Hindi News »Haryana »Panipat» Old Man Win Race Comptioin

50 साल के बेटे के साथ दौड़े 82 के नगदा राम, दोनों ही अपने-अपने एज ग्रुप में बने चैंपियन

एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 50 साल के बेटे सुरेश अौर 82 साल के पिता नगदा राम दौड़ लगाकर अपने-अपने एज ग्रुप में प्रथम रहे।

bhaskar News | Last Modified - Nov 26, 2017, 06:40 AM IST

  • 50 साल के बेटे के साथ दौड़े 82 के नगदा राम, दोनों ही अपने-अपने एज ग्रुप में बने चैंपियन
    +2और स्लाइड देखें

    पानीपत/थर्मल.जाटलस्थित जीडी गोयनका स्कूल में शनिवार को हुई जिला मास्टर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 50 साल के बेटे सुरेश अौर 82 साल के पिता नगदा राम दौड़ लगाकर अपने-अपने एज ग्रुप में प्रथम रहे। इस चैंपियनशिप में जिले के 200 खिलाड़ी भाग लेने के लिए पहुंचे। सभी खिलाड़ियों को प्रशस्ति पत्र मेडल देकर सम्मानित किया। सम्मान समारोह में पूर्व मंत्री अोपी जैन जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग के जिला अधिकारी राजेंद्र पाल सिंह मुख्यातिथि रहे।

    जिला कुश्ती संघ के प्रधान दिलबाग सिंह खर्ब ने बताया कि जिला मास्टर एथलेटिक्स जिला स्तर पर खेल कराने के बाद प्रदेश, राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खिलाड़ियों को मौका देती है। ये वे खिलाड़ी हैं जो उम्र के इस पड़ाव में भी जज्बा रखते हैं। जहां इस उम्र में एक पानी का गिलास तक लेने के लिए बुजुर्ग बेटे बहुओं और पोते पोतियों पर निर्भर रहते हैं, ये बुजुर्ग खेलों में शामिल होकर भी अपने और परिवार के गौरव को बरकरार रखें हुए हैं। इस अवसर पर प्रधान राज सिंह आर्य, दया राम जागलान, बलवान सिंह, पर्व सरपंच रणधीर सिंह अवतार सिंह वाल्हा, गुरप्रीत सिंह, महेंद्र सिंह, कोच महिपाल, बंसी लाल, रितु मान, बिजेंद्र, नरेश कुमार सुदेश मौजूद रही।

    20 किमी दौड़ने का हौसला रखते हैं शेरसिंह
    गुरुब्रह्मानंद स्कूल में कंडक्टर शेरसिंह 65 साल की उम्र में भी 20 किलोमीटर तक दौड़ने का हौसला रखते हैं। अपने ग्रुप में वे 400 मीटर दौड़ में प्रथम रहे। इसी प्रतियोगिता में 2012 में भी 100 200 मीटर में प्रथम रहे थे। उन्होंने बताया कि कुछ दिनों पहले एक बार 32 साल के युवा ने उन्हें चैलेंज किया। दोनों पानीपत से घरौंडा तक दौड़ने की शर्त लगाकर दौड़ पड़े। वह युवक पेप्सी पुल तक ही जाकर बेहोश होकर गिर गया। वे घरौडा दौड़ते हुए पहुंचे।

    योग से बनाया अपने शरीर को मजबूत
    100मीटर दौड़ में प्रथम रहे जितेंद्र मच्छरौली को खेत में काम करते हुए 10 साल पहले सांप ने काट लिया था। इससे शरीर कमजोर होता चला गया। कमजोरी को मात देते हुए योग से शरीर को मजबूत बनाया सुबह शाम दौड़ शुरू की। गांव के इंडियन बैंक में डीसी रेट कर्मचारी जितेंद्र अपने आप को सांप के विष के आगे हार जाना नहीं चाहते थे। आज वे खेलों में भाग लेेकर युवाओं को प्रेरित कर रहे हैं।


    पोते के साथ रोजाना दौड़ते हैं नगदा राम
    ऊझागांव निवासी 82 वर्षीय नगदा राम रोजाना अपने 22 साल के पोते के साथ दौड़ते हैं। शनिवार को जब पता चला तो जिला स्तरीय एथलेटिक्स में शामिल होेने के लिए अपने भाई निरंजन सिंह रावल को लेकर आए। एक साथ कई आयु वर्ग के प्रतिभागियों को दौड़ाया गया। इसमें 45 प्लस में बेटा सुरेश 70 प्लस में पिता नगदा राम भी दौड़े। दोनों अपने-अपने वर्ग में प्रथम रहे।

    यह रहे परिणाम
    - पुरुषों के मुकाबले :{100 मीटर दौड़ में 35 साल आयु वर्ग में जसपाल प्रथम, जोगेंद्र द्वितीय बलवंत तृतीय, 45 प्लस में रणबीर ने प्रथम जगमाल द्वितीय, 50 प्लस में सुरेंद्र शर्मा प्रथम, राजकुमार द्वितीय जयपाल ने तृतीय, 55 प्लस में राजबीर मलिक प्रथम, ओमप्रकाश यादव द्वितीय इंद्र सिंह तृतीय, 70 प्लस में रणबीर प्रथम रहे।


    - 400 मीटर में 35 प्लस में बृजेश प्रथम, महेंद्र द्वितीय, 40 प्लस में नरेश कुमार प्रथम जसबीर द्वितीय, 45 प्लस में सुरेश प्रथम मुकेश द्वितीय, 50 प्लस में जयपाल प्रथम, 55 प्लस में अंग्रेज सिंह प्रथम कर्मबीर द्वितीय, 60 प्लस में प्रेम सिंह प्रथम, चूहड़ सिंह द्वितीय धर्मपाल तृतीय, 65 प्लस में शेर सिंह प्रथम, 70 प्लस में चतर सिंह प्रथम वेद प्रकाश द्वितीय, 75 प्लस में नगदा राम प्रथम रामनिवास द्वितीय रहा।


    -1500 मीटर में 35 प्लस में सुंदर सिंह प्रथम जोगेंद्र सिंह द्वितीय, 40 प्लस में जसबीर प्रथम सुरेश कुमार द्वितीय, 45 प्लस में जगमाल प्रथम रमेश द्वितीय, 50 प्लस में सुरेंद्र कुमार प्रथम, सुरेश चंद द्वितीय राजकुमार तृतीय, 55 प्लस में अंग्रेज सिंह प्रथम कर्मबीर द्वितीय, 65 प्लस में मोहन लाल प्रथम शेर सिंह द्वितीय रहे।
    - ऊंची कूद में बलवान सिंह प्रथम इंद्र सिंह द्वितीय, भाला फेंक में 35 प्लस में 50 मीटर भाला फैंक कर विजय प्रथम संदीप कुमार ने 37 मीटर फैंक कर द्वितीय रहे।
    महिलाओंके मुकाबले : 100 मीटर में 35 साल आयु वर्ग में ममता ने प्रथम, 40 प्लस में सुदेश प्रथम यशवंती द्वितीय, 60 प्लस में कमलेश प्रथम, 70 प्लस में दर्शन प्रथम, डिस्कस थ्रो में 40 प्लस में कौशल्या शर्मा प्रथम यशवंती द्वितीय रही।

  • 50 साल के बेटे के साथ दौड़े 82 के नगदा राम, दोनों ही अपने-अपने एज ग्रुप में बने चैंपियन
    +2और स्लाइड देखें
  • 50 साल के बेटे के साथ दौड़े 82 के नगदा राम, दोनों ही अपने-अपने एज ग्रुप में बने चैंपियन
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×