--Advertisement--

शाह की रैली पर हृत्रञ्ज ने नहीं सुनाया फैसला,

शाह की रैली पर हृत्रञ्ज ने नहीं सुनाया फैसला,

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2018, 12:47 PM IST
रैली स्थल का शैड। रैली स्थल का शैड।

जींद/नई दिल्ली। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की 15 फरवरी को होने वाली बाइक रैली में लगातार अड़चनें आ रही हैं। मंगलवार को नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी ) में फिर सुनवाई हुई। इस दौरान हरियाणा स्टेट प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने अपना जवाब दाखिल किया, जबकि पर्यावरण मंत्रालय व केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने कोई जवाब नहीं दिया है। इनके जवाब दाखिल करने के बाद ही एनजीटी इस मामले पर फैसला सुनाएगा। 14 फरवरी को शिवरात्रि की छुट्टी है, ऐसे में इस मामले पर अब 15 फरवरी को एनजीटी कोई फैसला सुनाएगा। ऐसे में यह देखना मुख्य रहेगा कि रैली उस दिन एनजीटी के आदेश से पहले होती है या बाद में। रैली में 1 लाख बाइक पहुंचने के खिलाफ दायर की गई थी पीआईएल...

- गौरतलब है कि 9 फरवरी को नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी ) ने इतनी संख्या में पहुंच रही बाइक से होने वाले प्रदूषण पर केंद्र और हरियाणा सरकार को नोटिस जारी किया था।

- जस्टिस एसपी वांगड़ी की अध्यक्षता वाली बेंच ने पर्यावरण मंत्रालय, हरियाणा सरकार, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को नोटिस जारी कर 13 फरवरी तक जवाब मांगा था।

- एडवोकेट विक्टर ढिस्सा ने एनजीटी में दायर याचिका में बाइक की संख्या कम करवाने का आग्रह किया था। उनकी तरफ से पेश हुए एडवोकेट सुमीर सोढी ने कहा कि प्रदूषण की वजह से इन दिनों हरियाणा समेत दिल्ली-एनसीआर के लोग स्वास्थ्य संबंधी गंभीर समस्याओं से जूझ रहे हैं। ऐसे में बाइक रैली का पर्यावरण पर और प्रतिकूल असर पड़ेगा।

रैली की तैयारियां जोरों पर
- वहीं रैली की तैयारियां जोरों पर चल रही है। मंगलवार को इन तैयारियों का जायजा लेने के लिए सीएम मनोहर लाल खट्टर और बीजेपी के प्रदेश प्रभारी सुभाष बराला पहुंचेंगे।
- बता दें कि पार्टी ने हर विधानसभा क्षेत्र को 3 से 4 ब्लॉक में बांटा है। रैली में हर विधानसभा क्षेत्र से करीब एक हजार मोटरसाइकिल ले जाने का लक्ष्य रखा गया है।
- किसी भी नेता या कार्यकर्ता को गाड़ी ले जाने की अनुमति नहीं है। यानी रैली में सिर्फ बाइक पर जाया जा सकेगा। शाह भी हेलीपैड से रैलीस्थल तक बाइक पर जाएंगे।

हाईकोर्ट में बुधवार को दायर करना है सरकार को जवाब
- पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने भी केंद्र और हरियाणा सरकार को शाह की बाइक रैली को लेकर नोटिस जारी कर रखा है।
- यह नोटिस अराइव सेफ सोसायटी द्वारा डाली गई याचिका पर जारी किया गया था। इस पर भी हरियाणा सरकार को 14 फरवरी को जवाब देना है।

महज 424 मीटर ही बाइक पर चलेंगे शाह
- रैली में अमित शाह महज 424 मीटर की दूरी ही बाइक से तय करेंगे। रैलीस्थल से मात्र 8 एकड़ दूर खेतों में दो हेलीपैड बनाए गए हैं।
- वह हेलिकॉप्टर से आएंगे और उसके बाद हेलीपैड से बाइक पर सवार होंगे। इसके लिए हेलीपैड से लेकर सड़क तक के तीन एकड़ कच्चे रास्ते को दुरुस्त किया जा रहा।
- रैली के दिन पांडु-पिंडारा से निर्जन तक का करीब 3 किलोमीटर का सड़क मार्ग पूरी तरह से बंद रहेगा। इस दिन इस मार्ग पर सिर्फ वीआईपी का ही आवागमन होगा।

जींद में अब तक पैरामिलिट्री फोर्स की 30 कंपनी पहुंचीं
- बीजेपी की बाइक रैली को लेकर सोमवार तक जींद में पैरामिलिट्री फोर्स की 30 कंपनियां पहुंच चुकी हैं। इसके अलावा दूसरे जिलों से काफी संख्या में पुलिसकर्मी जींद पहुंचे हैं। पैरामिलिट्री फोर्स की जो कंपनियां पहुंची उनमें से कई कंपनियों ने रैली स्थल से कुछ दूरी पर पांडु-पिंडारा तीर्थ स्थल पर मंदिरों, धर्मशालाओं में डेरा डाला है।

20 एलईडी से रैली को लाइव देख सकेंगे कार्यकर्ता
- शाह की बाइक रैली में आने वाले सभी कार्यकर्ताओं को लाइव प्रसारण देखने के लिए कोई असुविधा न हो, इसके लिए 300 बाई 1250 फीट के पंडाल में करीब 20 एलईडी लगेंगी।
- जो 8 बाई 20 फीट साइज की होंगी। दिल्ली की कंपनी द्वारा इसको लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। इतना ही नहीं रैली में पीएम मोदी के स्वच्छ भारत मिशन अभियान की पालना दिखाई देगी। इसके लिए स्थल के पास 850 टॉयलेट बनाए जाएंगे।
- रैली में पूरी तरह से व्यवस्था बनाए रखने के लिए अनुशासन पर जोर रहेगा। इसके लिए पहले से ही पंडाल को 40 सेक्शनों में बांटा जा रहा है। अगली लाइन में कौन बैठेगा और बीच व आखिरी में कौन-कौन होंगे, इसके लिए बाकायदा साइन बोर्ड चस्पा किए जाएंगे। रैली में आने वाले कार्यकर्ताओं की भीड़ के लिए 160 पॉइंटों पर पेयजल की सुविधा होगी।

X
रैली स्थल का शैड।रैली स्थल का शैड।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..