--Advertisement--

महिला नेता का अश्लील फोटो व्हाट्सएप्प पर वायरल

महिला नेता का अश्लील फोटो व्हाट्सएप्प पर वायरल

Danik Bhaskar | Dec 20, 2017, 02:10 PM IST
हरियाणा के पानीपत जिले का मामल हरियाणा के पानीपत जिले का मामल

समालखा(पानीपत)। पानीपत के गांव पट्टीकल्याणा में हरियाणा पुलिस के एक जवान ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। वह सोनीपत पुलिस लाइन में तीसरी पत्नी और बच्चों के साथ रहता था, वहीं गांव में पहली पत्नी के पास भी आता-जाता रहता था। श्रीराम ने गांव जाने से पहले बीमार पत्नी को इलाज के 500 रुपए दिए थे, वहीं गांव में पहुंचने के बाद फोन पर बेटे से बात करते हुए कहा था कि तुम अपनी दादी और बुआ के पास मत आना। अपनी मां के साथ ही रहना। तुम्हारी मां तुम तीनों को अच्छा पढ़ा लिखाकर अफसर बनाएगी। डेढ़ महीना गैरहाजिर रहा तो रुक गई थी सैलरी...

- पानीपत के गांव पट्टीकल्याणा का श्रीराम 2002-03 में हरियाणा पुलिस में भर्ती हुआ था। इन दिनों वह सोनीपत में ईएचसी के पद पर तैनात कार्यरत था और पुलिस लाइन में तीसरी पत्नी बच्चों के साथ रहता था। वह शराब पीने का आदी था। करीब डेढ़ माह ड्यूटी से गैरहाजिर के चलते श्रीराम की सैलरी रुक गई थी।
- स्वीटी ने बताया कि वह मंगलवार को पति के साथ जाकर डीएसपी से मिलने वाली थी। श्रीराम सोमवार को गांव में मां राजो देवी से मिलने की बात कह चला गया।
- स्वीटी की मानें तो उसने मंगलवार सुबह पति को कई बार फोन किया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। वह दोपहर करीब साढ़े 12 बजे पट्टीकल्याणा पहुंची। गांव में कमरे के दरवाजे बंद थे।
- पड़ोसियों की मदद से दरवाजा खुलवाया तो श्रीराम मृत अवस्था में पड़ा था। पहली पत्नी पर एक बेटी है, जबकि दूसरी से कोई आैलाद नहीं है। घरेलू कारणों के चलते अनबन हुई और उन दोनों को छोड़ चुके श्रीराम ने 2005 में तीसरी शादी स्वीटी से की थी।

- वह स्वीटी और बच्चों के साथ सोनीपत पुलिस लाइन में रहता था, जबकि उसकी मां राजो देवी अपनी बेटी के साथ रहती है।

स्वीटी ने लगाया परिजनों पर आरोप

- पत्नी स्वीटी ने बताया कि श्रीराम के परिवार के लोग उसके साथ झगड़ा करते थे। श्रीराम मानसिक रूप से परेशान था। उसने रोहतक पीजीआई से इलाज भी कराया था।
- उसकी मानसिक हालात को देख विभाग ने ड्यूटी पुलिस लाइन के गेट पर ही लगा रखी थी, लेकिन तीन नवंबर के बाद से वहां भी नहीं जा रहा था। उसके गैर हाजिर रहने के कारण वेतन तक रुका हुआ था।
- स्वीटी के मुताबिक सोमवार शाम के समय श्रीराम ने फोन पर बच्चों के बारे में पूछा और फिर बेटे शिवम से बात कर कहा कि मुझे कुछ हो जाए तो आपको रोना नहीं है। आप मेरे प्यारे बच्चे हो, तुम्हारा कोई नहीं है। या तो भगवान या पुलिस लाइन। आपको पढ़ लिखकर अफसर बनना है।
- स्वीटी ने यह भी बताया कि श्रीराम ने बेटे से कहा था, 'तुम अपनी दादी और बुआ के पास मत आना। अपनी मां के साथ ही रहना। तुम्हारी मां तुम तीनों को अच्छा पढ़ा लिखाकर अफसर बनाएगी।'

श्रीराम मां ने पत्नी के खिलाफ कही ये बात

- दूसरी ओर श्रीराम की की मां राजो देवी ने थाना प्रभारी के सामने कहा कि श्रीराम की पत्नी उसके साथ अक्सर झगड़ा करती थी। कभी वो उसे तलाश लेने की धमकी देती थी और जिस कारण वो क्वार्टर में भी बहुत ही कम रहता था।
- उसकी मां का आरोप है कि पत्नी की धमकियों व प्रताडऩा से तंग आकर ही उसके बेटे ने जहरीला पदार्थ खाकर जीवन लीला समाप्त की है। वहीं स्वीटी ने सास द्वारा लगाए आरोपों पर सफाई देते हुए कहा कि ऐसा कुछ नहीं है,वो उसके पास से ही तो गांव आया था।
- जांच अधिकारी एएसआई सतपाल सिंह ने बताया कि श्रीराम की मां राजो देवी के बयान पर पत्नी स्वीटी के खिलाफ आइपीसी 306 के तहत केस दर्ज कर लिया है। इसके अलावा जो सुसाइड नोट मिला है, उसमें किसी पुराने मामले का भी जिक्र किया गया है। पुलिस सुसाइड नोट के आधार पर भी मामले की गहनता से जांच कर रही है।