Hindi News »Haryana »Panipat» Baba Virender Dev Dikshit Ashram Is Running Like Gurmeet Ram Rahim Ashram

किचटतुेक्िचट ुिे्चडुकत िे्टचुकत चिे्तटुक टचे्िु

किचटतुेक्िचट ुिे्चडुकत िे्टचुकत चिे्तटुक टचे्िु

Manoj Kaushik | Last Modified - Dec 22, 2017, 03:10 PM IST

पानीपत/नई दिल्ली। दिल्ली में आध्यात्मिक विश्वविद्यालय नाम की संस्था में हाईकोर्ट द्वारा नियुक्त सीबीआई टीम ने गुरुवार को कार्रवाई कर बड़ा खुलासा किया। टीम ने उत्तर दिल्ली के रोहिणी इलाके स्थित बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के आश्रम में नौ घंटे तक कार्रवाई कर 41 लड़कियों को छुड़ाया। इनमें से से ज्यादातर लड़कियां नाबालिग थीं। कार्रवाई के वक्त आश्रम में 168 महिलाएं मौजूद थीं। इनमें से करीब 40 नाबालिग थीं। इनमें से 32 वर्षीय महिला ने कहा, 'बाबा वीरेंद्र देव उसके साथ कई बार दुष्कर्म कर चुका है।' एक महिला ने कहा, 'बाबा ने उसे कहा था वह उसकी 16,000 रानियों में से एक है। उसने मेरे साथ कई बार दुष्कर्म किया।' छत से कूदी थी एक लड़की...

- स्थानीय लोगों के मुताबिक, उन्हें यहां गलत काम होने का शक पहली बार तब हुआ, जब आश्रम की छत से कूद कर युवती ने खुदकुशी कर ली।
- कुछ दिन बाद एक और युवती ने जान देने की कोशिश की, लेकिन वह बच गई। दोनों घटनाओं के बाद यूनिवर्सिटी को जेल की तरह बदल दिया गया था। यहां 24 घंटे कड़ा पहरा रहता था।

दरी-चादर की दीवार बनाकर 2 बसों में चढ़ाया
- महिला आयोग व चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के ज्वाइंट रेस्क्यू ऑपरेशन में आश्रम में मौजूद 170 से ज्यादा महिला और लड़कियों में से 41 नाबालिग लड़कियों को निकालकर शेल्टर होम पहुंचाया गया।

- मीडिया और लोगों की नजरों से बचाने के लिए पहले पुलिस माइक से एलान करती रही कि इस इलाके में फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी पर पूरी तरह रोक है, लेकिन विजय विहार की इस गली में कई दर्जन कैमरे लगातार आश्रम के गेट पर दिनभर नजर जमाए थे। फिर लड़कियों को बाहर निकालने के लिए आश्रम के दरवाजे से बस के बीच एक ह्यूमन चेन बनाकर चादर और दरियों की एक दीवार बना दी गई, जिसके पीछे से छिपाकर सभी लड़कियों को बस में चढ़ाया गया।

- महिला आयोग की प्रेसिडेंट स्वाति मालीवाल ने कहा कि आज रेड के दौरान दवाओं का एक जखीरा मिला है।
- चाइल्ड वेलफेयर कमेटी ने एक-एक बच्ची का इंटरव्यू किया। उनकी मेडिकल जांच हुई। सब डरी हुई थीं, कई तो एक शब्द भी नहीं बोल रही थीं। कुछ बेहद धीमी आवाज में बोली कि वो वहां ज्ञान पाने और मोक्ष के लिए आई हैं।

आगे की स्लाइड्स में पढ़िए रहीम की तरह चल रहा था इस बाबा का आश्रम...

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: raam rhim ki trh aashrm chala raha thaa baba, 28 saal ki ladkiyan hoti thin sevikaen
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×