--Advertisement--

सीमा की मौत सिर पर भारी हथियार के मारने से हुई थी, पोस्टमार्टम रिर्पोट में हुआ खुलासा

फॉरेंसिक डिपार्टमेंट के विभागाध्यक्ष बोले- सीमा को गोली नहीं मारी, रीढ़ की हड्डी और दो पसली टूटीं।

Danik Bhaskar | Nov 25, 2017, 04:22 AM IST

पानीपत। रेलवे रोड पर गीता कॉलोनी में हुई व्यापारी दीपक की पत्नी 40 वर्षीय सीमा मखीजा की हत्या के मामले में शुक्रवार काे पोस्टमार्टम में नया खुलासा हुआ है। फॉरेंसिक डिपार्टमेंट के विभागाध्यक्ष डॉ. एसके धतरवाल ने बताया कि सीमा को गोली नहीं मारी गई। उसके सिर पर कई बार भारी हथियार से वार किए गए। इससे उसका ब्रेन भी बाहर आ गया था। उसके चेहरे पर धारदार हथियार से वार का निशान है।

इस कारण हुई मौत

- दाहिने साइड की दो पसली टूटी हैं, रीढ़ की हड्डी में भी फ्रैक्चर है। सीमा की मौत हेड इंजरी के कारण ही हुई। आशंका है कि हत्यारों ने सीमा को ऊपर से नीचे पटका है। इससे पहले पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल में डॉक्टरों का मेडिकल बोर्ड बनवाया।

- बोर्ड के सदस्यों ने शव को देखकर गोली लगने पर संशय जताया और शव को रोहतक के लिए रेफर कर दिया। पुलिस ने शुक्रवार को घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी कैमरे की जांच की।
- पुलिस ने शुक्रवार को कई जगह दबिश देकर संदिग्ध लोगों से पूछताछ की है। सीमा के पति दीपक का एक दोस्त अपने सेक्टर 13/17 स्थित घर से फरार है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई है।

- पुलिस उसके भतीजे को उठाकर थाने लाई है और पूछताछ भी की। दोस्त का सीमा के घर पर आना जाना था। उसके घर से फरार होना पुलिस का शक बढ़ा रहा है। दोस्त प्रॉपर्टी डीलर का काम करता है, उसका 12 साल का बच्चा भी है।

आज जारी करेंगे आरोपियों का स्कैच-एसएचओ
- सिटी थाना एसएचओ सुरेश सैनी ने बताया कि सीमा के शव का रोहतक पीजीआई में पोस्टमार्टम कराया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट अभी नहीं मिली। हत्या के आरोपियों की पहचान के लिए पूरे प्रयास किए जा रहे हैं। आसपास के लोगों से भी पूछताछ की गई।

- लोगों की मदद के जरिए आरोपियों के शनिवार को स्कैच जारी करवाए जाएंगे। पुलिस टीम आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की भी जांच कर रही है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

सीमा का मोबाइल मिला
देवर राहुल उर्फ हैप्पी का कहना है कि भाभी सीमा का मोबाइल पहली मंजिल पर कमरे में मिला है। पहली मंजिल पर ही सास और ससुर रहते थे। हैप्पी का कहना है कि किसी से कोई दुश्मनी नहीं है। न जाने किसने हत्या की।