Hindi News »Haryana »Panipat» Businessman Daughter Tell The Story Of Kidnap After 13 Days

न्यूज नकिक रटतक चटकिटचत

न्यूज नकिक रटतक चटकिटचत

Manoj Kaushik | Last Modified - Dec 13, 2017, 10:06 AM IST

यमुनानगर। सागर स्टील के मालिक इंडस्ट्रलिस्ट गुरमुखदास की बेटी मुस्कान क्वात्रा को 13 दिन पहले किडनैप कर लिया गया था। वह देर रात घर भी लौट आई थी। अब मुस्कान के मजिस्ट्रेट के सामने बयान दर्ज हुए हैं। उसमें मुस्कान ने पूरी कहानी बताई है। उसने दोहराया कि उसका अपहरण हुआ। हालांकि उसके बयान उसके पिता द्वारा एफआईआर में दर्ज कराए बयान और मीडिया के सामने रखी बात से कुछ अलग हैं। इन बयानों के बाद अब पुलिस के ऊपर बदमाशों को गिरफ्तार करने का दबाव बढ़ गया है। पढ़िए क्या बयान दिए हैं मुस्कान ने...

- मैं मॉडल टाउन में मंजीत के ट्यूशन के बाहर खड़ी अपनी कार में जाकर बैठी, तो मैंने अपनी मम्मी को फोन मिलाया। तभी मेरे को महसूस हुआ कि कार के पास खड़ा एक युवक अंदर झांक रहा है।
- जब तक वह कार लॉक कर पाती, तीन अज्ञात युवक उसकी कार में बैठ गए ओर एक युवक ड्राइवर सीट पर बैठकर गाड़ी ड्राइव करने लगा। विरोध किया, तो उन्होंने उसका मोबाइल छीन लिया और धमकी दी।
- डॉ. अरुण गुप्ता के अस्पताल के पास तीनों ने उसे गाड़ी में पिछली सीट पर बिठा दिया अौर उसका मुंह नकाब से ढक दिया। इस दौरान उन्होंने उससे पूछा कि उनकी कौन-कौन सी फैक्ट्री है। उसने अपने परिवार के बारे में बताया।
- इसके बाद उन्होंने उसे लक्ष्मी सिनेमा के पास बिना नंबर की गाड़ी में बिठा लिया। बाद में वे उसे एक अंधेरे कमरे में ले गए। वहां पर जाकर उन्होंने धमकी दी कि अगर उनकी बात नहीं मानी, तो उसका एमएमएस बनाकर सोशल मीडिया पर डाल देंगे।
- इस दौरान वहां चौथा व्यक्ति आया, उसके पास चाकू था। उसने वहां पर दरी टाइप का कपड़ा काटकर उसे डराना चाहा, वे उसे मेरठ ले जाने की बातें कर रहे थे। उसे यह नहीं पता कि वह कमरा कहां पर था, जहां उन्होंने उसे बंद कर रखा था। लेकिन वहां तक पेपर मिल के सायरन की आवाज सुनाई दे रही थी।
- जिससे यह लगता है कि बदमाशों ने उसे पेपर मिल के आसपास कही पर कमरे में बंद किया हुआ था। चारों बदमाश यूपी की भाषा में बातें कर रहे थे। उनमें से एक का नाम वह गांधी ले रहे थे और एक का मन्नू।
- इस दौरान बदमाशों के सामने उसने डिप्रेशन में जाने का नाटक किया। उसने बदमाशों से कहा कि उन्हें जो पैसे चाहिए वह मिले जाएंगे। वह उसे छोड़ दें। बदमाशों ने 25 लाख रुपए लेने की बात कही और कहा कि जब वह घर पहुंच जाएगी तो घर के बाहर लाल कपड़ा टांग दे। ताकि वे समझ जाएं कि पैसे तैयार हैं।
- इसके बाद बदमाश उसे छोड़ने पर राजी हो गए। वे उसे करेटा कार में लेकर सिटी सेंटर के पास तक आए और आगे एक बदमाश कार से उतरकर उसे लक्ष्मी सिनेमा के पास खड़ी उसकी कार तक लेकर आया। यहां से वह कार लेकर अपने घर पहुंच गई। बदमाशों को वह सामने आने पर पहचान सकती है।

पिता ने एफआईआर में ये बताया था
- मेरी बेटी मुस्कान बुधवार शाम 5 बजे अपनी आई-20 कार से ट्यूशन पढ़ने निकली थी। पहली ट्यूशन 5.30 से 6.30 बजे तक है। दूसरी ट्यूशन साढ़े 6 बजे से है। बेटी दूसरी ट्यूशन पर नहीं पहुंची।
- उसका फोन भी स्विच अॉफ मिला। सात को करीब 8.20 बजे फिर फोन किया तो एक लड़के ने फोन उठाया। लड़के ने कहा कि तेरी लकड़ी मेरे कब्जे में है, बेटी चाहिए तो 1.5 करोड़ रुपए लेकर आओ।
- मैंने कहा कि रकम ज्यादा है तो उसने कहा 1 करोड़ ले आओ। लड़के ने कहा कि कल शाम 7 बजे फोन करूंगा। (29 नवंबर को गुरमुख दास ने एफआईआर में लिखवाया।)

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×