--Advertisement--

महिला ने ३ बार कराया अबॉर्शन, पति ने खोली कोख की कातिल की पोल

महिला ने ३ बार कराया अबॉर्शन, पति ने खोली कोख की कातिल की पोल

Danik Bhaskar | Dec 21, 2017, 12:15 PM IST

गन्नौर(सोनीपत)। गन्नौर में महिला द्वारा तीन बार गर्भपात कराए जाने का मामला सामने आया है। तीनों ही बार उसके गर्भ में एक कन्या का भ्रूण पल रहा था। मामला पास के गांव बजाना खुर्द से जुड़ा हुआ है, जिसका खुलासा किसी और ने नही, बल्कि महिला के पति ने ही किया है। युवक ने पुलिस में सारे सबूत देकर महिला के इस कारनामे का खुलासा किया है। फिलहाल उसकी शिकायत के आधार पर पुलिस ने विभिन्न धाराओं के तहत केस रजिस्टर करके जांच-पड़ताल शुरू कर दी है। टेलीफोन पर रिकॉर्डिंग सुनने के बाद हुआ खुलासा...

- महिला के पति पवन कुमार ने बताया कि 2007 में उसकी शादी रेखा देवी से हुई थी, जिसके बाद उनके घर एक बेटी का जन्म हुआ।
- पवन ने बताया कि साल 2016 में उसकी पत्नी दोबारा गर्भवती हुई अौर उन्होंने उसके स्वास्थ्य की देखभाल करनी शुरू कर दी। रेखा ने अपने माता-पिता की सहायता से लिंग परीक्षण किया और यह जानते हुए कि यह एक लड़की थी, अपना गर्भपात करवा दिया।
- रेखा ने घर आकर अपने पति अौर ससुराल वालों को बताया कि उसका गर्भपात हो गया है, लेकिन पवन गर्भपात करवाने के बारे में उस समय पता चला जब उसने अपनी पत्नी और उसके माता-पिता के बीच टेलीफोन पर बातचीत की रिकॉर्डिंग सुनी।

महिला ने तीन बार करवाया था गर्भपात
- पवन के मुताबिक फोन रिकॉर्डिंग सुनने के बाद उसे पता कि उसकी पत्नी ने पहले भी तीन बार गर्भपात करवाया अौर हर बार उसके गर्भ में लड़की होती थी।
- पवन ने ये सारी बातें अपनी पत्नी अौर उसके परिजनों के सामने बताई, लेकिन उन्होंने अपनी गलती मानने की बजाय उल्टा उसके खिलाफ दहेज उत्पीड़न के मामले दर्ज करने की धमकी दी।

रेखा अौर उसके परिजनों पर केस दर्ज
- इसके बाद पवन ने अपनी पत्नी और ससुराल वालों के बीच फोन रिकॉर्डिंग की सीडी लेकर पुलिस से संपर्क किया, वहीं कई और भी सबूत दिए।
- पुलिस ने रेखा, उसके माता-पिता और परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ धारा 23 के तहत प्री-नेटाल डायग्नॉस्टिक टेक्निक (रोकथाम का दुरुपयोग) अधिनियम, धारा 120 बी (आपराधिक साजिश), 312 (गर्भपात के कारण) अौर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की 506 (आपराधिक धमकी) का मामला दर्ज किया है।