--Advertisement--

हअइउअीइादउीअ इादरील हइरजिहदर

हअइउअीइादउीअ इादरील हइरजिहदर

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2018, 02:01 PM IST
हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अ हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अ

अंबाला। सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ मीडिया के सामने आ चुके 4 जजों के मसले में हरियाणा के राजनेता भी कूद पड़े हैं। लगभग हर मसले पर बेबाकी से अपनी बात कहने वाले कैबिनेट मंत्री अनिल विज ट्वीट किया है कि मीडिया के जरिये पब्लिक के सामने आने से पहले इन चारों जजों को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए था। इसके अलावा विज ने पद्मावत फिल्म के मसले को फिर से कैबिनेट के सामने रखने की बात कही है। ये है पूरा मामला...

- बता दें कि शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठतम जजों जस्टिस जे. चेलामेश्‍वर ने जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन लोकुर और जस्टिस कुरियन जोसेफ ने मीडिया से कहा, हम चारों मीडिया का शुक्रिया अदा करना चाहते हैं। किसी भी देश के कानून के इतिहास में यह बहुत बड़ा दिन, अभूतपूर्व घटना है, क्‍योंकि हमें यह ब्रीफिंग करने के लिए मजबूर होना पड़ा है। उन्‍होंने कहा कि हमने यह प्रेस कॉन्‍फ्रेंस इसलिए की, ताकि हमें कोई यह न कह सके कि हमने आत्मा को बेच दिया है।
- इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद दो दिन से पूरे देश ही नहीं, बल्कि दुनियाभर में अच्छी-खासी बहस शुरू हो चुकी है। इसी बहस के चलते हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने भी अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।
- विज ने ट्वीट के जरिये इन चारों जजों को मीडिया के सामने आने से पहले इस्तीफा दे देने की नसीहत दी है। विज ने ट्वीट किया है, 'इट वाज बैटर इफ 4 सुप्रीम कोर्ट जज हैव रिजाइन्ड बिफोर गोइंग पब्लिक इल प्रेस।'
- इसके अलावा अनिल विज ने फिल्म पद्मावत के रिलीज के मुद्दे पर कहा, 'इस मुद्दे को वह दोबारा रखूंगा कैबिनेट के समक्ष। उसके बाद ही रिलीज पर होगा अगला फैसला।' साथ ही कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ अशोक तंवर की साइकिल यात्रा पर भी तंज कसा है कि तंवर हुड्डा को पछाड़ने के लिए साइकिल पर दौड़ लगा रहे हैं।

X
हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अहरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..