पब्लिक स्कूलों के पाठ्यक्रम में संस्कृत को शामिल करना चाहिए। जस्टिस ने स्कूल प्रबंधन और अभिभावकों से कहा कि अपनी संस्कृति पर जोर देंगे तो सभी अवगुणों से मुक्ति मिलेगी।

स्कूल प्रिंसिपल अंजू गुप्ता ने स्कूल की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की। कार्यक्रम में संस्थापक सीके शर्मा ज्युडिशियल मजिस्ट्रेट अमित शर्मा, विधायक रोहिता रेवड़ी व महीपाल ढांडा, सुरेंद्र रेवड़ी, आईओसीएल सीजीएम डीसी वर्मा, पूर्व स्पीकर सतबीर कादियान, वीरेंद्र सोनी, एसडीएम गौरव कुमार, पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन प्रदीप अत्री, सीएमओ संतलाल वर्मा, डीपी कालड़ा, अनुराधा कालड़ा, विवेक नागपाल, वीरेंद्र जाखड़ मौजूद रहे।

‘आज का अभिमन्यु’ नाटक का मंचन : समारोह में “अाज का अभिमन्यु’ नामक नाटक का मंचन किया गया। जिसके क्लाइमेक्स में महाभारतकालीन अभिमन्यु से मुलाकात हुई तो 20 लाख का पैकेज छोड़कर आज का अभिमन्यु शिक्षक बन गया। नाटक में दिखाया गया कि आज का अभिमन्यु किताब, शिक्षकों के प्रोजेक्ट और मां-बाप की आकांक्षाओं के तले इस तरह से चक्रव्यूह में फंसा कि आत्महत्या करने लगा। जिसे शिक्षकों ने मानसिक तनाव से उबारा। अब उसे 20 लाख रुपए पैकेज की नौकरी लगी तो माता-पिता खुश हो गए। इस दौरान हुई मुलाकात में महाभारत कालीन अभिमन्यु ने पूछा कि मैं तो चक्रव्यूह में इसलिए मारा गया कि अपनों ने साथ नहीं दिया। तुम कैसे इस चक्रव्यूह से निकले। इस पर आज के अभिमन्यु ने कहा कि उसे तो शिक्षकों ने बाहर निकाला। इस पर पुराने अभिमन्यु ने कहा कि फिर तो तुम्हें शिक्षक ही बनना चाहिए ताकि आगे से कोई अभिमन्यु चक्रव्यूह में न फंसे।

पानीपत. प्रयाग इंटरनेशनल स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में गणेश वंदना की प्रस्तुति देते विद्यार्थी। फोटो भास्कर

प्रयाग इंटरनेशनल स्कूल में आयोजित कार्यक्रम के दौरान मौजूद मुख्य अतिथि व अन्य।

X
पब्लिक स्कूलों में संस्कृत को पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए : जस्टिस अत्री
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..