Hindi News »Haryana »Panipat» Rajput Society Decided No Release Padmavati Film In State

भोंडसी में राजपूत समाज की महासभा में फैसला, हरियाणा में किसी हाल में फिल्म रिलीज नहीं होने दी जाएगी

संजय लीला भंसाली द्वारा निर्मित फिल्म पद्मावती को लेकर गुड़गांव-मेवात में विरोध बढ़ता जा रहा है।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 26, 2017, 08:17 AM IST

भोंडसी में राजपूत समाज की महासभा में फैसला, हरियाणा में किसी हाल में फिल्म रिलीज नहीं होने दी जाएगी

गुड़गांव। संजय लीला भंसाली द्वारा निर्मित फिल्म पद्मावती को लेकर गुड़गांव-मेवात में विरोध बढ़ता जा रहा है। फिल्म पर रोक लगाने की मांग को लेकर शनिवार को गांव भोंडसी में एक महासभा आयोजित की गई, जिसमें राजपूत समाज के साथ जाट, गुर्जर, यादव आदि विभिन्न समाज के लोग शामिल हुए। लगभग 3 घंटे तक चली महासभा में फिल्म के खिलाफ आंदोलन का फैसला लेने के बाद राजपूत महासभा और करणी सेना के सैकड़ों कार्यकर्ता बाइक रैली निकालते हुए भोंडसी से गुड़गांव पहुंचे और यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम जिला प्रशासन के अधिकारी को ज्ञापन सौंपा।

राजपूत महासभा के आह्वान पर भोंडसी में सुबह लगभग 10.30 बजे पंचायत शुरू हुई। इसमें राजस्थान, उत्तर प्रदेश और हरियाणा के कई जिलों के लगभग 800 लोग शामिल हुए। फिल्म के खिलाफ कड़े बयान देकर चर्चा में आए हरियाणा भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता सूरजपाल अम्मू के साथ इनेलो के पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचंद गहलोत और करणी सेना अध्यक्ष लोकेंद्र कालवी भी शामिल हुए। पंचायत की अध्यक्षता सूबेदार ओमप्रकाश ने की। महासभा को जाति विशेष से ऊपर रखने की कोशिश की गई, इसलिए इसमें विभिन्न समाज के लोगों की भागीदारी सुनिश्चित की गई। पंचायत में करणी सेना के अध्यक्ष कालवी ने कहा कि हम पत्र लिखकर प्रधानमंत्री से आग्रह करेंगे कि इस मुद्दे पर वो कुछ बोलें। उन्होंने कहा कि सरकार हमसे है, हम सरकार से नहीं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा फिल्म रिलीज करने के मामले पर अम्मू ने चेताया कि हरियाणा में ऐसा नहीं होने दिया जाएगा। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री भले ही फिल्म निर्माता भंसाली को बुलाकर प्रदेश में फिल्म रिलीज कराएं, मगर हरियाणा में यह नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि भोंडसी भगवान रामचंद्र के भाई लक्ष्मण का गांव है, किसी को यह बताने की जरूरत नहीं कि लक्ष्मण ने क्या कर दिखाया था। अम्मू ने चेताया कि इतिहास के साथ जो खिलवाड़ करेगा, उसे बख्शा नहीं जाएगा।


फिल्म पद्मावती के विरोध में राजपूत समाज सहित अन्य समाज के लोगों ने सोहना से लेकर गुड़गांव तक बाइक रैली निकाली। बाइक पर हाथ में भगवा झंडे लेकर युवा फिल्म निर्माताओं के विरोध में नारे लगा रहे थे।

हरियाणा सरकार से फिल्म पर बैन लगाने की मांग की
पं
चायत में कहा गया कि देश के चार प्रदेशों ने इस फिल्म पर पूरी तरह से बैन लग गया है, लेकिन हरियाणा सरकार ने अभी तक फिल्म पर रोक नहीं लगाई है। पंचायत में इस बात पर भी जोर दिया गया कि हरियाणा सरकार से आग्रह किया जाएगा कि फिल्म पर जल्द बैन लगाया जाए। पंचायत में मौजूद लोगों ने कहा कि किसी को भी किसी की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने का हक नहीं है। पद्मावती फिल्म को लेकर जिस तरह बवाल हुआ है इस पर अब देश के प्रधानमंत्री को भी अपने विचार रखना चाहिए। पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचंद गहलोत ने कहा कि पद्मावती फिल्म में इतिहास के साथ हुआ खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। फिल्म पर पूरे देश में स्थायी रोक लगानी चाहिए। इस मौके पर अरिदमन सिंह, भोंडसी के पूर्व सरपंच संजय राघव, क्षत्रिय महासभा के पूर्व प्रधान जतन वीर राघव, इनेलो नेता किशोर यादव, सतवीर पहलवान सहित बड़ी संख्या में समाज के लोग मौजूद रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×