--Advertisement--

पहले से तय 31 मेंबरी कमेटी पर मुहर लगाएंगे सैनी, नई पार्टी की संभावना कम

सांसद राजकुमार सैनी की रैली को लेकर तनाव पूर्ण माहौल है।

Dainik Bhaskar

Nov 26, 2017, 05:52 AM IST
MP s will not comment on any particular caste

जींद. महात्मा ज्योतिबा फूले की पुण्य तिथि पर हुडा ग्राउंड पर रविवार को होने वाली सांसद राजकुमार सैनी की रैली को लेकर तनाव पूर्ण माहौल है। पूरा जींद शहर छावनी में तब्दील सा नजर आ रहा है। शनिवार को जींद कैथल मार्ग पूरा दिन जाम रहा। पुलिस ने 10 कंपनी अतिरिक्त फोर्स लगा रखी है वहीं, पैरामिलिट्री फोर्स भी बुलाई गई है।


उधर, इस रैली में सांसद सैनी अपने संगठन की पहले से तय 31 सदस्यीय कार्यकारिणी की घोषणा करेंगे। उनकी नई पार्टी बनाने की संभावना काफी कम हैं। अब रैली में सांसद सैनी आगे पार्टी बनानी है या नहीं। इस का फैसला कार्यकारिणी पर छोड़ेंगे। जिन लोगों को 31 सदस्यीय कार्यकारिणी में शामिल किया गया है। उनमें बालमुकंद शर्मा, हरिशमशेर शर्मा, राजमराजी शर्मा, यादव महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सतीश यादव, विरेंद्र स्वामी, धर्मसिंह छौक्कर, राकेश पायलट, श्रीपाल सैनी आदि नेता शामिल हैं। रैली की लगभग सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं । लोगों के बैठने के लिए करीब 55 हजार कुर्सियां लगाई गई हैं।


रैली में हिस्सा लेने के लिए सांसद राजकुमार सैनी दिल्ली से हेलीकॉप्टर से आएंगे। रैली स्थल के पास ही हैलीपेड बनाया गया है। रैली के लिए प्रशासन ने कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की है। शनिवार शाम को ही रैली स्थल के चारों ओर पुलिस कर्मियों की डयूटियां लगा दी गई हैं। रैली में कानून व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए प्रशासन द्वारा इसकी वीडियोग्राफी करवाई जाएगी। रैली की शर्त के अनुसार सांसद अपने संबोधन कोई भी ऐसी बात नहीं कहेंगे जो किसी जाति या समुदाय के खिलाफ हो।

भारती ने किसानों के मुद्दे छोड़ सैनी के खिलाफ खोला मोर्चा
हिसार जिले के बुढ़ाना गांव के रहने वाले संदीप भारती ने मार्च 2012 में आजाद किसान मिशन के तत्वाधान में किसानों के हक की आवाज उठानी शुरू की थी। भारती एमबीए व दिल्ली यूनिवर्सिटी से एलएलबी हैं। पिछले एक-डेढ़ साल से उन्होंने किसानों के हकों की लड़ाई छोड़ सांसद राजकुमार सैनी के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। उन पर अब तक धारा 144 के उल्लंघन से लेकर रास्ता जाम करने समेत विभिन्न धाराओं के तहत प्रदेश के कई पुलिस थानों में 20 से ज्यादा केस दर्ज हैं। संदीप ने ही सैनी पर स्याही भी फेंकी थी। भारती कहते हैं कि नेताओं द्वारा जाति-पाति को लेकर की जा रही राजनीति के खिलाफ हैं। इसी कारण वे सांसद राजकुमार सैनी के अलावा यशपाल मलिक का भी विरोध करते हैं। क्योंकि दोनों ही प्रदेश के भाईचारे को बिगाड़ रहे हैं। सांसद सैनी द्वारा जींद में जो रैली किया की जा रही है उसका यही मकसद है की समाज को आपस में बांटा जाए। इसी कारण वे इस रैली का विरोध कर रहे हैं। 26 नंवबर के बाद वे फिर से किसानों के हक की आवाज उठाएंगे।

MP s will not comment on any particular caste
X
MP s will not comment on any particular caste
MP s will not comment on any particular caste
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..