Hindi News »Haryana »Panipat» A Canteen Owner Commit Suicide At His Canteen Of Woolen Mill

वुलन मिल की कैंटीन में फंदे से लटकी मिली बॉडी, सुसाइड नोट में लिखी ये वजह

वुलन मिल की कैंटीन में फंदे से लटकी मिली बॉडी, सुसाइड नोट में लिखी ये वजह

Balraj Singh | Last Modified - Dec 30, 2017, 03:56 PM IST

पानीपत। पानीपत में एक वुलन मिल की कैंटीन में कैंटीन संचालक की डेड बॉडी फंदे पर झूलती मिली है। इस मामले को लेकर गुस्साए घर वालों ने डेड बॉडी लेने से इनकार करते हुए जीटी रोड जाम कर दिया। उनकी एक कही मांग थी कि सुसाइड नोट में मौत के लिए जिम्मेदार बताए गए कंपनी के कर्मचारियों को तुरंत अरेस्ट किया जाए। पहले पुलिस समझाती रही, लेकिन जब नहीं माने तो बीजेपी नेता सुरेंद्र रेवड़ी के भरोसे के बाद उन्होंने रोड जाम खोला और डेड बॉडी लेने पर राजी हुए। रात 11 बजे जब कैंटीन गए फैमिली मेंबर तो चला पता...

- मृतक की पहचान पानीपत के राजवीर कॉलोनी निवासी जोगेंद्र उर्फ राजकुमार पुत्र रूपचंद के रूप में हुई है। वह सीमा सिनेमा के पीछे राज वुलन मिल में कैंटीन चलाता था।
- रात में उसकी डेड बॉडी कैंटीन में फंदे पर झूलती मिली, वहीं डेड बॉडी के पास से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया गया है। सुसाइड नोट में जोगेंद्र ने अपनी मौत के लिए कंपनी के एचआर इंचार्ज और कैशियर को जिम्मेदार ठहराया है। लिखा है, 'ये लोग मेरे बिल पास मेरे बिल को लेकर दिक्कत करते हैं।'
- शनिवार सुबह जीटी रोड पर ट्रैफिक जाम कर पुलिस को कोस रहे जोगेंद्र के परिजनों ने बताया कि जोगेंद्र अक्सर शाम 7 बजे घर लौट आता था। शुक्रवार देर रात तक घर नहीं लौटा, वहीं रात 11 बजे कैंटीन में उसकी डेड बॉडी लटके होने की सूचना मिली।
- घर वाले मौके पर पहुंचे, वहीं आनन-फानन में पुलिस ने भी वहां पहुंचकर जोगेंद्र की डेड बॉडी को मोर्चरी में भिजवा मामले की जांच शुरू कर दी थी। शनिवार सुबह जोगेंद्र के घर वालों ने नेशनल हाईवे नंबर 1 जाम कर दिया।
- इसके बाद डीएसपी संदीप ने मौके पर पहुंचकर प्रदर्शनकारियों को समझाने की कोशिश की। हालांकि पुलिस ने सुसाइड नोट के आधार पर वुलन मिल के दोनों कर्मचारियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में केस दर्ज कर लिया, लेकिन जोगेंद्र के घर वाले और अन्य लोग आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी के लिए अड़े हुए थे।
- इसके बाद विधायक रोहिता रेवड़ी के पति एवं भाजपा नेता सुरेंद्र रेवड़ी ने मौके पर पहुंचकर आरोपियों काे अरेस्ट करने का भरोसा दिया, तब कहीं जाकर घर वालों ने जोगेंद्र की डेड बॉडी लेने की हामी भरी। फिलहाल हालात सामान्य हैं।

फोटोज: गोविंद कुमार सैनी

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×