--Advertisement--

६ साल की बच्ची के साथ दरिंदगी की हदें पार, खून से सनी मिली डेड बाॅडी

६ साल की बच्ची के साथ दरिंदगी की हदें पार, खून से सनी मिली डेड बाॅडी

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 12:42 PM IST
मामला हिसार जिले के कस्बा उकला मामला हिसार जिले के कस्बा उकला

हिसार। हिसार के उकलाना में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना हुई है। दिल्‍ली के निर्भया कांड से भी दर्दनाक इस घटना ने लोगों को झकझोर दिया है। यहां घर वालों के बीच सोई 6 साल की बच्‍ची को उठाकर पहले उससे दुष्‍कर्म किया और फिर हत्‍या कर दी है। सुबह नन्ही परी की डेड बॉडी खून से सनी हुई घर से ठीक 400 मीटर दूर टेलीफोन एक्सचेंज के पास मिली। दरिंदगी की हद देखिए कि बच्ची के गुप्तांग में लकड़ी तक डाल रखी थी। माता-पिता बोले-कल को कोई हमें उठा ले जाएगा...

- उकलाना के टेलीफोन एक्सचेंज के पास सुबह करीब छ‍ह बजे बच्‍ची का खून से लथपथ शव देखकर लाेगों ने तुरंत पुलिस काे इसकी सूचना दी। शव की हालत देखकर लग रहा था कि उसके साथ काफी दरिंदगी की गई है। पु‍लिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

- घटना के बाद हिसार की एसपी मनीषा चौधरी सहित कई वरिष्‍ठ अ‍धिकारी घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने घटनास्थल का दौरा किया और बच्ची के परिजनों से बातचीत की। फॉरेंसिक टीम को भी मौके पर बुलाया गया। मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया गया है।

- बच्‍ची के माता-पिता गरीब हैं और वे तंबू में र‍हते हैं। बच्ची की मां ने बताया कि वह अपनी दो बेटियों को साथ लेकर अपने तंबू में सो रही थी। रात 9 बजे तक वे जागते रहे और उसके बाद सो गए। सुबह उठने पर छोटी बेटी गायब मिली। इसके बाद उसन और अन्‍य परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की तो उसकर शव टेलिफोन एक्सचेंज के पास लहूलुहान हालत में मिला।

उसके शरीर को बुरी तरह से नोचा गया था और पूरे शरीर पर जख्म मिले हैं। बच्‍ची की चाची ने कहा कि उनकी बच्ची को घर से उठाकर नोचकर मारा डाला। ऐसे में गरीब लोगों की औरतें कहां सुरक्षित है। आज उनकी बच्‍ची को दुष्कर्म करकेे मारा है, कल हमें भी उठा लिया जाएगा।

घर से 400 मीटर दूरी पर मिली बॉडी

- पुलिस का कहना है कि किसी अन्‍य जगह बच्‍ची से दुष्कर्म किया गया और इसके बाद उसकी हत्या करके शव को यहां फेंक दिया गया। बरवाला के डीएसपी जयपाल सिंह ने बताया कि पुलिस ने भादसं की धाराआें 302, 376/2/एन, 450/367 के तहत केस दर्ज किया है। पुलिस की कई टीमें जांच में जुट गई है। डॉग स्क्वायड भी बुलाया गया है और जांच की जा रही है।

- डीएसपी जयपाल सिंह ने बताया कि बच्‍ची का खून से लथपथ शव उसके घर से करीबन 400 फीट की दूरी पर मिला था।

- पुलिस पूरी गंभीरता के साथ हर एंगल से मामले की जांच करने में जुटी हुई है और जल्दी ही हत्यारे का सुराग लगा लिया जाएगा। शव का हिसार के सरकारी अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाया गया और परिजनों को सौंप दिया गया।

माता-पिता बोले-कल को कोई हमें उठा ले जाएगा

- बच्‍ची के माता-पिता गरीब हैं और वे तंबू में र‍हते हैं। बच्ची की मां ने बताया कि वह अपनी दो बेटियों को साथ लेकर अपने तंबू में सो रही थी। रात 9 बजे तक वे जागते रहे और उसके बाद सो गए। सुबह उठने पर छोटी बेटी गायब मिली। इसके बाद उसन और अन्‍य परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की तो उसकर शव टेलिफोन एक्सचेंज के पास लहूलुहान हालत में मिला।

उसके शरीर को बुरी तरह से नोचा गया था और पूरे शरीर पर जख्म मिले हैं। बच्‍ची की चाची ने कहा कि उनकी बच्ची को घर से उठाकर नोचकर मारा डाला। ऐसे में गरीब लोगों की औरतें कहां सुरक्षित है। आज उनकी बच्‍ची को दुष्कर्म करकेे मारा है, कल हमें भी उठा लिया जाएगा।

निर्भया कांड से भी दर्दनाक है घटना: सेलवाल
- कांग्रेस के प्रदेश महासचिव व पूर्व विधायक नरेश सेलवाल ने कहा कि बच्ची के साथ जाे हुआ वह दिल्ली की निर्भया कांड से भी दर्दनाक है। आज बेटियां अपने घरों में भी सुरक्षित नहीं हैं। अपराधी उन्हें घरों से उठाकर ले जाते हैं और दुष्कर्म कर मार देते हैं। यह बेहद शर्मनाक है। राज्‍य में कानून व्यवस्था पूरी तरह से फ्लाॅप है। सरकार ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे और जल्द जल्द से आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए।

इस शख्स ने कहा-हरियाणा की बेटियां पूरी तरह से सुरक्षित

- हरियाणा विमुक्त घुमंतू जाति प्रकोष्ठ के चेयरमैन डॉ. बलवान सिंह पीड़िता के परिवार से मिलने पहुंचे। उन्होंने कहा कि यह घटना बेहद शर्मनाक है, लेकिन हरियाणा की बेटियां पूरी तरह से सुरक्षित हैं।

- जब उनसे पूछा गया कि आप हरियाणा की बेटियां सुरक्षित होने की बात कर रहे हैं, जबकि उकलाना में जघन्य अपराध हुआ है और छह साल की मासूम बच्ची को पूरी क्रूरता के साथ मार दिया गया। तब भी उनका जवाब यही था कि हरियाणा की बेटियां पूरी तरह से सुरक्षित हैं।

- उन्होंने इतना जरूर कहा कि इस मामले को लेकर वह मुख्यमंत्री से बातचीत करेंगे और जो भी आर्थिक मदद होगी वह दिलवाने का प्रयास करेंगे।