पानीपत

--Advertisement--

शाह की रैली से पहले टेंशन में सरकार, जाटों ने किए हजारों ट्रैक्टर के रजिस्ट्रेशन

शाह की रैली से पहले टेंशन में सरकार, जाटों ने किए हजारों ट्रैक्टर के रजिस्ट्रेशन

Danik Bhaskar

Feb 09, 2018, 12:58 PM IST
पिछले वर्ष जाटों द्वारा मनाए ग पिछले वर्ष जाटों द्वारा मनाए ग

पानीपत। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की 15 फरवरी को जींद में होने वाली बाइक रैली के विरोध में अखिल भारतीय जाट संघर्ष समिति ने गतिविधियां तेज कर दी है। जाट नेता यशपाल मलिक के आह्वान पर जिलेवार ट्रैक्टरों का रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। इन गतिविधियों ने सरकार की टेंशन बढ़ा दी है। शाह की रैली को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न करवाना सरकार की प्रतिष्ठा बन गया है। इससे पहले हरियाणा में जाट आरक्षण की मांग को लेकर कई बार धरने प्रदर्शन हो चुके हैं। प्रदर्शन हिंसक भी रहे, जिसकी वजह से सरकार की काफी किरकिरी हुई। इस बार हरियाणा सरकार कतई नहीं चाहेगी कि राष्ट्रीय अध्यक्ष की रैली में उनकी किरकिरी है। इस वजह से पुलिस को हाईअलर्ट पर रखा गया है। पैरामिलिट्री फोर्स भी बुलाई गई है। जिलेवार शुरू हुए रजिस्ट्रेशन...

- गौरतलब है कि जाट नेता यशपाल मलिक ने 7 फरवरी को जसिया में बैठक कर ऐलान किया था कि अमित शाह की बाइक रैली में जाट ट्रैक्टर लेकर उसने जवाब मांगने जाएंगे। वे पूछेंगे कि आरक्षण व नौकरियों के वायदों का क्या हुआ।
- मलिक के इस आहवान के बाद रोहतक, जींद, कैथल में ट्रैक्टरों के रजिस्ट्रेशन शुरू हो गए हैं, वहीं कुछ जिलों में आज रजिस्ट्रेशन शुरू होंगे।
- जींद में अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य कैप्टन रणधीर चहल ने कहा कि जींद में 760 ट्रैक्टर ट्रालियों का रजिस्ट्रेशन हुआ है। इस काम के लिए जाटों द्वारा 19 टीमें लगाई गई हैं।
- कैथल में भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश उपाध्यक्ष बलवान कोटड़ा ने बताया कि यहां 1 हजार ट्रैक्टरों का रजिस्ट्रेशन हो गया है। अभी भी रजिस्ट्रेशन जारी है।
- इसी तरह सोनीपत के लाठ जोली गांव में शुक्रवार से रजिस्ट्रेशन शुरू हो रहा है। झज्जर में 200 ट्रैक्टर का रजिस्ट्रेशन हो चुका है।
- इसके अलावा कई अन्य जिलों में भी रजिस्ट्रेशन शुरू हो गए हैं।

18 फरवरी को जाट मना रहे बलिदान दिवस
- वहीं अमित शाह की रैली के तीन दिन बाद 18 फरवरी को जाट आरक्षण आंदोलन में मारे गए लोगों की याद में बलिदान दिवस मनाया जा रहा है।
- इसके लिए भी प्रदेश के हर जिले को सेक्टर में बांटा गया है।

शाह से 5 सवालों के जवाब मांगेंगे जाट
- 19 मार्च 2017 को हुए प्रदेश सरकार से संबंधित सभी मांगें कब तक पूरी होंगी।
- केंद्र के लिए लोकसभा में राष्ट्रीय सामाजिक व शैक्षणिक पिछड़ा वर्ग आयोग बिल कब तक पास हो जाएगा। उसके बाद जाट समाज को कितने दिनों में केंद्र में आरक्षण मिल जाएगा।
- प्रदेश सरकार में मंत्री कैप्टन अभिमन्यु पर अपने निजी हितों के लिए सरकारी पदों के दुरुपयोग करने पर कब तक लगाम लगाई जाएगी।
- भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला व अन्य भाजपा नेताओं के संघर्ष समिति की रैली पर हमला कराने के आरोपियों को संरक्षण देने के मामले की जांच कब कराई जाएगी।
- प्रदेश में भाईचारा तोड़ने वाले अपनी ही पार्टी के सांसदों व कार्यकर्ताओं पर भाजपा लगाम कब लगाएगी।

सरकार ने केंद्र से मांगी 150 पैरामिलिट्री की कंपनियां
- अमित शाह की रैली और जाट बलिदान दिवस के चलते पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है। सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं।
- वहीं हरियाणा सरकार ने स्थिति से निपटने के लिए केंद्र से 150 पैरामिलिट्री फोर्स की कंपनियां मांगी है।

Click to listen..